Fight Against COVID-19 : कानपुर में कोरोना की चेन तोडऩे को बड़े बाजारों में 25 तक की बंदी, शाम से खरीदारी के लिए उमड़े लोग

सोमवार सुबह लाटूश रोड के कारोबारियों ने दुकानें खोलकर अपना जरूरी सामान निकाला और फिर दुकानें बंद कर दीं

सोमवार शाम को जैसे ही हाईकोर्ट के लॉकडाउन लगाने के निर्देश की लोगों की जानकारी हुई बाजारों में खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। लोगों ने जरूरत से ज्यादा खरीदारी शुरू कर दी। सब्जी के ठेले देखते ही देखते खाली हो गए।

Akash DwivediMon, 19 Apr 2021 10:02 PM (IST)

कानपुर, जेएनएन। कोरोना की चेन तोडऩे के लिए व्यापारी अब खुद आगे आ रहे हैं। प्रदेश सरकार के 35 घंटे के लॉकडाउन के बाद सोमवार को लाटूश रोड और साइकिल मार्केट के कारोबारियों ने अपने बाजार 25 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिए। इसके बाद सराफा, लोहा, किराना, मशीनरी बाजार के कारोबारियों ने भी अपनी बंदी की घोषणा कर दी। वहीं गल्ला मंडी में बैठक के बाद तय हुआ कि मंडी 21 से 25 अप्रैल तक के लिए बंद की जाएगी।

कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों को देख व्यापारियों ने खुद ही बाजारों में भीड़ खत्म करने का निर्णय लिया है। सोमवार सुबह लाटूश रोड के कारोबारियों ने दुकानें खोलकर अपना जरूरी सामान निकाला और फिर दुकानें बंद कर दीं।

लाटूश रोड मिल एंड मशीनरी एसोसिएशन के चेयरमैन सुरेंद्र सनेजा ने बताया कि अब बाजार 26 को खुलेगा। इस बाजार में करीब छह सौ दुकानें हैं। इसके कुछ देर बाद ही लाल इमली साइकिल मार्केट के कारोबारियों ने भी सुरक्षा को लेकर दुकानें बंद कर दीं। साइकिल बाजार के अध्यक्ष इंदरजीत सिंह सरना ने कहा कि व्यापार से पहले सुरक्षा जरूरी है। इन दो बाजार के कारोबारियों द्वारा खुद की गई बंदी को देखते हुए एक के बाद एक बाजारों ने बंदी की घोषणा शुरू कर दी। यूपी सराफा एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष महेश चंद्र जैन, उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद मिश्रा, प्रमुख संयोजक कैलाश नाथ अग्रवाल, कोषाध्यक्ष गोपाल दास अग्रवाल ने 20 से 25 अप्रैल तक सराफा बाजार बंद रखने का निर्णय लिया।

पिछले शनिवार को यूपी सराफा की बंदी में शामिल न होने वाली कानपुर सराफा कमेटी के अध्यक्ष शरद बाजपेई, महामंत्री सत्येंद्र वर्मा ने भी 25 तक अपनी दुकानें बंद करने का निर्णय लिया। किराना मर्चेंट एसोसिएशन नयागंज के अध्यक्ष अवधेश बाजपेई ने भी 25 अप्रैल तक बाजार की सभी दुकानें बंद करने की घोषणा की। हटिया लोहा बाजार की लोहा व्यापार समिति के अध्यक्ष अतुल द्विवेदी की अध्यक्षता में हुई वर्चुअल बैठक में 25 अप्रैल तक दुकानों को बंद करने का निर्णय लिया गया। बैठक में अमरनाथ शुक्ला, गौरव जैन रहे। घुमनी बाजार व्यावसायिक समिति के अध्यक्ष सत्य प्रकाश अग्रवाल ने घुमनी बाजार की सभी दुकानें 24 अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की। नौबस्ता गल्ला मंडी में हुई बैठक के बाद कानपुर गल्ला आढ़तिया संघ के प्रधान सचिव ज्ञानेश मिश्रा ने बताया कि 21 से 25 अप्रैल तक गल्ला मंडी बंद रहेगी। सभी आढ़तिए अपना जो भी आर्डर है, वह 20 अप्रैल को लाद लें।

यह बाजार रहेंगे बंद

लाटूश रोड लाल इमली साइकिल मार्केट सराफा बाजार नयागंज हटिया लोहा बाजार घुमनी बाजार नौबस्ता गल्ला मंडी

लॉकडाउन की जानकारी आते ही बाजारों में भीड़ : सोमवार शाम को जैसे ही हाईकोर्ट के लॉकडाउन लगाने के निर्देश की लोगों की जानकारी हुई बाजारों में खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। लोगों ने जरूरत से ज्यादा खरीदारी शुरू कर दी। सब्जी के ठेले देखते ही देखते खाली हो गए। वहीं किराना की दुकानों पर भी खूब भीड़ रही। हालांकि बाद में लोगों को जब पता चला कि प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन लगाने से मना कर दिया है तो लोगों ने राहत की सांस ली। सोमवार शाम को लॉकडाउन लगने की सूचना मिलते ही शहर के सभी बाजारों में ग्राहकों की भीड़ जुट गई। गुमटी नंबर पांच, विजय नगर, पी रोड, बर्रा, गोविंद नगर, लाल बंगला, नवाबगंज, कल्याणपुर, रावतपुर में हर तरफ ग्राहकों की भीड़ थी। दूध, ब्रेड जैसी चीजें भी लोगों ने जरूरत से ज्यादा खरीद लीं। सब्जी के ठेलों पर आलू, प्याज के साथ जिसे जो सब्जी मिल रही थी, वह खरीद रहा था। मंगलवार को अष्टमी होने की वजह से भी बाजारों में खरीदारी करने के लिए भीड़ जुटी हुई थी। किराना की दुकानों में लोगों ने आटा, दाल, चावल जैसी चीजें खरीदीं। उत्तर प्रदेश युवा उद्योग व्यापार मंडल के महामंत्री संदीप पांडेय ने कहा कि सरकार ने लॉकडाउन ना लगाकर अच्छा किया। अगर लॉकडाउन लगता तो गरीबों को खाने तक की किल्लत हो जाती। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.