कानपुर देहात के जंगल में प्रेमी जोड़ों का अश्लील वीडियो बनाता फिर धमकाकर दुष्कर्म करने वाले को पकड़ा

आरोपित के मोबाइल फोन में मिले कई दुष्कर्म वाले वीडियो।प्रतीकात्मक फोटो
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 10:49 PM (IST) Author: Abhishek Agnihotri

कानपुर देहात, जेएनएन। रसूलाबाद क्षेत्र में प्रेमी जोड़ों का अश्लील वीडियो बनाकर वसूली करने व दुष्कर्म करने वाले आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वह असालतगंज के जंगलों में आने वाले प्रेमी जोड़ों का वीडियो बनाकर धमकाता था और फिर गलत काम करता था। आइपीएस अमिताभ ठाकुर के शिकायत करने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की है और एसपी केशव कुमार चौधरी के निर्देश पर सीओ प्रकरण की जांच कर रहे हैं।

सुनारन बगिया है मुफीद जगह

सीओ रसूलाबाद रामशरण सिंह ने बुधवार को असालतगंज निवासी प्रमोद उर्फ कल्लू यादव को गिरफ्तार किया। उसके मोबाइल को पुलिस ने खंगाला तो कई युवतियों व प्रेमी जोड़ों के अश्लील वीडियो मिले। इसके अलावा उसके द्वारा धमकाकर युवतियों से दुष्कर्म का भी वीडियो मिला। पूछताछ में उसके दो-तीन साथियों का भी पता चला है, जो इस अपराध में उसके साथ थे। वीडियो के आधार पर एसडीएम अंजू वर्मा व रसूलाबाद सीओ रामशरण सिंह ने रसूलाबाद-असालतगंज मार्ग के किनारे स्थित सुनारन बगिया से लेकर असालतगंज तक फैले जंगल का भी निरीक्षण किया।

चोरी छिपे बनाता था अश्लील वीडियो

आरोपित प्रमोद ने बताया कि उसे पता रहता था कि यहां पर आवाजाही कम होने के कारण प्रेमी जोड़े कई बार आते हैं। वह चोरी छिपे उन पर नजर रखता था। उनके अश्लील वीडियो बनाकर धमकाता था और रुपये ऐंठने के अलावा कई बार दुष्कर्म भी किया। सीओ ने बताया कि पूरे मामले की विस्तृत जांच की जा रही है, साथ ही मुकदमा दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार किया गया। एसपी केशव कुमार चौधरी ने बताया कि पूरे मामले की जांच सीओ को सौंपी गई है जो भी दोषी होगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

ग्राहक सेवा केंद्र चलाता है आरोपित

आरोपित प्रमोद क्षेत्र में ही ग्राहक सेवा केंद्र चलाता है। यहां से भी वह नजर रखता था कि कौन सी युवती युवक के साथ जंगल के रास्ते की तरफ जा रही है। कभी किसी को भनक तक न लगी कि वह यह करतूत कर रहा है।

आरोपित की लगी है चौराहे पर होर्डिंग

आरोपित कथित सपा नेता भी है और उसकी चौराहे पर होर्डिंग लगी है। क्षेत्र में वह खुद को सपा कार्यकता बताकर रौब गांठता था। वहीं सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद यादव ने बताया कि आरोपित सपा का कार्यकर्ता नहीं है और वह जो पद होर्डिंग में लिखे है, ऐसा कोई पद पार्टी में है ही नहीं। पार्टी उसके खिलाफ कार्रवाई करेगी साथ ही जानकारी की जाएगी कि आखिर उसने होर्डिंग किसके कहने पर लगाई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.