UP Panchayat Election Voting Kannauj: दो बजे तक 39.44 फीसद मतदान, फर्जी वोटिंग को लेकर प्रत्याशियों के समर्थक भिड़े

पंचायत चुनाव को लेकर मतदाताओं में उत्साह है।

कन्नौज जिले में पंचायत चुनाव के लिए 1842 बूथों पर सुबह सात से वोटिंग शुरू हो गई है। यहां 1124763 मतदाता प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला मतपेटी में कैद करने के लिए घरों से बूथों की ओर पहुंच रहे हैं।

Abhishek AgnihotriMon, 19 Apr 2021 08:56 AM (IST)

कन्नौज, जेएनएन। जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए मतदान सुबह सात बजे से शुरू हो गया है। ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतपेटियों में कैद करने के लिए मतदाता घरों से निकलकर बूथों पर पहुंचने लगे हैं। बूथों पर सुबह से कतारें लगी हैं। मतदाताओं में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। सुरक्षा के मद्​देनजर पुलिस फोर्स भी तैनात किया गया है और कोविड नियमों का पालन कराने के लिए बार-बार अपील की जा रही है। 

कन्नौज में धूप के साथ लोकतंत्र की चमक बिखर रही है, दोपहर दो बजे तक 39.44 फीसद मतदान हुआ है। इसमें कन्नौज ब्लॉक क्षेत्र में 42.39, हसेरन में 38.52, सौरिख में 38.79, छिबरामऊ में 40.98, उमर्दा में 38.00, तालग्राम में 37, जलालाबाद में 38.84 और गुगरापुर में 41.05 फीसद मतदान हो चुका है। जिले में पंचायत चुनाव में मतदान की रफ्तार काफी बेहतर है, मतदाताओं में उत्साह दिखाई दे रहा है। सुबह सात बजे से मतदान जारी है और 11:00 बजे तक सभी ब्लॉकों के बूथों में कुल 19.7 फीसद मतदान हो चुका है। छिबरामऊ के ब्लाक सौरिख के गांव गुबरिया में फर्जी मतदान को लेकर प्रत्याशियों के एजेंट और समर्थकों के बीच कहासुनी हो गई। अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. अरविंद कुमार और एडीएम गजेंद्र मौके पर पहुंचे। अफसरों के आदेश पर पुलिस ने एक एजेंट को हिरासत में लिया और भीड़ को खदेड़ दिया। बूथ के पास खड़े वाहनों के पहियों की हवा निकाल दी। सुबह से बूथों पर मतदाताओं की कतार लगी रही और मतदान का उत्साह चरम पर है। शुरुआती दो घंटे में 9:00 बजे तक 10.69 फीसद मतदान हो चुका है। इसमें कन्नौज ब्लॉक में 12.01, हसेरन में 11.24, सौरिख में 09.16, छिबरामऊ में 10.36, उमर्दा में 11.71, तालग्राम में 10.63, जलालाबाद में 11.30, गुगरापुर में 09.11 प्रतिशत वोटिंग हो चुकी है।

कन्नौज में आठ विकास खंड के 833 केंद्र के 1,842 बूथों पर गांव की सरकार बनाने के लिए 11,24,763 मतदाता हैं। सभी बूथों पर 7,368 कार्मिक मतदान कराने के लिए लगाए गए हैं। 184 पार्टियां में 736 यानी दस फीसद कार्मिक रिजर्व रखे गए हैं, जो ब्लाकों पर रहेंगे और जरूरत पडऩे पर ड्यूटी करेंगे।

प्रधान पदों पर 4,325 और जिपं पर 424 प्रत्याशी

जिला पंचायत सदस्य व ग्राम प्रधान पद पर कोई भी प्रत्याशी निर्विरोध न होने पर सभी चुनाव मैदान में हैं। जिला पंचायत सदस्य के 424 व ग्राम प्रधान के 4,325 प्रत्याशी किस्मत आजमा रहे हैं। जिला पंचायत सदस्य के कुल 28 पदों पर 424 प्रत्याशियों ने नामांकन किया था, जिसमें कोई निर्विरोध निर्वाचित नहीं हुआ था। इसलिए सभी प्रत्याशी मैदान में हैं। वहीं, 499 ग्राम पंचायत पर 4,325 प्रत्याशियों ने प्रधान पद के लिए ताल ठोंकी थी। यहां भी निर्विरोध की स्थिति नहीं रही। इसलिए सभी प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। वहीं, 6,327 ग्राम पंचायत सदस्य पद पर 3251 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हुए थे, जबकि 2,166 चुनाव लड़ रहे हैं। कई वार्डों से पर्चा दाखिल नहीं किया था। इसी तरह आठ ब्लाक पर 676 क्षेत्र पंचायत सदस्य पद पर पांच निर्विरोध हुए थे, जबकि 2,880 प्रत्याशी मैदान में दांव आजमा रहे हैं। इनके भाग्य का फैसला दो मई को होगा।

इन ब्लाकों पर इतने बूथ

ब्लाक -ग्रापं-बूथ

कन्नौज 84-240

जलालाबाद 35-132

गुगरापुर 23-95

तालग्राम 67-250

छिबरामऊ 96-315

सौरिख 68-237

उमर्दा 90-403

हसेरन 36-170

पहचान के लिए इनमें से कोई एक विकल्प जरूरी

उपजिला निर्वाचन अधिकारी गजेंद्र कुमार ने बताया कि पहचान के लिए पहचान पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पैनकार्ड, केंद्र व राज्य सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, स्थानीय निकाय या पब्लिक लिमिटेड कंपनी के कर्मियों को जारी फोटोयुक्त पहचान पत्र, बैंक व पोस्ट आफिस की फोटोयुक्त पासबुक, फोटोयुक्त संपत्ति संंबंधी मूल अभिलेख या पट्टा विलेख, रजिस्ट्रीकृत डीड आदि, अद्यतन फोटोयुक्त किसान बही, फोटोयुक्त पेंशन अभिलेख, भूतपूर्व सैनिक पेंशन बुक, पेंशन भुगतान आदेश, वृद्धा पेंशन आदि, फोटोयुक्त स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पहचान पत्र, फोटोयुक्त शस्त्र लाइसेंस, फोटोयुक्त शारीरिक रूप से आश्क्त होने का प्रमाण पत्र, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना के अंतर्गत निर्गत फोटोयुक्त जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अंतर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, सांसदों, विधायक, विधान परिषद सदस्यों को जारी किए गए सरकारी पहचान पत्र व राशन कार्ड समेत 17 विकल्प हैं, इनमें किसी एक का इस्तेमाल कर सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.