UP Budget 2021: जानिए-कानपुर में 1.43 अरब से बनेंगी पांच कौन सी सड़कें, कैसे मिली स्मार्ट सिटी काे रफ्तारU

कानपुर शहर में विकास कार्यों को गति मिलेगी।

उत्तर प्रदेश सरकार का बजट आने पर कानपुर शहर में विकास की सौगात मिली है। कई योजनाओं के साथ कार्यों के लिए धन आवंटित होने से शहर के विकास की गति मिलेगी। स्मार्ट सिटी के लिए दो हजार करोड़ रुपये मंजूर हुए हैं।

Abhishek AgnihotriTue, 23 Feb 2021 08:33 AM (IST)

कानपुर, जेएनएन। शहर की सड़कों की दशा सुधारने और अन्य जनपदों की कनेक्टिवटी बढ़ाने के लिए यूपी सरकार के बजट में लोक निर्माण विभाग को भारी धनराशि मिली है। इससे उम्मीद जताई जा रही है कि शहर की पांच प्रमुख सड़कें बनाई जाएंगी।

लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता कार्यालय से सौरिख-इंदरगढ़-मकनपुर-अरौल मार्ग का चौड़ीकरण, बिठूर सैबसू मार्ग वाया खेरेश्वर मंदिर राधन मार्ग का चौड़ीकरण, टौंस-तिलसहरी-छतमरा मार्ग को दो लेन, न्यू चकेरी एयरपोर्ट से एनएच टू तक फोरलेन, राष्ट्रपति के लिए बन रहे वीवीआइपी कक्ष, पार्किंग, बाउंड्रीवॉल व पार्किंग पहुंच मार्ग के निर्माण कार्य के लिए 1.43 अरब रुपये भेजा गया है। न्यू चकेरी एयरपोर्ट की सड़क बनने से शहर में लगने वाली इकाइयों के उद्योगपतियों का आना-जाना आसान हो जाएगा। इसके साथ ही खेरेश्वर मार्ग के दो लेन के होने से कन्नौज से बिठूर जाने वाले लोगों के बिठूर-खेरेश्वर मार्ग बाईपास की तरह ही काम करेगा।

शिवराजपुर से डेढ़ किमी पहले सरैयाघाट से खेरेश्वर मंदिर होते हुए वाहन सवार बिठूर निकल जाएंगे। इससे पांच किमी का रास्ता कम हो जाएगा। साथ ही रसूलाबाद से शुक्लागंज, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली समेत अन्य जिलों के लिए आने वाले भी जीटी रोड स्थित सरैयाघाट क्रासिंग से मुड़कर खेरेश्वर मंदिर वाली सड़क होते हुए बिठूर पहुंच जाएंगे। पीडब्लयूडी के मुख्य अभियंता दिवाकर शुक्ल कहते हैं कि शहर की पांच प्रमुख सड़कों का प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा गया था। बजट में सड़कों के लिए धनराशि मिलने की उम्मीद है।

यह भी सड़कें बनेंगी

ट्रांसपोर्टनगर चौराहा से जूही नहरिया तक जाने वाली सड़क ट्रांसपोर्टनगर चौराहा से जूही बाकरगंज चौराहा होते हुए जूही नहरिया तक सड़क अर्मापुर नहर पटरी से पनकी नहर पटरी तक सड़क न्यू ट्रांसपोर्टनगर में आठ किमी की ट्रक ले बाई सड़क पनकी रेलवे स्टेशन पुल की मरम्मत स्टील अथॉरिटी इंडिया के सामने एक किमी की सड़क

स्मार्ट सिटी के कार्यों को मिलेगी रफ्तार

स्मार्ट सिटी योजना को 2000 करोड़ रुपये मिलने से इसके कार्यों को अब रफ्तार मिलेगी। कानपुर समेत प्रदेश के 10 शहर स्मार्ट सिटी योजना में चयनित हैं। प्रदेश में कानपुर के अलावा लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, आगरा, सहारनपुर, बरेली, झांसी, मुरादाबाद, अलीगढ़ स्मार्ट सिटी योजना में प्रस्तावित हैं। कानपुर में यूं तो 21 कार्य स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत चल रहे हैं, लेकिन इस समय बड़े प्रोजेक्ट में माल रोड पर बनाई जा रही स्मार्ट रोड में प्रमुख रूप से कार्य चल रहा है।

दूसरी ओर नगर निगम में कंट्रोल एंड कमांड सेंटर में अब भी कुछ कार्य रुके हुए हैं, जिन्हें पूरा करना है। इस बजट से इसके कार्य पूरे किए जा सकेंगे। फूलबाग में लाइट एंड साउंड सेंटर का काम आने वाले समय में स्मार्ट सिटी योजना का बड़ा हिस्सा है। इसके लिए टेंडर भी जारी हो चुका है। पालिका स्टेडियम में बनने वाला इनडोर स्टेडियम भी है, जिसकी डीपीआर बन चुकी है। हालांकि अभी टेंडर नहीं हुआ है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.