बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने धुना

जेएनएन कानपुर बर्रा में महिला से टप्पेबाजी करने वाले शातिरों को लोगों ने पकड़कर पीटने के बाद पुलिस को सौंप दिया।

JagranPublish:Fri, 25 Jun 2021 02:15 AM (IST) Updated:Fri, 25 Jun 2021 02:15 AM (IST)
बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने धुना
बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने धुना

जेएनएन, कानपुर : बर्रा में महिला से टप्पेबाजी करने वाले शातिरों को लोगों ने पकड़कर पीटनेके बाद पुलिस के हवाले कर दिया। फत्तेपुर दक्षिण निवासी प्रदीप सिंह की पत्नी दिव्या सर्वोदय नगर स्थित एक नर्सिंगहोम में नौकरी करती है। टेंपो से वह घर लौट रही थीं। उनके साथ रावतपुर से एक युवक सवार हुआ था। रास्ते में मेल जोल बढ़ाकर उसने बातचीत करनी शुरू की और खुद को परेशान होने और एक बाबा की तलाश करने की बात कही थी। बर्रा बाईपास पर टेंपो रुकते ही दिव्या उतरीं और आगे बढ़ी ही थी कि वहां एक और युवक नजर आया। टेंपो में साथ बैठकर आए शातिर ने दूसरे युवक को पहुंचे हुए बाबा बताते हुए उनके पैर छुए। महिला भी शातिर के झांसे में आ गई। बाईपास पार करके महिला पेट्रोल पंप के पास खड़ी होकर उन लोगों से बात कर रही थी। तभी बाबा बने शातिर ने महिला के चेहरे पर भभूत डाली। जिसके बाद महिला अ‌र्द्ध बेहोशी की हालत में हो गई। इस दौरान महिला ने अपने पायल, झुमके, चेन और पर्स जिसमें दस हजार रुपये थे। शातिरों को सौंप दिया। तभी ड्रामा देखकर वही सब्जी का ठेला लगाने वाले दुकानदार ने शोर मचाया तो लोगों की भीड़ दौड़ी सब्जी दुकानदार ने लोगों की मदद से शातिर को पकड़ा और धुनाई के बाद पुलिस के सुपुर्द कर दिया। थाना प्रभारी बर्रा हरमीत सिंह ने बताया कि आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। पीड़िता की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। सैनिक बनकर टेनरीकर्मी से 30 हजार रुपये ठगे, कानपुर : चकेरी में सैनिक बनकर आरोपित ने टेनरीकर्मी से 30 हजार रुपये ठग लिए है। चकेरी के संजीव नगर निवासी टेनरी कर्मी मुकेश यादव ने बताया कि बीते 20 जून को फेसबुक पर एक स्कूटी का विज्ञापन देखा था। जिसमें दिए गए नंबर पर संपर्क करने पर उसने खुद को सैनिक बताया। इस दौरान 25 हजार रुपये में स्कूटी बेचने की बात तय हुई। जिसके बाद उन्होंने स्कूटी ट्रांसफर करने के नाम पर कई बार में अपने खाते से करीब 30 हजार रुपये जमा करवाए। स्कूटी नहीं मिलने पर और उसके द्वारा और रुपये की मांग करने पर उन्हें अपने साथ हुई धोखाधड़ी का एहसास हुआ। थाना प्रभारी अमित तोमर ने बताया कि तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्जकर कार्रवाई की जाएगी। अवसाद में छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान, कानपुर : एमबीए में स्वजन द्वारा प्रवेश नहीं दिलाने से अवसाद में आकर छात्रा फांसी लगाकर जान दे दी। पनकी थानाक्षेत्र के बरगदिया पुरवा निवासी निजी फर्मकर्मी राकेश वर्मा की बेटी नमिता बीकाम करने के बाद एमबीए की तैयारी कर रही थी। स्वजन ने बताया कि बेटी एमबीए में एडमिशन के लिए जिद कर रही थी, लेकिन आर्थिक दिक्कतों के चलते उन्होंने अगली साल प्रवेश कराने के लिए कहा। इसके बाद से वह अवसाद में रहने लगी। बुधवार रात किसी समय बेटी ने कमरे में फांसी लगा ली। पिता ने बताया कि बेटी पढ़ाई में काफी होशियार थी। थाना प्रभारी दधिबल तिवारी ने बताया कि स्वजन ने डिप्रेशन और पढ़ाई प्रभावित होने के कारण आत्महत्या करने की जानकारी दी है। क्यूआर कोड स्कैन करा इंजीनियर के खाते से उड़ाए 75 हजार, कानपुर : गोविद नगर में साइबर ठगों ने सामान खरीदने के लिए भुगताना का झांसा देकर क्यूआरकोड स्कैन कराया। इसके बाद शातिर ने गुजैनी एफ ब्लाक निवासी इंजीनियर शिखा सिंह के खाते से 75 हजार रुपये की रकम उड़ा दी। पीड़िता ने गोविद नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। थाना प्रभारी गोविद नगर अनुराग मिश्र ने बताया कि तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज की गई है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी। क्यूआर कोड स्कैन करते ही खाते निकल गए 25 हजार : कानपुर : गोविद नगर के गुजैनी निवासी प्रदीप पांडेय ने बताया कि उनके मित्र दीनदयालपुरम निवासी विजय भट्ट मिलने आए थे। इसी बीच विजय के मोबाइल पर उनके भांजे अनुज की काल आयी। काल करके उसने गूगल पे अकाउंट होने की जानकारी ली। इस पर विजय ने इन्कार करते हुए प्रदीप से भांजे की बात कराई। अनुज ने प्रदीप से कहा कि एक दोस्त के 25 हजार रुपये आने हैं। एक क्यूआर कोड वाट्सएप पर भेज रहे हैं। स्कैन कर लीजिएगा। स्कैन करते ही प्रदीप के एसबीआइ खाते से 25 हजार की रकम उड़ गई। उन्होंने गोविद नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पीएसी जवान के बंद मकान से पांच लाख की चोरी, कानपुर : चकेरी थाना क्षेत्र के श्याम नगर ई ब्लाक निवासी पीएसी जवान सुभाष चंद्र द्विवेदी के बंद मकान से चोरों ने नकदी व जेवर समेत करीब पांच लाख रुपये का माल पार कर दिया। घटना के वक्त वह परिवार के साथ पैतृक गांव रायबरेली के समौधा गए थे। वहां से घर लौटने पर उन्हें चोरी की जानकारी होने पर उन्होंने पुलिस से शिकायत की। थाना प्रभारी अमित तोमर ने बताया कि रिपोर्ट दर्जकर चोरों की तलाश की जा रही है।