top menutop menutop menu

Mob Lynching का Video Viral होने के बाद बिंदकी में तनाव, युवक की हालत गंभीर Fatehpur News

Mob Lynching का Video Viral होने के बाद बिंदकी में तनाव, युवक की हालत गंभीर Fatehpur News
Publish Date:Wed, 16 Oct 2019 01:26 PM (IST) Author: Abhishek

फतेहपुर, जेएनएन। शहर के बिंदकी कस्बे में उस समय तनाव का माहौल बन गया जब मॉब लिचिंग का वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में भीड़ को वर्ग विशेष के युवक को पेड़ से बांधकर बेरहमी से पीटते और मरणासन्न हालत में छोड़ते देखकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है। वहीं युवक को गंभीर हालत में कानपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कहा जा रहा युवक को कथित लूट के प्रयास के आरोप में पीटा गया है। तनाव की स्थिति को देखते हुए पुलिस ने कार्रवाई शुरू की है।

कोतवाली बिंदकी के बजरिया मोहल्ला स्थित आटा चक्की में आटा लेने आये युवक का कारखाना मालिक से विवाद हो गया था। मारपीट में आटा चक्की मालिक सफी मोहम्मद का सिर फट गया और ठठाराही मोहल्ला निवासी विकास यादव को भी चोटें आईं। आटा कारखाना मालिक ने युवक पर तमंचा लगा लूट का आरोप लगाते हुए शोर मचा दिया। बचकर भाग रहे युवक को भीड़ ने पकड़कर पेड़ पर रस्सी से बांध दिया और पीटकर बेदम कर दिया। पुलिस ने युवक को भीड़ से छुड़ाकर सीएचसी भेजा। हालत गंभीर होने के चलते परिजनों ने युवक को गंभीर हालत में कानपुर के नर्सिंग होम में भर्ती कराया है।

बुधवार को युवक की मौत की अफवाह फैलने और मॉब लिंचिंग का वीडियो वायरल होते ही तनाव का माहौल बन गया। लोगों की भीड़ युवक के घर पर जमा हो गई और भाजयुमो अध्यक्ष मधुराज विश्वकर्मा भी पहुंच गए। हालांकि परिजनों ने अस्पताल में युवक की हालत गंभीर होने की जानकारी दी तो लोग शांत हुए। कोतवाली प्रभारी नंदलाल सिंह ने वीडियो वायरल होने के पुष्टि करते हुए कहा युवक के भाई वीरेंद्र यादव की तहरीर पर 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है, वायरल वीडियो में युवक को पीटने वालों की पहचान की जाएगी। 3 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस हस्तक्षेप के बाद युवक उर्सला में भर्ती

घायल युवक को परिजन पुलिस के साथ उर्सला कानपुर ले गए। यहां कारखाना मालिक सफी मोहम्मद के रिश्तेदारों ने भर्ती होने से रोकने का प्रयास किया। विवाद होने की दशा में पुलिस के हस्तक्षेप के बाद युवक को भर्ती कराया गया। दरअसल कारखाना मालिक भी उर्सला में भर्ती हैं। कोतवाली प्रभारी नंदलाल सिंह ने कानपुर उर्सला में विवाद होने की पुष्टि की है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.