जयपुरिया क्रासिंग पर पुल निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू, वर्ष के अंत तक शुरू होगा निर्माण

पुल बनने से जयपुरिया रेलवे क्राङ्क्षसग पर लगने वाले जाम की समस्या समाप्त हो जाएगी टेंडर डाक्युमेंट बनाने का कार्य सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक की ओर से शुरू कर दिया गया है। इसी साल निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा।

Abhishek AgnihotriTue, 09 Nov 2021 01:57 PM (IST)
प्रोजेक्ट पर कुल 60 करोड़ रुपये खर्च होने हैं।

कानपुर, जागरण संवाददाता। जयपुरिया रेलवे क्रासिंग पर ओवरब्रिज निर्माण के लिए अगले हफ्ते टेंडर मांगे जाएंगे। इसी हफ्ते उप्र सेतु निर्माण निगम और रेलवे की सेतु निर्माण इकाई संयुक्त रूप से मौका मुआयना करेगी। इसी के साथ तय हो जाएगा कि रेलवे अपने हिस्से का काम कब शुरू करेगा। निगम प्रबंधन की कोशिश है कि विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से पहले पुल के निर्माण का कार्य शुरू हो जाए। इस प्रोजेक्ट पर कुल 60 करोड़ रुपये खर्च होने हैं। शासन ने 12 करोड़ रुपये आवंटित कर दिए हैं।

पुल बनने से जयपुरिया रेलवे क्रासिंग पर लगने वाले जाम की समस्या समाप्त हो जाएगी, क्योंकि इस क्रासिंग पर ओवरब्रिज न होने की वजह से ही जाम लगता है। जाम की समस्या के समाधान के लिए ही ओवरब्रिज के निर्माण को राज्य सरकार ने मंजूरी दी है। पेयजल लाइन, सीवर लाइन और बिजली के पोल, ट्रांसफार्मर की शिफ्टिंग और पेड़ों को काटने का कार्य जल्द ही संबंधित विभागों द्वारा शुरू किया जाएगा। शासन द्वारा आवंटित धनराशि केस्को, जल निगम, वन विभाग को दी जाएगी ताकि ये विभाग इन सुविधाओं की शिफ्टिंग का कार्य शुरू कर सकें।

इसके साथ ही टेंडर डाक्युमेंट बनाने का कार्य सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक की ओर से शुरू कर दिया गया है। महाप्रबंधक राकेश सिंह का कहना है कि रेलवे के सेतु निर्माण इकाई को पत्र लिखा गया है। जल्द ही रेलवे अफसरों के साथ मौके का मुआयना किया जाएगा। इसके बाद टेंडर मांगे जाएंगे। कोशिश है कि हर हाल में इसी साल निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.