रिमांड पर जेल से बाहर आया सूर्यांश

पत्नी आंचल की मौत के मामले में जेल में बंद मसाला कारोबारी सूर्यांश से 12 घंटे पूछताछ।

JagranFri, 03 Dec 2021 01:23 AM (IST)
रिमांड पर जेल से बाहर आया सूर्यांश

जागरण संवाददाता, कानपुर: पत्नी आंचल की मौत के मामले में जेल में बंद मसाला कारोबारी सूर्यांश खरबंदा को पुलिस ने 12 घंटे की रिमांड पर लेकर पूछताछ की। पहले थाने में उससे घटनाक्रम के बारे में जानकारी हासिल की गई और बाद में उसे उसके घर पर ले जाया गया। यहां से सूर्यांश की निशानदेही पर पुलिस ने एक डायरी बरामद की, जिसमें आंचल की राइटिग है। हस्तलेखन मिलान के लिए पुलिस इसे बड़ा सबूत मान रही है। रिमांड पूरी होने के बाद आरोपित को जेल भेज दिया गया।

आंचल खरबंदा का शव 19 नवंबर की रात अशोक नगर स्थित उसकी ससुराल के कमरे में स्थित बाथरूम के पंखे में लटकता मिला था। पुलिस ने दहेज हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज करके आंचल के पति सूर्यांश खरबंदा और उसकी मां निशा खरबंदा को जेल भेजा था। अदालत के आदेश पर गुरुवार को पुलिस ने सूर्यांश को 12 घंटे की पुलिस रिमांड पर लिया। रिमांड सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक के लिए था। पुलिस सुबह करीब सात बजे उसे जेल से सीधे थाना लेकर आई। यहां पर उससे वायरल हुए आडियो-वीडियो, पूर्व के घटनाक्रमों, समझौता में शामिल लोगों के बारे में पूछताछ की। करीब तीन से चार घंटे तक उसे थाने में रखकर ही पूछताछ की गई। इसके बाद पुलिस सूर्यांश को उसके अशोक नगर स्थित घर पर ले गई। यहां कमरे की एक अलमारी से पुलिस ने आंचल की एक डायरी बरामद की। सूर्यांश ने बताया कि डायरी में आंचल की हैंडराइटिग है। उसने बताया कि वह आंचल को कोकाकोला क्रासिग के पास एक कैफे खुलवाना चाहता था। इस डायरी में आंचल ने व्यापार से संबंधित तमाम बाते लिखी हुई थीं। पुलिस इस डायरी को फोरेंसिक लैब भेजेगी, ताकि मृत्यु पूर्व आंचल द्वारा जान का खतरा बताते हुए जो नोट्स लिखे गए थे, उसका हस्तलेखन मिलान किया जा सके।

----------------------

मोबाइल डाटा ट्रांसफर किया

सूर्यांश की रिमांड के दौरान फोरेंसिक टीम भी थाने पर मौजूद रही। फोरेंसिक टीम ने सूर्यांश से उसका मोबाइल लाक खुलवाया, जिसके बाद उसका पूरा डाटा फोरेंसिक टीम ने ट्रांसफर किया। सूर्यांश के मोबाइल में कई वीडियो और काल रिकार्डिंग मौजूद मिली हैं, जोकि जांच को एक नई दिशा दे सकती है। ---------------

आज होगा सीन रिक्रिएशन

फोरेंसिक टीम शुक्रवार को आंचल प्रकरण में सीन रिक्रिएशन करेगी। इसके जरिए फोरेंसिक टीम देखेगी कि आंचल ने आत्महत्या की है या उसकी हत्या हो सकती है। इसके लिए टीम आंचल के वजन के बराबर एक पुतले का प्रयोग करेगी। फोरेंसिक टीम शुक्रवार को घटना स्थल पर क्राइम सीन रीक्रिएट करेगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.