दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Shocking Incident: ममता पर भारी पड़ा शौक, कार खरीदने के लिए मां बन गई कुमाता और बेच दिया तीन माह का बेटा

कन्नौज में सामने आई चौंकाने वाली घटना। प्रतीकात्मक फोटो

कन्नौज के तिर्वा कोतवाली क्षेत्र के सतौरा गांव में घटना की जानकारी के बाद गांव वाले भी अवाक हैं। नानी ने जानकारी के बाद कोतवाली जाकर तहरीर देकर घटना बताई तो पुलिस वाले भी सन्न रह गए और जांच शुरू की है।

Abhishek AgnihotriThu, 13 May 2021 01:21 PM (IST)

कानपुर, जेएनएन। डॉक्टर्स की मानें तो नौ माह कोख में बच्चे को रखने वाली एक मां को उसे जन्म देते समय 20 हड्डियों के एक साथ टूटने बराबर दर्द होता है। इतना दर्द सहन करके एक मां जन्मे बच्चे को सीने से चिपकाकर सहलाती है और कभी उसे खुद से दूर न होने की दुआ भगवान से मांगती है। जानवर भी जब अपने बच्चे को जन्म देते हैं तो उसपर अपनी जीभ सहलाकर अगाध प्यार दर्शाता है और कोई उसे दूर करने का प्रयास करता है तो उसपर सीगों से हमला कर देते हैं। मां और बेटे के बीच ऐसे प्यार पर ही एक कहावत काफी प्रचलित है.., पूत तो कपूत हो सकता है लेकिन माता कभी कुमाता नहीं हो सकती है। लेकिन, कन्नौज में बरसों पुरानी यह कहावत झूठी साबित हो गई।

मां और पिता ने कर दिया मासूम बेटे का सौदा

कन्नौज के तिर्वा कोतवाली क्षेत्र के सतौरा गांव में भौतिक सुख का ख्वाब पूरा करने के लिए मां ने ममता तो पिता ने अपने अंश का सौदा कर दिया। कार खरीदने के लिए दंपती ने तीन माह के नवजात को बेच दिया। बच्चे के नाना और नानी ने विरोध किया तो उन्हें जान से मारने की धमकी दी। नाना नानी ने थाने में जाकर शिकायत की तो मामला सुनकर पुलिस वाले भी सन्न रह गए। गांव पहुंचकर पुलिस अफसरों ने मां और पिता से पूछताछ की तो घटना सामने आई है। इस प्रकरण की जानकारी के बाद गांव में भी लोग अवाक है और चर्चाएं भी कर रहे हैं।

डेढ़ लाख रुपये मिलने पर खरीदी कार

सतौर गांव में रहने वाली महिला ने तीन माह पूर्व बेटे को जन्म दिया था। गुरसहायगंज निवासी उसकी मां ने पुलिस को बताया कि दो दिन पहले फोन पर जब बेटी से नाती के बारे में पूछा तो उसने सही जवाब नहीं दिया। इसपर उसे संदेह हुआ तो गांव जाकर जानकारी की। बेटी और दामाद से पूछा तो पता चला कि दोनों ने गुरसहायगंज के एक व्यापारी को अपने बेटे का सौदा डेढ़ लाख रुपये में कर दिया। नानी का आरोप है कि बेटी और दामाद ने तीन माह का बेटा सिर्फ इसलिए बेच दिया क्योंकि उसे कार खरीदनी थी। दस दिन पहले उसने बेटे को बेचने से मिले रुपयों से पुरानी कार भी खरीद ली थी। इस बात की भनक दोनों ने आठ दिन तक किसी को नहीं होने दी।

दामाद ने दी जान से मारने की धमकी

गांव आकर जब नानी को पूरी बात पता चली तो उन्होंने पुलिस में शिकायत करने की बात कहते हुए बेटे को वापस लाने का दबाव बनाया। इसपर नाराज दामाद ने उसे व उनके पति को जान से मारने की धमकी दी। इसपर वह कोतवाली पहुंची और पुलिस को तहरीर देकर बेटी और दामाद पर नाती को बेच देने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है, दोषी पक्ष पर कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.