River Accident In UP: फर्रुखाबाद में नहाने के लिए गंगा में उतरे चार बच्चे डूबे, दो बालिकाएं बहीं, शेष सुरक्षित

गंगा में डूबने के बाद लापता बालिकाएं राेशना और रिका।

रविवार सुबह संतोष व बहारनगर पखना निवासी जबर सिंह के स्वजन फसल कटाई के लिए खेत पर आए हुए थे। दोपहर में सभी खाना खाकर आराम करने लगे और बच्चे पास से उतर रही गंगा में नहाने के लिए उतर गए।

Shaswat GuptaSun, 18 Apr 2021 09:24 PM (IST)

फर्रुखाबाद, जेएनएन। महमदीपुर गांव के पास गंगा में नहाने के दौरान चार बच्चे डूब गए। संयोग से दो बच्चे तो किसी तरह बाहर आ गए, लेकिन दो बालिकाएं गहरे पानी में फंसकर तेज धार में बह गईं। पुलिस व प्रशासन के लोग मौके पर पहुंच गए हैं। गोताखोर गंगा में डूबी बालिकाओं की तलाश कर रहे हैैं।

इस तरह हुआ हादसे का आभास: कुआंखेड़ा वजीर आलम ग्राम पंचायत के मजरा चंगामई-गंगईया निवासी संतोष राजपूत के खेत गांव महमदीपुर के पास हैं। रविवार सुबह संतोष व बहारनगर पखना निवासी जबर सिंह के स्वजन फसल कटाई के लिए खेत पर आए हुए थे। दोपहर में सभी खाना खाकर आराम करने लगे और बच्चे पास से उतर रही गंगा में नहाने के लिए उतर गए। अचानक संतोष की 11 वर्षीय पुत्री रिका, जबर सिंह की पुत्री 10 वर्षीय रोशनी और तीन वर्षीय संध्या व पांच वर्षीय पुत्र करन पानी में डूब गए। गंगा तट से खेत दूर होने के कारण बच्चों की चीख स्वजन तक नहीं पहुंच सकी। रिका व रोशनी पानी की तेज धार में बह गईं, जबकि संध्या व करन बहते हुए दूसरे किनारे पर जा लगे। दोनों के रोने की आवाज सुनकर आसपास खेतों में काम कर रहे लोग वहां पहुंचे, तब हादसे का पता चला। गंगा के इस छोर से आवाज देकर ग्रामीणों ने उनके परिवार वालों को बताया। सभी लोग डूबे बच्चों की खोजबीन में जुट गए। कायमगंज कोतवाली की कुआंखेड़ा चौकी प्रभारी दीपक भाटी फोर्स के साथ पहुंचे। प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार मिश्रा ने बताया कि बच्चों की तलाश कराई जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.