संक्षेप में पढ़िए - कानपुर नगर की क्राइम और अन्य घटनाओं से जुड़ी खबरें

कानपुर शहर में प्रतिदिन ही शिक्षा राजनीति और अन्य गतिविधियां होती ही रहती हैं। हम खबरों की इस कड़ी में आपको क्राइम और अन्य घटनाओं की ऐसी ही संक्षेप खबरें उपलब्ध कराते हैं। आज भी ऐसी कई खबरें सामने आईं। आइए जानते हैं

Shaswat GuptaSun, 28 Nov 2021 07:06 AM (IST)
कानपुर में हुई गतिविधियों से जुड़ी खबरों की सांकेतिक तस्वीर।

नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले शातिर गिरफ्तार 

नगर निगम में सुपरवाइजर की नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले दो युवकों को कल्याणपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके कब्जे से दो फर्जी नियुक्त पत्र बरामद किए हैं। आरोपितों से पूछताछ के आधार पर मिली जानकारी पर पुलिस जांच को आगे बढ़ा रही है। 

 रायपुरवा निवासी वीरेंद्र कुमार के मुताबिक पांच माह पहले उनकी मुलाकात बलिया के सिकंदरा में रहने वाले सोनू से हुई थी। सोनू ने उन्हें एक लाख रुपए में नगर निगम में सुपरवाइजर की नौकरी दिलाने झांसा दिया। बातों में आकर 20 नवंबर को उन्होंने इंदिरा नगर में सोनू को 30 व अपने दोस्त ईशान से 50  हजार रुपए दिलवाए। शेष रकम नियुक्ति पत्र मिलने के बाद देने की बात हुई। कुछ दिनों बाद सोनू ने अपने साथी मनोज के साथ मिलकर उन्हें फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिए। नगर निगम कार्यालय  में पहुंचने पर उन्हें अपने साथ हुई ठगी की जानकारी हुई। कल्याणपुर इंस्पेक्टर अशोक कुमार दुबे ने बताया कि सर्विलांस टीम की मदद से सोनू व उसके साथी मनोज को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। 

प्रापर्टी के विवाद में मारपीट व हंगामा 

 चकेरी के परदेवनपुरवा निवासी प्रेम जायसवाल ने बताया कि उनकी पैतृक संपत्ति के चार हिस्से थे। दो भाइयों की मौत के बाद भतीजा राज व आदित्य पैतृक संपती बेचने लगे तो उन्होंने बड़े भाई जय नारायण के साथ मिलकर भतीजों को उनके हिस्से की कीमत दे दिया। बावजूद इसके भतीजों ने उस संपत्ति को दूसरे लोगों को बेच दिया, जिसका न्यायालय में मामला विचाराधीन है। आरोप है कि बावजूद इसके शनिवार सुबह सिद्धांत शुक्ला, सुनील कुमार गौड़, अनुज कुमार, श्रीमणी शुक्ला व शीलू अपने 100 से अधिक साथियों के साथ पहुंचे। उन लोगों ने जेसीबी की मदद से गेट तोडऩे का प्रयास किया। विरोध करने आरोपितों ने मारपीट शुरू कर दी। शोर-शराबा सुनकर घर की महिलाएं बीच-बचाव करने पहुंची तो आरोपितों ने उनसे भी मारपीट और अभद्रता की जिसके बाद पीडि़त पक्ष ने पुलिस से शिकायत की। थाना प्रभारी मधुर मिश्रा ने बताया कि काम रुकवाकर दोनों पक्षों को यथास्थिति बनाए रखने के लिए कहा गया है। साथ ही दोनों पक्षों को अगले समाधान दिवस पर बुलाया गया है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.