संक्षेप में पढ़िए - कानपुर नगर की क्राइम और अन्य घटनाओं से जुड़ी खबरें

कानपुर शहर में प्रतिदिन ही शिक्षा राजनीति और अन्य गतिविधियां होती ही रहती हैं। हम खबरों की इस कड़ी में आपको क्राइम और अन्य घटनाओं की ऐसी ही संक्षेप खबरें उपलब्ध कराते हैं। शुक्रवार को भी ऐसी कई खबरें सामने आईं। आइए जानते हैं

Shaswat GuptaSat, 18 Sep 2021 06:30 AM (IST)
कानपुर में हुई गतिविधियों से जुड़ी खबरों की सांकेतिक तस्वीर।

नशेबाजों ने कारोबारी व उनके परिवार को पीटा, आठ पर मुकदमा 

बजरिया में नशेबाजी का विरोध करने पर आरोपितों ने एक कारोबारी व उनके भाई को लाठी डंडे व लोहे की राड से बेरहमी से पीटा। मोहल्लेवालों के आने पर आरोपित जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है। 

पुलिस के मुताबिक बजरिया में बकरमंडी ढाल के पास रहने वाले कारोबारी वसीम ने बताया है कि बुधवार को वह अपने कारखाने में बैठे थे। इसी दौरान क्षेत्र में रहने वाला इमरान अपने साथियों आसिफ, शेरू, नदीम, इकराम, आरिफ व मुन्ने के साथ नगर निगम के स्लाटर हाउस में बैठकर शराब पी रहा था और गालीगलौज कर रहा था। जब वसीम व उनके भाई शमीम ने विरोध किया तो आरोप है कि दबंगों ने डंडे और राड से हमला कर दिया। शोर सुनकर परिवार से राबिया और शबाना ने आकर बचाने की कोशिश की तो उन्हें भी पीटा। मारपीट में चारों घायल हो गए। इसके बाद आरोपित फरार हो गए। थाना प्रभारी राममूर्ति यादव ने बताया कि पीडि़त की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। 

युवक ने फांसी लगाकर दी जान 

 चकेरी में युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी होने पर स्वजन ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की लेकिन आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है।

लाल बंगला निवासी प्रेम नारायण गुप्ता का 22 वर्षीय इकलौता बेटा पवन मोबाइल चार्जर की मैन्युफैक्चङ्क्षरग का कारोबार करते थे। परिवार में मां बबीता और दो शादीशुदा बहनें है। बहनोई अंकित ने बताया कि गुरुवार रात को खाना खाने के बाद पवन अपने कमरे में सोने चला गया था। शुक्रवार सुबह जब वह रोज की तरह सोकर नहीं उठा तो स्वजन उसे बुलाने गए। इस दौरान कमरे में उसका शव लटकता देखकर स्वजनों ने पुलिस को सूचना दी। थाना प्रभारी मधुर मिश्रा ने बताया कि युवक की आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। 

अधिवक्ता को कार से कुचलने की कोशिश, मुकदमा 

बर्रा निवासी एक अधिवक्ता को कार चालक ने टक्कर मार दी। सड़क पर गिरे अधिवक्ता ने जब कार चालक को रोककर विरोध किया तो आरोप है कि उसने कार से कुचलने की कोशिश की। इस दौरान पहिया पैर पर चढऩे से फ्रैक्चर हो गया। अधिवक्ता ने कोर्ट के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

बर्रा एमआइजी निवासी अधिवक्ता सुधांशु तिवारी की तहरीर के मुताबिक 26 जुलाई को वह बाइक से पनकी मंदिर जा रहे थे। दादा नगर पुल के पास तेज रफ्तार कार सवार ने टक्कर मार दी। वह सड़क पर गिरकर घायल हो गए। जब उन्होंने राहगीरों की मदद से कार सवार को रोककर विरोध किया तो उसने कुचलने का प्रयास किया। ऐन वक्त पर राहगीर सौरभ ने उन्हें बचाया, लेकिन कार का पहिया पैर पर चढ़ गया। इसके बाद आरोपित फरार हो गया। घटनास्थल के पास लगे कैमरे में पूरी घटना कैद हुई है। थाना प्रभारी ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर कार के नंबर के आधार पर हत्या के प्रयास व अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.