संक्षेप में पढ़िए - कानपुर नगर की क्राइम और अन्य घटनाओं से जुड़ी खबरें

कानपुर शहर में प्रतिदिन ही शिक्षा राजनीति और अन्य गतिविधियां होती ही रहती हैं। हम खबरों की इस कड़ी में आपको क्राइम और अन्य घटनाओं की ऐसी ही संक्षेप खबरें उपलब्ध कराते हैं। बुधवार को भी ऐसी कई खबरें सामने आईं। आइए जानते हैं

Shaswat GuptaThu, 29 Jul 2021 06:05 AM (IST)
कानपुर में हुई गतिविधियों से जुड़ी खबरों की सांकेतिक तस्वीर।

चर्च को ध्वस्त किए जाने का विरोध

दिल्ली के छतरपुर क्षेत्र में बुलडोजर चलाकर चर्च ध्वस्त किए जाने के विरोध में अखिल भारतीय अल्पसंख्यक बोर्ड ने छपेड़ा पुलिया में बैठक की। बोर्ड के अध्यक्ष पादरी डायमंड यूसुफ ने कहा कि यूनिटी आफ क्राइस्ट के आह्वान पर शनिवार को बोर्ड राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन पुलिस कमिश्नर को सौंपेगा।  इस दौरान दोबारा उसी जगह चर्च के निर्माण की मांग की जाएगी। बोर्ड के महासचिव सरदार मान सिंह बग्गा ने कहा कि अल्पसंख्यकों के धार्मिक स्थलों, उनकी पुस्तकों की सुरक्षा की जाए। बैठक में शहरकाजी हाफिज मामूर अहमद जामई, हाजी मोहम्मद सलीस, हाजी दिलशाद कुरैशी, पादरी जानी स्टीफन, पादरी संदीप सोलोमन आदि मौजूद रहे।

दो खातों से उड़ाई रकम

साइबर ठग आधार और बायोमीट्रिक क्लोनिंग के जरिए खातों से रकम पार कर रहे हैं। ऐसे ही दो मामले नौबस्ता थाने में पहुंचे।

नौबस्ता के पशुपति निवासी बुद्धराज सिंह ने बताया कि उनके दो बैंक खातों से बीती 23 जुलाई से 27 जुलाई के बीच करीब 41 हजार रुपये निकाल लिए गए। पता चला कि उनके खातों से आधार और फिंगर प्रिंट के जरिए रकम निकाली गई है। इसी तरह नौबस्ता के अर्रा सूरज पाल सिंह के अनुसार बीती जुलाई को उनके खाते से 10 हजार रुपये निकल गए। मालूम हुआ कि आरोपित ने आधार और फिंगर प्रिंट के जरिए खाते से रकम निकाली है।

प्रेम विवाह से नाखुश युवती के मायके वाले दे रहे धमकी

चकेरी में युवती के प्रेम विवाह करने से नाखुश मायके वालों ने ससुराल वालों से मारपीट करने के साथ धमकी दी। पुलिस से शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर पीडि़त ने मानवाधिकार आयोग में शिकायत की। चकेरी के कालीबाड़ी निवासी विमला देवी ने बताया कि उनके बेटे राजू सोनकर ने दिसंबर 2020 में इलाके की एक युवती से आर्य समाज से प्रेम विवाह किया था। आरोप है कि जिस बात से बहू के मायके वाले नाखुश हैं। वह लोग कई बार मारपीट व घर में तोडफ़ोड़ कर चुके हैं। जिसकी शिकायत पुलिस से करने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। जिस पर बहू के मायके वाले उन्हें धमका रहे हैं। थाना प्रभारी अमित तोमर ने बताया कि मामले का संज्ञान लेकर कार्रवाई की जाएगी।

पत्नी के मायके से नहीं लौटने पर युवक ने दी जान 

सनिगवां कांशीराम कालोनी निवासी 36 वर्षीय मोहम्मद राशिद मजदूर थे। परिवार में पत्नी आयशा बेगम और दो वर्षीय बेटी अलीशा है। पड़ोसियों ने बताया कि राशिद शराब के लती थे। जिस बात को लेकर अक्सर उनका पत्नी से विवाद होता था। करीब 15 दिन पहले झगड़े के बाद उनकी पत्नी गुस्से में बच्ची को लेकर बेकनगंज स्थित मायके चली गई। जिसके बाद उन्होंने कई बार पत्नी को फोन करके घर आने के लिए बोला लेकिन वह नहीं मानी। जिस बात को लेकर वह मानसिक तनाव में चल रहे थे। बुधवार देर शाम को उन्होंने दुपट्टे के सहारे पंखे के कुंडे से लटककर आत्महत्या कर ली। थाना प्रभारी अमित तोमर ने बताया कि युवक की पत्नी मायके चली गई थी। जिस बात को लेकर वह मानसिक तनाव में था। संभवत: इसी वजह से उसने आत्महत्या की है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.