जानिए- कौन है अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा का सहयोगी अरविंद, क्या है उसका फैमिली बैक ग्राउंड

पोर्न एप मामले में राज कुंद्रा के सहयोगी अरविंद श्रीवास्तव ने 15 दिन पहले पिता को फोन करके हर गतिविधि की जानकारी ली थी। वर्ष 2001 में शहर के बर्रा दो में रहने वाली हर्षिता से शादी के बाद परिवार नागपुर से कानपुर शिफ्ट हो गया था।

Abhishek AgnihotriMon, 26 Jul 2021 10:56 AM (IST)
नागपुर से कानपुर आ गया था अरविंद का परिवार।

कानपुर, जेएनएन। पोर्न एप को लेकर मुंबई क्राइम ब्रांच की सक्रियता के बाद अरविंद श्रीवास्तव ने 15 दिन पहले पिता नर्वदा प्रसाद श्रीवास्तव को फोन कर उनका हालचाल लेने के साथ स्थानीय स्तर पर चल रही गतिविधियों की जानकारी ली थी। पोर्न फिल्में बनाने के मामले में राज कुंद्रा के साथ फंसा अरविंद श्रीवास्तव 17 साल पहले 2004 में सिंगापुर चला गया था। उसकी शादी वर्ष 2001 में बर्रा दो में रहने वाली हर्षिता से हुई थी। हालांकि, उस समय उसका परिवार कानपुर की जगह नागपुर में रहता था।

मूलरूप से बनारस का रहने वाला है परिवार

मूलरूप से वाराणसी निवासी श्याम नगर स्थित डी ब्लाक के सावित्री सदन अपार्टमेंट में रह रहे नर्वदा प्रसाद श्रीवास्तव नागपुर में आर्डनेंस फैक्ट्री से 2003 में रिटायर हुए थे। वह वहां सहायक कार्य प्रबंधक (एडब्ल्यूएम) के पद पर कार्यरत थे। इसके बाद 2005 में वह अपनी पत्नी प्रेमलता के साथ कानपुर में रहने आ गए थे। अरङ्क्षवद उनका छोटा बेटा है। इसके अलावा उनका बड़ा बेटा रजनीश जकार्ता में इंजीनियर है, जबकि एक बेटी अमेरिका में है। अरङ्क्षवद श्रीवास्तव ने जबलपुर से इंटरमीडिएट किया। इसके बाद भिलाई से बीटेक किया। 2002 में बेंगलुरु में उसकी नौकरी लग गई। करीब 11 साल पहले नर्वदा प्रसाद श्रीवास्तव और प्रेमलता ङ्क्षसगापुर उसके पास गए थे। हालांकि, उनका कहना है कि तीन वर्ष पहले अरविंद आखिरी बार कानपुर आया था। वह फोन पर ही बात करता है, उसका आना बहुत कम होता है। 15 दिन पहले भी उसका फोन आया था। उन्हें उस दिन भी इस पूरे प्रकरण को लेकर कुछ जानकारी नहीं थी।

कोरोना के इलाज के लिए बेटे से मंगाए थे रुपये

नर्वदा प्रसाद के मुताबिक, कोरोना के वह और उनकी पत्नी दोनों संक्रमित हो गए थे। वैसे वह खुद हृदय रोगी और उनकी पत्नी सांस की रोगी भी हैं। कोरोना संक्रमित होने पर वह घर पर ही इलाज करा रहे थे और अरङ्क्षवद से रुपये मांगे थे। अरङ्क्षवद ने रुपये भेजे थे। उसी बीच मुंबई से क्राइम ब्रांच की टीम आई थी और तीन घंटे उनसे व उनकी पत्नी से पूछताछ की थी। उसके बाद से बैंक खाता सीज है। हालांकि, बैंक अफसरों से पूछा है तो बताया है कि केवाइसी नहीं है। इसलिए केवाइसी लगा दी है।

बेटा नहीं कर सकता गलत काम

पिता नर्वदा प्रसाद कहते हैं कि अरविंद के दो बेटे हैं। वह पत्नी और बच्चों के साथ सिंगापुर में ही है। करीब 10 साल पहले वह बड़े बेटे रजनीश के पास पत्नी के साथ रहने गए थे। कुछ दिनों बाद अरविंद उन्हें अपने साथ ले गया था, जहां एक माह रुकने के बाद मन न लगने पर वह पत्नी के साथ भारत लौट आए थे। उनके मुताबिक बेटे का व्यक्तित्व अच्छा है। जिस तरह के आरोप उसपर लग रहे हैं। उनका दिल नहीं मान रहा है कि वह ऐसा कर सकता है। उसे फंसाया जा रहा है। हालांकि, वाराणसी में वह कहां के रहने वाले हैं, उन्होंने यह बताने से मना कर दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.