गोविंदनगर और रायपुरवा में छापे, 151 आक्सीजन सिलिंडर बरामद

गोविंदनगर और रायपुरवा में छापे, 151 आक्सीजन सिलिंडर बरामद

कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने को लेकर आक्सीजन की कालाबाजारी शुरू हो गई है।

JagranThu, 22 Apr 2021 02:25 AM (IST)

जागरण संवाददाता, कानपुर : कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने को लेकर आक्सीजन की कालाबाजारी शुरू हो गई है। बुधवार को गोविद नगर और रायपुरवा में छापेमारी कर पुलिस ने 151 सिलिंडर बरामद किए हैं। इनमें खाली और भरे दोनों तरह के सिलिंडर हैं। गोविंद नगर में दुकानदार व उसके भाई ने बताया कि सिलिंडर दादानगर व फजलगंज से मंगवाकर वेल्डिंग का काम करने वालों को देते हैं। वहीं, रायपुरवा में ट्रेडिंग कंपनी मालिक को गिरफ्तार किया गया है।

क्राइम ब्रांच को गोविद नगर 13 ब्लाक स्थित एक गैस एजेंसी से आक्सीजन सिलिडरों की कालाबाजारी की सूचना मिलने पर पुलिस उपायुक्त अपराध सलमान ताज पाटिल की अगुवाई में छापेमारी की गई। मौके पर 36 बड़े और 15 छोटे सिलिडर मिले। आठ बड़े और छह छोटे सिलिंडर भरे, जबकि बाकी खाली थे। बड़े सिलिडरों में आक्सीजन व छोटे में कार्बनडाइआक्साइड भरी थी। दुकानदार ने बताया कि आक्सीजन सिलिंडर दादानगर और फजलगंज स्थित गैस फैक्ट्रियों से मंगाते थे। इस पर दोनों सप्लायरों के यहां से पुलिस ने सिलिडरों का ब्योरा मांगा। पता चला कि फजलगंज से 13, 14 व 15 अप्रैल को सिलिडर गोविद नगर की एजेंसी को भेजे गए थे। उसके बाद कोई सिलिडर नहीं आया है। वहीं, पकड़े गए आरोपित का कहना है कि वह लोग गैस वेल्डिग करने वालों को सिलिडरों की सप्लाई देते हैं। उनके पास करीब 175 से अधिक सिलिडर हैं। जानकारी हुई थी कि वेल्डिग करने वाले दुकानदार लोगों को आक्सीजन भरवाकर ज्यादा दाम पर सिलिडर दे रहे हैं। इसलिए उन्होंने दुकानदारों से सिलिडर वापस लेने शुरू किए थे।

---

रायपुरवा में 50 भरे व 50 खाली सिलिंडर बरामद

रायपुरवा थानाक्षेत्र की लोहा मंडी स्थित समा ट्रेडिग कंपनी में आक्सीजन सिलिडरों की कालाबाजारी की सूचना पर सहायक पुलिस आयुक्त अनवरगंज मो. अकमल खान ने सर्किल के तीनों थानों की फोर्स के साथ छापा मारा। अचानक पुलिस देखकर कर्मचारी भाग गए, लेकिन मालिक मो. यासिर को पुलिस थाने लाई। एसीपी ने बताया कि मौके से ऑक्सीजन भरे 50 और इतने ही खाली सिलिडर बरामद किए गए हैं। आरोपित फैक्ट्री मालिक फजलगंज की किसी कंपनी से सिलिडर रीफिल कराकर रखता था। वह छोटे कारोबारियों व ग्राहकों को छह हजार रुपये वाला सिलिडर 16 हजार रुपये में बेच रहा था, जबकि बिक्री करने के लिए अधिकृत भी नहीं है। आरोपित को गिरफ्तार कर महामारी अधिनियम, आदेशों की अवहेलना आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। साथ ही उसका लाइसेंस निरस्त कराया जाएगा।

--------

दुकानदारों ने किसे और कितने दाम में सिलिडर दिए हैं। इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। वहीं, स्टाक और बिल बुक आदि की भी छानबीन चल रही है। कुछ भी संदिग्ध मिलने पर कार्रवाई होगी।

- सलमान ताज पाटिल, पुलिस उपायुक्त (अपराध)

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.