Ragging in Kanpur: HBTU के स्टूडेंट्स ने पार की हदें, जूनियर्स से पूछा गर्लफ्रेंड का नाम, अभद्रता करने पर केिया मजबूर

Ragging in HBTU Kanpur स्टेप एचबीटीआइ की कैंटीन के नजदीक सीनियर कक्षाओं के दो दर्जन छात्र-छात्राएं कुर्सी पर बैठे थे। कुछ चबूतरे पर चाय सैंडविच कोल्ड ड्रिंक का मजा ले रहे थे। उनके सामने जूनियर सिर झुका कर खड़े थे। वहीं छात्राओं के लिए अलग ग्रुप था।

Shaswat GuptaSat, 25 Sep 2021 09:58 PM (IST)
एचबीटीयू की खबर से संबंधित सांकेतिक फोटो।

कानपुर, जेएनएन। Ragging in HBTU Kanpur तुम्हारा नाम क्या है। दाढ़ी क्यों बढ़ी हुई है, बहुत स्टाइल में हो। गर्लफ्रेंड का नाम क्या है। पढ़ाई करने आए हो, कायदे से रहना। कैंपस में दिखाई देते ही रिसपेक्टेड सर बोलना। यह नजारा शनिवार दोपहर स्टेप एचबीटीआइ परिसर के अंदर का था, जहां हरकोर्ट बटलर टेक्निकल यूनिवर्सिटी (एचबीटीयू) के सीनियर छात्रों ने जूनियर छात्रों से गाना गवाया, गाली दिलवाईं और तकनीकी परिचय लिया। जूनियरों को लाइन से खड़ा किया गया। उनसे बारी-बारी से कुछ न कुछ करने के लिए निर्देशित किया। इसमें छात्राएं भी शामिल रहीं।  

स्टेप एचबीटीआइ की कैंटीन के नजदीक सीनियर कक्षाओं के दो दर्जन छात्र-छात्राएं कुर्सी पर बैठे थे। कुछ चबूतरे पर चाय, सैंडविच, कोल्ड ड्रिंक का मजा ले रहे थे। उनके सामने जूनियर सिर झुका कर खड़े थे। वहीं, छात्राओं के लिए अलग ग्रुप था। जूनियरों से उनका नाम, पता, ब्रांच की जानकारी ली। तकनीकी नाम, हिंदी में ब्रांच का नाम पूछा। कुछ छात्र सकपकाए तो उनसे गर्लफ्रेंड की कहानी सुनाने के लिए कहा। सीनियर छात्राओं ने जूनियर छात्राओं को हीरोइन बनकर न आने की हिदायत दी। कहा कि ज्यादा हीरोइन बनकर आई तो फेसवाश से मुंह धुलवाया जाएगा। घटना कैंपस में हुई, जबकि सुरक्षाकर्मी और संस्थान के कई शिक्षक अंदर मौजूद थे। रैगिंग की घटना मार्च में भी हो चुकी है। उस समय नवाबगंज गेट के पास सीनियरों ने जूनियरों का परिचय लिया था। विवि प्रशासन ने जांच कमेटी गठित की, लेकिन कार्रवाई नहीं की। कुलसचिव प्रो. नीरज सिंह ने बताया, वह शनिवार को प्रयागराज में आए हैं। उन्हें घटना की जानकारी नहीं है। मामले की जांच कराई जाएगी। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.