पंजाबियों के बीच एक्टिंग स्किल से जलवा बिखेरेंगे कानपुर के विरल, ई-रिक्शा चलाकर करते हैं गुजर-बसर

कानपुर शहर के बर्रा क्षेत्र में रहने वाले 24 साल के विरल अपनी छोटी सी जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव देख चुके हैं। वह अपने बीमार माता-पिता का एकमात्र सहारा है और ई-रिक्शा चलाकर घर चलाते हैं। आज अपनी प्रतिभा के दम पर आसमान छूने की ओर बढ़ रहे हैं।

Abhishek AgnihotriWed, 04 Aug 2021 12:59 PM (IST)
ई-रिक्शा चालक की प्रतिभा को मिला मंच।

कानपुर, जेएनएन। हाल ही में फेसबुक, वाट्सएप और इंस्टाग्राम पर वायरल हो रहे गाने, बचपन का प्यार भूल नहीं जाना रे... से छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के आदिवासी इलाके में रहने वाले गरीब परिवार का सहदेव अब देश दुनिया में मशहूर हो चुका है। इसीलिए कहते हैं कि प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती है और एक दिन जरूर अपनी मंजिल-मुकाम हासिल कर लेती है। कुछ ऐसा ही कानपुर में ई-रिक्शा चलाकर परिवार पालने वाले विरल के लिए भी कहा जा सकता है, जो माता-पिता के लिए श्रवण कुमार से कम नहीं हैं। आज वह अपनी प्रतिभा से उस मुकाम तक पहुंचने वाला है, जहां तक जाने के लिए कई युवा सपना संजोते हैं।

ई रिक्शा चलाकर पालता है परिवार

कानपुर शहर के बर्रा क्षेत्र में छोटी-सी कॉलोनी में रहने वाले विरल की उम्र महज 24 साल है, उसने अपनी इस छोटी सी जिंदगी में इतने उतार-चढ़ाव देख लिए हैं कि उसे पचास साल की उम्र वाला अनुभव हो गया है। वह अपने बीमार माता-पिता का एकमात्र सहारा है। 55 साल के पिता अरविंद चतुर्वेदी और 50 वर्षीय मां सरिता घर में ही रहती हैं। बीमारी के कारण पिता कोई काम नहीं कर पाते हैं। छोटी सी उम्र से श्रवण कुमार की तरह विरल भी मां-पिता की सेवा कर रहा है। ई-रिक्शा चलाकर वह परिवार का पेट भरता है और अपनी पढ़ाई भी कर रहा है। वह डीबीएस कालेज में बीए द्वितीय वर्ष का छात्र है।

भोजपुरी एक्टर रवि किशन को मानता है प्रेरणास्रोत

विरल को एक्टिंग और मिमक्री का शौक बचपन से है, वह भोजपुरी एक्टर रवि किशन को अपना प्ररेणास्रोत मानते हैं। विरल बताते हैं कि भाजपा सांसद व भोजपुरी एक्टर रवि किशन के वीडियो देखकर बहुत सीखा है। पहले वह मिमिक्री करते तो दोस्तों को मजा आता था और उससे टैलेंट शो में जाने की बात कहते थे। लेकिन, उसकी घर की हालत ऐसी नहीं है कि वह बाहर जा सके। सुबह उठकर पहले पिता की सेवा करता हूं और फिर घर के सभी काम करने के बाद ई-रिक्शा लेकर निकल जाता हूं। शाम को घर लौटकर मां का हाथ बंटाता हूं और पिता को खाना व दवा देकर सो जाता हूं।

दूरदर्शन के पंजाबी चैनल के शो में विरल का चयन

विरल का दूरदर्शन के पंजाबी चैनल के शो 'किसमें कितना है दम' में चयन हो गया है। वह अगस्त के अंत तक होने वाले ग्रांड फिनाले में शामिल होकर अपनी प्रतिभा दिखाएंगे। उसने बताया कि इंटरनेट प्लेटफॉर्म पर किसमें कितना है दम शो का पोस्टर देखा था। इसके बाद उसने अपनी एक्टिंग और मिमिक्री का वीडियो बनाकर पोस्टर पर दिए वाट्सएप नंबर पर भेज दिया था। इसके बाद उसे ट्रायल के लिए बुलाया गया और ट्रायल होने के बाद सेमीफाइनल के लिए एक वीडियो बनाकर दूरदर्शन पंजाबी को भेजा। अब उसे शो के ग्रांड फिनाले के लिए चयनित कर लिया गया है।

विरल ने बताया कि अगस्त के अंतिम सप्ताह में चंडीगढ़ में ग्रांड फिनाले में उसे अपनी एक्टिंग दिखानी है। टीवी इंडियाज टैलेंट्स फाइट सीजन टू के शो का मेगा ऑडिशन होना है, जिसका पहला ऑडिशन जून की शुरुआत में हुआ था। इसमें मॉडलिंग का वीडियो बनाकर भेजा था। अब सितंबर में प्रस्तावित मेगा शो में मॉडलिंग करते हुए नजर आएंगे। इससे पहले वह शाॅट फिल्म में काम कर चुके हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.