Mahoba Rally: प्रधानमंत्री पर प्रियंका का हमला, बोलीं- आठ हजार करोड़ के जहाज से घूमते हैं पर किसानों का कर्ज माफ नहीं करते

खजुराहो से प्रस्थान करके कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाडद्या महोबा में छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित प्रतिज्ञा रैली को संबोधित करने आ रही हैं। उनके साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भी मौजूद रहेंगे। दस दिन के अंदर बुंदेलखंड में उनका यह दूसरा दौरा है।

Abhishek AgnihotriSat, 27 Nov 2021 01:46 PM (IST)
महोबा के छत्रसाल स्टेडियम में प्रतिज्ञा रैली के लिए पंडाल सजाया गया है।

महोबा, जागरण संवाददाता। बुंदेलखंड से पुराने रिश्तों को मजबूत करने और सियासी जमीन तैयार करने पहुंची कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा महोबा पहुंच गई हैं। प्रतिज्ञा रैली के मंच पर पहुंचते ही उनका वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने स्वागत किया। उनके साथ उत्तर प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मौजूद हैं। प्रतिज्ञा रैली में प्रियंका गांधी का संबोधन प्रधानमंत्री और प्रदेश के मुख्यमंत्री पर केंद्रित रहा। उन्होंने कहा कि आठ हजार करोड़ के जहाज पर प्रधानमंत्री जी घूमते हैं लेकिन किसानों की प्रतिदन की आय नहीं बढ़ा सकते हैं, किसानों का कर्ज नहीं माफ कर सकते हैं। योगी जी और मोदी जी तपस्या नहीं कर रहे, वो तो बड़े बड़े जहाजों में घूम रहे हैं। यहां पर देश का श्रमिक और नौजवान कर रहा तपस्या कर रहा है।

बीते दस दिनों में बुंदेलखंड में यह उनका दूसरा दौरा है, इससे पहले वह मध्य प्रदेश के सीमा वाले चित्रकूट के रामघाट पर महिलाअों से संवाद करने आई थीं। प्रधानमंत्री की महोबा में जनसभा के बाद कांग्रेस की रैली को लेकर सियासी चर्चाएं भी तेज हो गई हैं। 

यह भी पढ़ें : प्रधानमंत्री पर प्रियंका का हमला, बोलीं- आठ हजार करोड़ के जहाज से घूमते हैं पर किसानों का कर्ज माफ नहीं करते

महोबा के छत्रसाल स्टेडियम में कांग्रेस ने प्रतिज्ञा रैली में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि प्रियंका गांधी बदलाव की आंधी हैं, यह लोगों की आवाज है और विश्वास और भरोसा है। उन्होंने कहा कि आज बुंदेलखंड के लोगों को जरूरत है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की, क्योंकि वह जानते हैं कि वो जो वादा करेंगे वो निभाएंगे। बुंदेलखंड की आवाज और पीड़ा को राहुल गांधी ने सुना था और यूपीए की पूर्ववर्ती केंद्र की सरकार ने बुंदेलखंड के लिए दस हजार करोड़ बुंदेलखंड को दिया। आज यहां सड़कें दिख रही हैं, वो यूपीए की सरकार में किया गया विकास बयां कर रही है।

यह भी पढ़ें : प्रतिज्ञा रैली कर प्रियंका ने टटोली बुंदेलखंड की नब्ज, बाेलीं, मोदी-योगी ने जनता को छला

रैली में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने यूपी के सीएम पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि संत-महात्माओं के चरणों में बैठकर राजा महाराज उनसे ज्ञान लिया करते थे लेकिन आज उनके कंधे पर हाथ रखा जा रहा है, ये संत महात्माओं का अपमान है। विरोधी दल के नेता संत महात्मा से ऊपर उठ गए हैं, ये हमारी भारतीय परंपरा का अपमान है। योगी आदित्यनाथ को मोदी कुछ नहीं समझते है और तभी कंधे में हाथ रखे दिखाई देते हैं। अभी तक जाति के आधार वोट पड़े थे और उनके मुख्यमंत्री बने थे, एक समय आया धर्म के नाम पर वोट पड़े और उनके नेता मुख्यमंत्री बने। अब सब लोग चर्चा कर रहे हैं कि हमने जाति और धर्म के नाम पर वोट दिया लेकिन हमको मिला क्या। यही कारण है कि कांग्रेस की प्रतिज्ञा लेकर आपके बीच आई हैं कि किसानों को 2500 रुपये क्विंटल में धान खरीदेंगे और चार सौ में गन्ना खरीदेंगे। लड़की हूं लड़ सकती हूं, इस नारे के साथ महिलाओं और लड़कियों के लिए वादे किए हैं।

चित्रकूट में महिलाओं से किया था संवाद

बुंदेलखंड में दस दिन के अंदर कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा का यह दूसरा दौरा है। बीते 17 दिसंबर को चित्रकूट के रामधाट पर मंदाकिनी नदी पर नावों से बनाए मंच से उन्होंने महिलाओं से संवाद किया था। इस दौरान महिलाओं के बीच उन्होंने उठो द्रौपदी शस्त्र उठा लो... कविता सुनाकर अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ने का आह्वान किया था। इसके साथ ही आधी आबादी को राजनीति में पचास फीसद भागीदारी देने की बात कही थी। दस दिन बाद महोबा में उनकी प्रतिज्ञा रैली का शनिवार को आयोजन किया गया है। यह रैली प्रधानमंत्री की जनसभा के ठीक बाद आयोजित किए जाने को लेकर राजनीतिक गलियारों में कई सियासी मायने निकाले जाने लगे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.