ओलंपिक में पदक के ख्वाब को पूरा करने में जुटे खिलाड़ी

ज्योति रंजना अरमान सारिका और अभिषेक कर रहे शानदार प्रदर्शन।

JagranWed, 23 Jun 2021 02:06 AM (IST)
ओलंपिक में पदक के ख्वाब को पूरा करने में जुटे खिलाड़ी

- ज्योति, रंजना, अरमान, सारिका और अभिषेक कर रहे शानदार प्रदर्शन, घर पर ही योग और आनलाइन वीडियो देखकर हो रही तैयारी

अंकुश शुक्ल, कानपुर : जूडो खेल में खेलो इंडिया और राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीतकर शहर के अरमान और सारिका ने ओलंपिक में पदक जीतने की उम्मीद को कायम रखा है। यूथ ओलंपिक में पदक झटकने वाले खिलाड़ी आनलाइन अंतरराष्ट्रीय मानक के वीडियो देखकर कोच के मार्गदर्शन में अभ्यास कर रहे हैं। योग के सहारे शरीर को फिट रखने के साथ रनिग व वर्कआउट से जिम की कमी को पूरा कर रहे हैं।

शहर की रंजना गुप्ता योग के माध्यम से एकाग्रता बढ़ा रहीं हैं। पुलिस विभाग में इंस्पेक्टर रंजना इंडो भूटान इंटरनेशनल शूटिग में रजत, व‌र्ल्ड पुलिस गेम्स यूएसए में स्वर्ण रजत और कांस्य पदक ले चुकी हैं। वे दक्षिण कोरिया में हुई व‌र्ल्ड शूटिग प्रतियोगिता में रायफल खराब होने के बाद भी बेहतर रैंकिग तक पहुंचीं।

जकार्ता में हुए एशियन खेल में भारतीय हैंडबाल टीम की प्रमुख खिलाड़ी काकादेव निवासी ज्योति शुक्ला एशियन हैंडबाल, बांग्लादेश हैंडबाल और फेडरेशन कप में जलवा दिखा चुकीं हैं। वे जापान, कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान में भारतीय टीम के साथ कमान संभाल चुकीं हैं। टेबल टेनिस में लक्ष्मण अवार्ड जीत चुके अभिषेक यादव भी जीतोड़ मेहनत कर रहे हैं। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय टीटी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर चुके अभिषेक विदेशी खिलाड़ियों के बीच भी खेल के बूते पहचाने जाते हैं। अभिषेक विदेशी खिलाड़ियों के वीडियो देखकर टीटी के शाट्स में निपुणता हासिल कर रहे हैं।

------

ओलंपिक में जाने के लिए खिलाड़ियों को कड़ा अभ्यास करना होगा। मेहनत से मंजिल का सफर एक दिन खिलाड़ी जरूर हासिल करेंगे।

- डाक्टर आनंदेश्वर पांडेय, महासचिव उप्र ओलंपिक संघ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.