दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

कोरोना से जंग की प्रथम पंक्ति में खड़ीं कानपुर की अाशा, दुआओं से मजबूत हुआ सेवाभाव का जज्बा

उर्सला अस्पताल की आशा ने टीम में जगाया सेवाभाव।

कानपुर शहर के जिला अस्पताल उर्सला की इमरजेंसी में कार्यरत नर्स आशा वर्मा अपनी टीम के साथ संक्रमितों की सेवा कर रही है । कई सदस्य संक्रमित भी हुए लेकिन स्वस्थ होकर फिर सेवा में जुट गए ।

Abhishek AgnihotriThu, 13 May 2021 08:51 AM (IST)

कानपुर, जेएनएन। वैश्विक महामारी से लडऩे के लिए प्रथम पंक्ति में पहाड़ जैसा जज्बा लेकर डटीं नर्स समाज को सेवाभाव की परिभाषा से परिचित करा रही हैं। जब पूरी दुनिया घरों में कैद होकर अपना जीवन बचाने में लगी है, तब इनके जज्बे के बदौलत हजारों लोगों का जीवन सुरक्षित हुआ। बदलें में इन्हें स्वस्थ हुए मरीजों से मिलीं दुआएं अमृत समान रहीं, जिसकी वजह से वे संक्रमण काल मे डटकर मरीजों की सेवा कर रही हैं।

संक्रमित हुईं और स्वस्थ होकर फिर सेवा में जुटीं

उर्सला के इमरजेंसी में इंचार्ज नर्स 51 वर्षीय आशा वर्मा बताती हैं कि संक्रमण का यह दौर मरीजों के साथ डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों के लिए चुनौतीपूर्ण था। इस दौरान कई नर्स संक्रमित हुईं और स्वस्थ होकर फिर से मरीजों की सेवा में जुट गईं। तब बेड और आक्सीजन के लिए मारामारी के बीच संक्रमितों के साथ उनके तीमारदारों को सांत्वना देना कठिन काम था। उन्होंने बताया कि कई परिवार आवेश में आकर नर्स और स्वास्थ्य कर्मियों को बुरा-भला भी कह देते हैं। ऐसे में उनकी परेशानी को अपने से जोड़ते हुए सेवाभाव जारी रखा।

टीम को लीड करने में जुटी रहीं

आशा वर्मा मरीजों के बीच अपनी सेवा और व्यवहार कुशल के लिए पहचानी जाती हैं। उर्सला इमरजेंसी की हेड होने के कारण उन्होंने कई बार संक्रमण के लक्षण होने पर भी अवकाश नहीं लिया। निरंतर कार्य करते हुए दूसरी नर्सों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने बताया कि सही होकर जाने वाले मरीजों की दुआएं हमारे लिए अमृत जैसी होती हैं, जिसके कारण हम सब सुरक्षित रहते हैं।

बेटा-बेटी बने प्रेरणास्रोत

आशा बताती हैं कि डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहा बेटा आशुतोष और बेटी शिवानी ने आपदा में मेरा हौसला बढ़ाया। उन्होंने दूसरों का मददगार बनने के लिए हमेशा अग्रसर रहने को कहा। बेटा और बेटी से मिली सीख ने मेरा मार्गदर्शन किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.