अब वीआइपी रोड पर नहीं होगा जलभराव

जेएनएन कानपुर सीसामऊ नाले के सेक्सन पाइप को चौड़ा किया जाएगा ताकि बारिश के समय वीआइपी रोड पर पानी न भरे।

JagranThu, 05 Aug 2021 01:53 AM (IST)
अब वीआइपी रोड पर नहीं होगा जलभराव

जेएनएन, कानपुर: सीसामऊ नाले के सेक्सन पाइप को चौड़ा किया जाएगा ताकि बारिश के समय वीआइपी रोड में जलभराव न हो। नगर आयुक्त ने जल निगम के अभियंताओं से कार्ययोजना तलब की है।

नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने बुधवार को सीसामऊ नाले का निरीक्षण किया। जल निगम के अभियंताओं ने बताया कि बारिश होने पर जब पानी का बहाव अधिक होता है तो टैपिग मे सीसामऊ नाले का सेक्शन पाइप छोटा होने के कारण पानी निकलने में समय लगता है। इससे जलभराव हो जाता है। नगर आयुक्त ने परियोजना प्रबंधक ज्ञानेंद्र चौधरी को इस समस्या के निस्तारण के लिए कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत करने के आदेश दिए। इसके बाद परमट में बने सीवरेज पंपिग स्टेशन का निरीक्षण किया तो सिल्ट मिली। अफसरों को नियमित रोस्टर बनाकर सफाई कराने के आदेश दिए। जाजमऊ में बने सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट को देखा। अफसरों ने बताया कि रामेश्वर घाट नाला, रानी घाट नाला, गोला घाट नाला, सत्तीचौरा घाट नाला व मैस्कर घाट नाला का बायोरेमिडेशन कराया जाना है। इस बाबत मुख्य अभियंता से रिपोर्ट तलब की। वहीं निरीक्षण के दौरान स्वरूप नगर, समेत कई जगह फैली गंदगी और मलबा दिखा, जिसे साफ कराने के आदेश दिए। बड़े 10 बकाएदारों की सूची बना भेजें नोटिस, कानपुर: विकास कार्यो के साथ ही आय बढ़ाने को लेकर नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने अफसरों को आदेश दिए कि गृहकर के बड़े दस बकाएदारों की सूची तैयार की जाए। उनको नोटिस भेजने के साथ ही प्रकाशित की जाए। नगर आयुक्त ने बुधवार शाम सभी अपर नगर आयुक्त व राजस्व अफसरों के साथ बैठक कर जोनवार वसूली की समीक्षा की। इस वित्तीय वर्ष में 230 करोड़ रुपये लक्ष्य तय हुआ है। अभी तक मात्र 20 फीसद यानी 46 करोड़ रुपये ही वसूली हुई है। जीआइएस सर्वे पर राजस्व निरीक्षकों द्वारा संतोषजनक उत्तर न देने पर नाराजगी जताई। कहा कि जोनल अधिकारी भी क्षेत्र में जाकर जीआइएस सर्वे को चेक करें, ताकि जनता के बीच जो भ्रांति हो रही है, उसमें सुधार किया जाए। निरीक्षण पर नहीं निकले अफसर, लगे गंदगी के ढेर, कानपुर : नगर आयुक्त के आदेश के बाद भी सुबह सात बजे कई अफसर अपने क्षेत्र में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण करने नहीं जा रहे हैं। इसी का नतीजा है कि कई इलाकों में गंदगी के ढेर लगे हुए हैं, जिनमे बेसहारा जानवरों की धमाचौकड़ी के चलते राहगीरों व वाहन चालकों का निकलना दूभर हो गया है। सुबह निरीक्षण पर न जाने वाले अफसरों को चिह्नित किया जा रहा है। नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने सभी जोनल प्रभारी, अभियंता व स्वास्थ्य अधिकारियों को आदेश दिए हैं कि सुबह सात बजे अपने-अपने क्षेत्र में घुमकर कूड़े का निस्तारण कराएंगे। साथ ही अपर नगर आयुक्त, नगर स्वास्थ्य अधिकारी और जलकल महाप्रबंधक भी निरीक्षण करेंगे। इसके बाद भी तमाम अफसर सुबह घर से नहीं निकल रहे हैं। इसके चलते गुजैनी हाईवे पर दोपहर तक कूड़े के ढेर लगे रहे। यही हाल किदवईनगर, बाबूपुरवा, न्यू सिविल लाइंस, दलेलपुरवा समेत कई क्षेत्रों मे दिखा। नगर आयुक्त ने गुपचुप ढंग से सुबह निरीक्षण पर नहीं जाने वाले अफसरों को चिह्नित कराना शुरू कर दिया है। ऐसे अफसरों पर कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.