फतेहपुर: चाकलेट दिलाने के बहाने मासूम बच्चियों को जंगल ले गया पड़ोसी, दुष्कर्म का किया प्रयास, पुलिस हत्थे चढ़ा

मलवां थाने के एक गांव निवासी 05 वर्षीय मासूम बच्ची व 04 वर्षीय बच्ची घर के दरवाजे पर खेल रहीं थी। तभी इनका पड़ोसी संदीप उर्फ सोनू निषाद आ धमका। बच्चियों को चाकलेट दिलाने के बहाने उन्हें जंगल की ओर उठा ले गया और दुष्कर्म का प्रयास करने लगा।

Shaswat GuptaSat, 23 Oct 2021 09:57 PM (IST)
चाकलेट दिलाने के बहाने मासूम बच्चियों को जंगल ले गया पड़ोसी। प्रतीकात्मक फोटो।

फतेहपुर, जेएनएन। थाना क्षेत्र के एक गांव में शनिवार देर शाम चाकलेट व टाफी दिलाने के बाहने पड़ोसी दो मासूम बच्चियों को अगवा कर पड़ोसी जंगल की ओर ले गया। वहां उनके साथ दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। बच्चियों की चीख पुकार सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचकर नशेड़ी को पकड़कर पिटाई की। फिर पीआरवी टीम के सिपुर्द कर दिया। 

मलवां थाने के एक गांव निवासी 05 वर्षीय मासूम बच्ची व 04 वर्षीय बच्ची शाम सात बजे के करीब घर के दरवाजे पर खेल रहीं थी। तभी इनका पड़ोसी संदीप उर्फ सोनू निषाद आ धमका। बच्चियों को चाकलेट दिलाने के बहाने उन्हें जंगल की ओर उठा ले गया और दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। बच्चियां रोने बिलखने लगी तो खेतों में काम कर रहे किसान आरोपित को धर दबोचा,  और आरोपित की जमकर पिटाई कर दी। ग्रामीण किसी अधिकारी के आने की मांग कर रहे थे। खबर पाकर सीओ सिटी संजय कुमार सिंह व एसओ मौके पर पहुंचे। 

पाक्सो एक्ट के तहत हो रही रिपोर्ट: एसओ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि अनुमान है कि घटना के समय भी आरोपित नशे में था। जिसे पकड़ लिया गया है। आरोपित पर पाक्सो एक्ट के तहत दुष्कर्म के प्रयास की रिपोर्ट दर्ज की जा रही है और बच्चियों का मेडिकल परीक्षण को भेजा जाएगा।

छेड़छाड़ करने के विरोध में मां-बेटी को पीटा: ललौली थाने के एक गांव में घर में घुसकर छेड़छाड़ करने का विरोध करने पर पड़ोसियों ने मां-बेटी को मारपीट कर धमकी दी। पीडि़ता की तहरीर पर पुलिस ने हमलावर सगे भाइयों समेत तीन पर एससी-एसटी एक्ट के तहत घर में घुसकर छेड़छाड़ व मारपीट कर धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। ललौली थाने के एक गांव निवासी पीडि़ता ने थाने मेें तहरीर दिया है कि 21 अक्टूबर को पड़ोसी गोरे घर में घुस आया और बेटी का हाथ पकड़कर छेड़छाड़ करने लगा। उसने इसका विरोध किया तो गोरे ने उसे मारापीटा। इसके बाद बेटी को भी पीटा। इसके बाद आरोपित गोरे के भाई कल्लू व पिता बुद्धराज आए तो उनसे पूरी बात बताई। इसके बावजूद उक्त लोगों ने मिलकर उसे पीटकर अपशब्द कहे। एसओ अमित मिश्र ने बताया कि आरोपित सगे भाइयों गोरे, कल्लू व उसके पिता बुद्धराज पर रिपोर्ट दर्ज कर घायल को मेडिकल परीक्षण के लिए अस्पताल भेजा गया है। मुकदमें की विवेचना सीओ जाफरगंज कर रहे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.