Love Jihad Case Kanpur: पीडि़ता के घर पर दारोगा का हंगामा, शिकायत से झल्लाकर उतारा गुस्सा

कानपुर में कुलीबाजार की लव जिहाद की पीड़िता की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं अब शिकायत करने से नाराज दारोगा ने उसके घर पर हंगमा किया और अपमानित करने का प्रयास किया। अब पुलिस ने दारोगा के खिलाफ जांच शुरू कर दी है।

Abhishek AgnihotriThu, 02 Dec 2021 09:57 AM (IST)
कानपुर में लव जिहाद पीड़िता व बहन से मारपीट।

कानपुर, जागरण संवददाता। लव जिहाद की शिकार युवती से जांच में सहयोग के नाम पर रिश्वत मांगने वाले दारोगा ने बुधवार को जमकर हंगामा किया। शिकायत से झल्लाया दारोगा सुबह दलबल के साथ उसके घर आ धमका और मोहल्ले में भीड़ जमा करके पीडि़ता को अपमानित करने की कोशिश की। इस पर भी जब उसका जी नहीं भरा तो उसने पीडि़ता के घर नोटिस चस्पा कर दी। आरोप तो यहां तक हैं कि जब पीडि़ता की छोटी बहन ने इसका विरोध किया तो दारोगा व साथ गए दूसरे दारोगा ने उसके साथ मारपीट भी की। पीडि़ता ने मामले की शिकायत एसीपी कोतवाली से की है, जिसके बाद मामले में जांच शुरू करा दी गई है।

कुली बाजार निवासी लव जिहाद पीडि़त युवती की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। पहले प्रेमी बनकर सैफ रहमान नामक युवक ने न केवल दुष्कर्म की वारदात को उसके साथ अंजाम दिया, बल्कि उससे पांच लाख रुपये भी हड़प लिए। पुलिस ने शिकायत के बाद मुकदमा दर्ज नहीं किया। दैनिक जागरण ने जब युवती की समस्या को लेकर खबर प्रकाशित की तो उच्चाधिकारियों के निर्देश पर मुकदमा भी दर्ज हुआ और आरोपित भी गिरफ्तार होकर जेल गया। मगर, अब समस्या यह है कि मामले की विवेचना कर रहा दारोगा प्रेम शंकर आरोपित की गिरफ्तारी के एवज में रिश्वत की मांग करने लगा।

इस मामले की खबर दैनिक जागरण ने बुधवार के अंक में प्रकाशित की तो दारोगा जी ने आपा खो दिया। एक अतिरिक्त दारोगा, एक महिला सिपाही व कुछ अन्य सिपाहियों को लेकर दारोगा जी लव जिहाद पीडि़ता के घर कुछ ऐसे पहुंचे, जैसे कोई बड़ा बदमाश पकडऩे आए हों। इसके बाद दारोगा ने मोहल्ले के लोगों को जमा किया और सबके सामने पीडि़ता के घर के बाहर एक नोटिस चस्पा किया। इन नोटिस में पीडि़ता की मां से बयान दर्ज कराने को कहा गया है।

दारोगा यह बात मौखिक रूप से भी कह सकते थे, लेकिन केवल पीडि़ता को अपमानित करने के उद्देश्य से उन्होंने यह हंगामा किया। पीडि़ता का आरोप है कि जब घर में अकेली मौजूद उसकी छोटी बहन ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट व गालीगलौज की गई। बाद में इस घटनाक्रम को लेकर पीडि़ता एसीपी कोतवाली अशोक कुमार ङ्क्षसह से मिली, जिसके बाद इस मामले में जांच के आदेश दिए गए हैं। एसीपी ने बताया कि मामला गंभीर है। जांच की जा रही है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.