उन्नाव: दोषी पाए जाने पर लाइनहाजिर दारोगा पर छेड़छाड़ व एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज

मुकदमा दर्ज होने को दिखाती प्रतीकात्मक तस्वीर
Publish Date:Fri, 25 Sep 2020 11:03 PM (IST) Author: Abhishek Agnihotri

उन्नाव, जेएनएन। औरास थाना में तैनात दारोगा नारेंद्र सिंह के खिलाफ उसी थाना में युवती से छेड़छाड़, एससीएसटी एक्ट, जानबूझकर चोट पहुंचाना व अपमान करने व धमकी देने की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है। यह कार्रवाई जांच में उसके दोषी मिलने पर की गई। वहीं विवेचना के लिए सीओ की अगुवाई में विशेष टीम भी बनाई गई है। इससे पहले दारोगा को एसपी ने लाइनहाजिर कर दिया था।

12 सितंबर को आपसी विवाद के मामले को लेकर युवती अपनी मां के साथ औरास थाना में शिकायत लेकर गई थी। दारोगा ने उसे बात करने को अपने कमरे में बुलाया और मां को प्रार्थनापत्र की फोटोकॉपी कराने के लिए भेज दिया। नशे की हालत में दारोगा ने युवती से छेड़छाड़ की थी। पीडि़ता ने मां को घटना बताई। पीडि़ता ने एसओ से इसकी शिकायत की। एसओ के सुनवाई न करने पर युवती ने एसपी से गुहार लगाई। इस बारे में सीओ बांगरमऊ अंजनी कुमार राय ने बताया कि प्रथम ²ष्टया जांच के बाद दारोगा को लाइन हाजिर किया गया था। अब जांच पूरी होने पर रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को सौंपी गई।

इनका ये है कहना

सीओ बांगरमऊ व महिला इंस्पेक्टर की जांच के बाद एसआइ के खिलाफ औरास थाना में मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच को एक सर्किल रैंक अधिकारी, एक इंस्पेक्टर व एक महिला सब इंस्पेक्टर की स्पेशल विवेचना टीम बनाई गई है। विवेचना के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। - आनंद कुलकर्णी, एसपी।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.