Kanpur Triple Murder Case: हत्यारोपित डाक्टर के बारे में पुलिस को मिला क्लू, अटल घाट के कैमरे में हुआ कैद

कल्याणपुर थानाक्षेत्र के इंदिरानगर क्षेत्र स्थित डिविनिटी होम्स अपार्टमेंट निवासी डाक्टर सुशील कुमार ने शुक्रवार की सुबह अपनी पत्नी चंद्रप्रभा बेटी खुशी और बेटे शिखर घर में हत्या कर दी थी। तीनों के शव अलग-अलग कमरों में पड़े मिले थे।

Shaswat GuptaTue, 07 Dec 2021 09:46 PM (IST)
अटल घाट के पास मौजूद हत्यारोपित डाक्टर।

कानपुर, जागरण संवाददाता। पत्नी, बेटे और बेटी की हत्या कर फरार हुए डाक्टर सुशील कुमार को लेकर चल रही कहानी और उलझ गई है। अटल घाट पर लगे सीसीटीवी कैमरों में शुक्रवार की दोपहर 3.10 बजे से शाम 5.16 तक डाक्टर की मौजूदगी के प्रमाण मिल रहे हैं। इस तथ्य के सामने आने के बाद पुलिस अब और सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है, लेकिन आत्महत्या से जुड़ा कोई सबूत पुलिस को नहीं मिला है।

कल्याणपुर थानाक्षेत्र के इंदिरानगर क्षेत्र स्थित डिविनिटी होम्स अपार्टमेंट निवासी डाक्टर सुशील कुमार ने शुक्रवार की सुबह अपनी पत्नी चंद्रप्रभा बेटी खुशी और बेटे शिखर घर में हत्या कर दी थी। तीनों के शव अलग-अलग कमरों में पड़े मिले थे। तीनों को जहर देकर बेहोश करने के बाद डाक्टर ने इस घटनाक्रम को अंजाम दिया। पत्नी के सिर उन्होंने हथौड़े से कुचल दिया, जबकि बच्चों की हत्या गला दबाकर की। इस घटना की जानकारी तब हुई जब शुक्रवार की शाम 5:32 पर डाक्टर सुशील ने आवास विकास-3 निवासी अपने भाई डाक्टर सुनील को मैसेज करके लिखा कि पुलिस को इनफॉर्म करो मैंने डिप्रेशन में...। इसके बाद डाक्टर सुशील पुलिस के साथ डिविनिटी होम्स पहुंचे तो उन्हें वहां तीनों लाशें पड़ी मिलीं।

तब से डाक्टर सुशील का कोई अतापता नहीं है। उन्हें दोपहर 1.10 बजे अपार्टमेंट से बाहर आते और लगभग सवा दो बजे अपार्टमेंट से 200 मीटर दूर एक सीसीटीवी कैमरे में पैदल जाते देखा गया। डाक्टर के मोबाइल फोन की आखिरी लोकेशन गंगा किनारे अटल घाट से सरसैया घाट के बीच मिली थी। जिससे यह अंदाजा लगाया जा रहा था कि डाक्टर ने गंगा में कूदकर आत्महत्या कर ली है।

अब इस कहानी में नया ट्विस्ट आ गया है। अटल घाट पर लगे सीसीटीवी कैमरों को देखने पर सामने आया है कि डाक्टर सुशील अटल घाट पर आए थे। सीसीटीवी फुटेज के हिसाब से उन्हें दोपहर 3.10 बजे अटल घाट पर प्रवेश करते हुए देखा गया। वह सीधे सीढ़ियों से नीचे गए और कुछ देर बाद ऊपर आ गए। इसके बाद दोपहर बाद 4.27 बजे अटल घाट में बने लान में टहलते नजर आए। अटल घाट के सीसीटीवी कैमरों में उन्हें आखिरी बार शाम 5.16 देखा गया, जिसमें वह दोबारा से सीढ़ियों से नीचे जाते दिखाई पड़ रहे हैं। नीचे जाकर वह दाहिनी ओर मुड़ गए।

सीसीटीवी फुटेज का मतलब: सीसीटीवी फुटेज में साफ दिखाई पड़ रहा है कि शाम सवा पांच बजे तक अटल घाट की सीढ़ियों पर भीड़ थी। ऐसे में इतने लोगों के सामने आत्महत्या की संभावना कम ही है। एक तथ्य यह भी है कि डाक्टर सुशील ने अपने भाई डाक्टर सुनील को शाम 5.32 बजे वाट्सएप पर मैसेज किया था। यानी उस समय तक डाक्टर जीवित थे। एक अनुमान यह लगाया जा रहा है कि हो सकता है कि डाक्टर ने अंधरा होने का इंतजार किया हो और सुनसान होने पर आत्महत्या की हो। मगर एक तथ्य यह भी है कि इस दौरान उनके मोबाइल की लोकेशन अटल घाट से सरसैया घाट की ओर जाती मिली है। इससे संभावना यह भी जताई जा रही है कि डाक्टर ने मुफीद समय न देखकर गंगा के किनारे-किनारे पैदल की रास्ता पकड़ लिया हो। आगे जाकर उन्होंने आत्महत्या की या वह और कहीं चले गए, इस सवाल का जवाब अभी भी पुलिस के पास नहीं है।

इनका ये है कहना: 

अटल घाट पर लगे सीसीटीवी फुटेज में डाक्टर सुशील को देखा गया है। हालांकि वह सीढ़ियों से नीचे जाते हुए और ऊपर आते हुए दिखाई दे रहा है। आत्महत्या की या नहीं, अभी भी स्पट नहीं है। - बीबीजीटीएस मूर्ति, डीसीपी पश्चिम

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.