Govind Nagar Apartment Daicoti: रोडवेज बस से आए थे बदमाश, पुलिस ने जारी किया एक स्केच

गोविंद नगर के अपार्टमेंट में डकैती के मामले में छह दिन बाद कानपुर पुलिस अबतक एक बदमाश का स्केच जारी किया है और बदमाशों के रोडवेज बस से आने की जानकारी मिली हे। वहीं टावर डाटा में 75 संदिग्ध नंबर मिले हैं।

Abhishek AgnihotriThu, 23 Sep 2021 09:54 AM (IST)
अपार्टमेंट में डकैती के मामले की पुलिस जांच कर रही है।

कानपुर, जेएनएन। गोविंद नगर के शिवम इन्क्लेव अपार्टमेंट में डकैती की वारदात को छह दिन बीत गए हैं। छह दिन बाद भी डकैतों को पुलिस नहीं पकड़ पाई है। पुलिस का मानना है कि बदमाश रोडवेज बस से आए थे। घटना को अंजाम देकर अलग-अलग गुट में निकल गए। पुलिस ने बुधवार रात एक आरोपित का स्केच जारी किया है। वहीं पुलिस बेस ट्रांसीवर स्टेशन (बीटीएस) और सीसीटीवी फुटेज के सहारे बदमाशों की धर पकड़ का प्रयास कर रही है।

टी-ब्लाक गोविंद नगर स्थित शिवम इन्क्लेव अपार्टमेंट में बीते 16 सितंबर की देर रात औरैया निवासी गार्ड वीरेंद्र वर्मा और पहली मंजिल पर अकेले रहने वाली वृद्धा आशा गुप्ता को असलहाधारी बदमाशों ने मारपीट कर बंधक बनाने के बाद 1.57 लाख की नकदी और 14 लाख के जेवर लूटे थे। बदमाश अपार्टमेंट में रहने वाले दो परिवारों की साइकिल लेकर भागे थे। शातिर कई स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए थे। आखिरी लोकेशन घंटाघर स्टेशन के पास मिली थी। स्टेशन के फुटेज में बदमाश कैद नहीं हुए थे। एडीसीपी साउथ ने बताया कि छानबीन में सामने आया है कि बदमाश रोडवेज बस से झकरकटी बस अड्डे आए थे। यहां से वह गोविंद नगर गए। घटना को अंजाम देने के बाद दो ग्रुप में वहां से निकले थे।

तीन बदमाश आटो से और दो साइकिल लेकर निकले थे। आटो वाले बदमाश स्टेशन की ओर तो साइकिल लेकर भागे बदमाश टुनटुनिया फाटक के बाद बस अड्डे के पिछले गेट से अंदर हो गए। माना जा रहा है कि दो बदमाशों ने रोडवेज से ही वापसी की है। पुलिस रोडवेज के डिपो के बारे में जानकारी जुटा रही है। आटो चालक को किराया देने वाले लुटेरे का स्केच तैयार कराया गया था। इसे आशा गुप्ता को भी दिखाया गया। वह पूरी तरह उसे पहचान नहीं पाईं। उनका कहना था कि वारदात के दिन सभी बदमाश मास्क पहने थे। बीटीएस में सात सौ से अधिक नंबरों में 75 संदिग्ध नंबर निकले थे। इनका सत्यापन कराया जा रहा है।

पेंटिंग ठेकेदार से पूछताछ में भी नहीं मिला सुराग : पुलिस ने बिल्डिंग में पेंटिंग करने वाले पेंटिंग ठेकेदार जब्बार को उठाया था। जब्बार ने कुछ समय पहले ही बुजुर्ग महिला के घर पेंटिंग का काम किया था। इसी शक के आधार पर पुलिस ने उसे उठाया था। हालांकि जब्बार से हुई पूछताछ में पुलिस को कुछ हाथ नहीं लगा है। पुलिस ने जब्बार के साथ काम करने वाले अन्य लोगों के भी मोबाइल नंबर लिए हैं। इनकी सीडीआर निकलवाई जा रही है।

-एक बदमाश का स्केच जारी किया गया है। बदमाशों के रोडवेज बस से आने की जानकारी हुई है। झकरकटी बस अड्डे के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। डिपो आदि की भी जानकारी ली जा रही है। -डा. अनिल कुमार, एडीसीपी साउथ

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.