Covid Vaccination Kanpur: वैक्सीनेशन में भी आंकड़ों का खेल, जानिए- आज कहां-कहां लगाई जा रही वैक्सीन

कानपुर में आज भी टीकाकरण अभियान। फाइल फोटो

कानुपर में वैक्सीनेशन के लिए रिपोर्ट में 2800 का लक्ष्य था और 3545 को वैक्सीन लगाई गई है जो सवाल खड़े कर रही है। यह तब है जब कोविन पोर्टल पर पंजीयन कराने वालों का ही वैक्सीनेशन किया जा रहा है।

Abhishek AgnihotriWed, 12 May 2021 08:55 AM (IST)

कानपुर, जेएनएन। इसे चाहे गलती से हुई चूक कहा जाए या फिर सब अच्छा दिखाने के लिए तैयार आंकड़ों का खेल, लेकिन कुछ न कुछ तो ऐसा है जो वैक्सीनेशन की जारी होने वाली रिपोर्ट पर ही सवाल खड़े कर रहा है। वह है मंगलवार के टीकाकरण का लक्ष्य और उसके मुकाबले लाभार्थियों को लगे टीके। इसको तैयार करके स्वास्थ्य विभाग फीसद को बेहतर दिखा रहा है। विभाग की ओर से 18 से 44 साल के लाभार्थियों के लिए 2800 का लक्ष्य रखा गया, जबकि 3545 को टीके लग गए। ठीक उसी तरह, जैसे कोरोना से होने वाली मौतों की सरकारी रिपोर्ट और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग कहानी बयां करते हैं। बुधवार को भी 18 से 45 वर्ष और 45 से अधिक आयु वालों का वैक्सीनेशन अलग अलग सेंटरों पर किया जा रहा है।

अधिक टीकाकरण खड़े कर रहा सवाल

युवाओं के वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण के बाद स्लॉट और केंद्र निर्धारित किए जाने की प्रक्रिया तय है। ऐसे में अधिक लाभार्थियों का टीकाकरण होना अभियान पर ही सवाल खड़े कर रहा है। सोमवार को स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की ओर से 21 केंद्रों पर वैक्सीनेशन लगने की प्लाङ्क्षनग हुई, जबकि रिपोर्ट में सिर्फ 15 केंद्रों को दिखाया गया। मंगलवार को केंद्रों पर वैक्सीन लगी और शाम की रिपोर्ट में 126 फीसद युवाओं का टारगेट पहुंच गया। अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. जीके मिश्रा ने बताया कि उन्हें जानकारी नहीं है। जिले वालों ने रिपोर्ट तैयार की है। अब उन्होंने किस तरह से वैक्सीन के लक्ष्य और टीकाकरण की रिपोर्ट बनाई, उसका पता नहीं है।

45 प्लस के 9424 लाभार्थियों को लगी वैक्सीन

शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में 45 साल से अधिक आयु के लाभार्थियों के लिए 84 टीकाकरण केंद्र बनाए गए। यहां 11970 का लक्ष्य रखा गया, जिसमें 9424 ने वैक्सीन लगवाई। 5890 को पहली डोज लगी, जबकि 3534 को दूसरी डोज लगाई गई। आठ केंद्रों पर सिर्फ कोवैक्सीन की दूसरी डोज लगाने का टारगेट था।

आज यहां लगेगी वैक्सीन

45 साल से अधिक : सीएचसी कल्याणपुर, सरसौल, बिधनू, बिल्हौर, शिवराजपुर, चौबेपुर, ककवन, घाटमपुर, पतारा, भीतरगांव, पीएचसी पनकी, मंधना, भौंती, नर्वल, पाली, गुजैनी, मेहरबान ङ्क्षसह का पुरवा, उत्तरीपुरा, बनसठी, तरीपाठकपुर, बरईगढ़, नानकारी, अर्मापुर, रावतपुर, मिर्जापुर, जागेश्वर अस्पताल, जय प्रकाश नगर, जूही, उस्मानपुर, बर्रा, जरौली, ग्वालटोली, एसएडी हरजिंदर नगर, जाजमऊ, नौबस्ता, बीएन भल्ला हॉस्पिटल, गंगापुर, धरीपुरवा, उर्सला, डफरिन, पुलिस लाइन हॉस्पिटल, चाचा नेहरू हॉस्पिटल, अनवरगंज, रायपुरवा, जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज, ज्योरा, नवाबगंज, सीसामऊ, दर्शनपुरवा, रामबाग, कैंट, कृष्णा नगर, कंबाइंड हॉस्पिटल, लोको हॉस्पिटल।

18 से अधिक 45 वर्ष से कम : सीएचसी कल्याणपुर, सरसौल, बिधनू, बिल्हौर, चौबेपुर, घाटमपुर, पीएचसी सीएसजेएमयू, बिठूर, अर्बन पीएचसी बैरी, गुजैनी, जागेश्वर हॉस्पिटल, ग्वालटोली, एसएडी हरङ्क्षजदर नगर, किदवई नगर, केपीएम हॉस्पिटल, चाचा नेहरू हॉस्पिटल, जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज, हुमायूं बाग, नेहरू नगर, कैंट, उर्सला हॉस्पिटल।

कौवैक्सीन की दूसरी डोज : सीएचसी कल्याणपुर, पीएचसी अमौर, अर्बन पीएचसी गुजैनी, किदवई नगर, नेहरू नगर, डफरिन अस्पताल।

केवल पंजीयन पर ही लगेंगे टीके : सीएमओ डॉ. नेपाल सिंह ने बताया कि टीकाकरण केंद्रों पर टीके सिर्फ पंजीयन के बाद आवंटित वैक्सीनेशन सेंटर पर ही लगेंगे।

गाइड लाइन के बाद ही नर्सिंगहोम में लगेंगे टीके : नर्सिंगहोम में कोरोना का टीकाकरण शासन की गाइड लाइन के बाद ही लगाया जाएगा। उससे पहले स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोई भी प्लानिंग नहीं है। डॉ. जीके मिश्रा ने बताया कि शासन की ओर से 30 अप्रैल को निर्देश थे कि जितने भी निजी अस्पतालों के पास वैक्सीन है, उसे वापस ले ले लिया जाए। नर्सिंगहोम की ओर से वैक्सीन वापस की गई हैं। उनकी राशि शासन की ओर से उन्हें दी जा रही है। अभी तक किसी तरह की कोई प्लानिंग नहीं है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.