कानपुर के सौभाग्य ने तैयार की Touchless Doorbell, कोरोना के खतरे से रखेगी दूर, जानिए- किस लागत में हुई तैयार

इसके बाद निर्माण के लिए किसी निजी कंपनी को तकनीक देंगे।

Coronavirus Prevention News पं.दीनदयाल उपाध्याय सनातन धर्म विद्यालय के आठवीं में पढऩे वाले सौभाग्य त्रिपाठी ने ऐसी टचलेस सेंसरयुक्त डोरबेल बनाई है जिसे बिना छुए ही बजाया जा सकेगा। अब सौभाग्य इसे पेटेंट कराने की तैयारी में हैैं।

Shaswat GuptaFri, 23 Apr 2021 10:55 AM (IST)

कानपुर, [समीर दीक्षित]। Coronavirus Prevention News कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की वजह से लोग बाहरी वस्तुएं छूने से घबराते हैं। अगर छू भी लिया तो फौरन हाथ धोते हैैं या सैनिटाइज करते हैैं। ऐसे में लोगों की सहूलियत और उन्हें वायरस से दूर रखने के लिए पं.दीनदयाल उपाध्याय सनातन धर्म विद्यालय के आठवीं में पढऩे वाले सौभाग्य त्रिपाठी ने ऐसी टचलेस सेंसरयुक्त डोरबेल बनाई है, जिसे बिना छुए ही बजाया जा सकेगा। यानी आपके हाथ के इशारे पर डोरबेल बजेगी और कोरोना के खतरे से भी महफूज रहेंगे। हालांकि, जहां इसे लगाया जाएगा वहां यह सूचना दर्शानी होगी कि कृपया बेल को हाथ न लगाएं। इस बेल को विद्यालय में खूब सराहना मिली, अब सौभाग्य इसे पेटेंट कराने की तैयारी में हैैं। इसके बाद निर्माण के लिए किसी निजी कंपनी को तकनीक देंगे।

टिंकर इंडिया लैब में तैयार हुई: सौभाग्य बताते हैं, कि उन्होंने इसे विकास नगर स्थित टिंकर इंडिया लैब में तैयार किया। आमजन इसका उपयोग घरों, कार्यालयों आदि में कर सकते हैं। इसे महज 250 रुपये की लागत में तैयार किया जा सकता है। बेल बनाने में लैब के संस्थापक कौस्तुभ ओमर का मार्गदर्शन मिला।

ऐसे तैयार की है बेल: बेल तैयार करने में मुख्य रूप से इंफ्रारेड सेंसर, बजर, एसी टू डीसी एडॉप्टर का प्रयोग किया गया है। इसे बनाने में ज्यादा वक्त नहीं लगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.