कानपुर के इस क्षेत्र में गंदगी और कूड़े से परेशान हैं लोग, दुआ करने कृूड़े पर चलकर जाते नमाजी

बजरिया से नाला रोड जाने वाले रास्ते पर कोई दिन ऐसा नहीं होता जब कूडे का अंबार नहीं लगा मिलता है। सफाई कर्मी बीच सड़क पर ही कूड़ा फेंक देते है। क्षेत्रीय लोगों ने इसकी कई बार शिकायत भी की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

Shaswat GuptaWed, 22 Sep 2021 02:56 PM (IST)
कानपुर में जाम की स्थिति से संबंधित खबर की प्रतीकात्मक फोटो।

कानपुर, जेएनएन। कूड़े के अंबार से कई क्षेत्रों में हर दिन जाम लगता है। सफाई कर्मचारी कूड़ाघर में कूडा़ न डाल इससे बीच सड़क पर फेंक देते हैं। इसकी वजह से सड़क अवरुद्ध हो रही है। कूड़े की वजह से वाहन सवार निकल नहीं पाते हैं वहीं सड़ांध की वजह से क्षेत्रीय लोगों को भी परेशान होना पड़ रहा है। कूड़े की वजह से अकसर लोग फिसल कर गिर भी जाते हैं।

बजरिया से नाला रोड जाने वाले रास्ते पर कोई दिन ऐसा नहीं होता जब कूडे का अंबार नहीं लगा मिलता है। सफाई कर्मी बीच सड़क पर ही कूड़ा फेंक देते है। क्षेत्रीय लोगों ने इसकी कई बार शिकायत भी की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। दोपहर बाद कूडा उठाया जाता है। इस दौरान जाम की स्थिति बनी रहती है। यही हाल नाला रोड का बी है। रूपम से नाला रोड जाने वाले रास्ते पर भी कूड़ा घर के सामने सड़क पर कूड़ा बिखरा रहता है। यहां आसपास स्कूल होने से बच्चों को परेशानी उठानी पड़ती है। कर्नलगंज लकड़मंडी में सड़क पर ही कूड़े का ढेर लगा रहता है। कई बार कूड़े की वजह से रास्ता जाम हो जाता है। यहां से वाहनों का निकलना मुश्किल होता है। लोग दूसरे रास्तों से यतीमखाना व बजरिया की तरफ जाते हैं। यहां बने कूड़े घर को हटवाने अथवा इसे कवर कराने तथा समय से कूड़ा उठाने के लिए क्षेत्रीय लोगों ने कई बार प्रयास किए। पार्षद, विधायक से लेकर नगर निगम अधिकारियों से भी शिकायत की लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा।

कर्नलगंज लकड़मंडी में जीजीआइसी स्कूल की दीवार से मिला हुआ कूड़ाघर है। आसपास के क्षेत्रों का कूड़ा यहीं आकर एकत्र होता है। कूड़े को कूड़ाघर कि बजाय सफाई कर्मी सड़क पर ही डाल जाते हैं। सड़क पर लगे कूड़े के अंबार से पूरी सड़क ढकी रहती हैं। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि गंदगी व सड़ांध की वजह से लोग परेशान हैं। इसी रास्ते पर जनाजे वाली मस्जिद है। यहां जनाजे लेकर लोग नमाज के लिए आते हैं। इसके बाद कब्रिस्तान जाते हैं। ऐसे में उन्हें कूड़े के ऊपर से ही जाना पड़ता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.