ईज ऑफ लिविग इंडेक्स में कानपुर 28वें नंबर पर

ईज ऑफ लिविग इंडेक्स में कानपुर 28वें नंबर पर

मेट्रो और स्मार्ट सिटी का दर्जा प्राप्त होने के बाद भी शहर को नहीं मिला सम्मान जनक स्थान।

JagranFri, 05 Mar 2021 01:49 AM (IST)

जेएनएन, कानपुर : मेट्रो और स्मार्ट सिटी का दर्जा प्राप्त होने के बाद भी शहर ईज ऑफ लिविग इडेंक्स 2020 में शामिल 111 शहरों में 28 वें स्थान पर है। हालांकि वरिष्ठ नागरिकों की सहभागिता में शहर आठवें नंबर पर है। अभी प्रदूषण रोकने, टूटी सड़कों की मरम्मत, पेयजल व्यवस्था करने,शिक्षा, स्वास्थ्य सेवाओं समेत अन्य मूलभूत सुविधाओं को और बेहतर करना है। ईज ऑफ लिविग इंडेक्स 2020 में बेंगलुरु और शिमला एक साथ पहले नंबर पर हैं। केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने गुरुवार को सूची जारी की है। इसमें दस लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों को शामिल किया गया है। 111 शहरों के बीच में प्रतिस्पर्धा हो हुई। इसमें कानपुर को 28वां स्थान मिला है। स्वच्छता सर्वेक्षण में कानपुर 25 स्थान पर रहा। पिछली बार 63 वें स्थान पर है। लगातार व्यवस्था बढ़ रही है। कू़ड़े के निस्तारण के साथ ही घर-घर से कूड़ा उठने लगा है। मेट्रो चालू होने और स्मार्ट सिटी मिशन के तहत बचे काम होने पर शहर में और विकास होगा नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी ने बताया कि ईज ऑफ लिविग की प्रतिस्पर्धा पिछले साल नहीं हुई थी। इस बार हुई है। जहां पर कम नंबर मिले हैं उसको बेहतर किया जाएगा।

इस आधार पर होता है आंकलन : आवास, जल प्रबंधन, शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण, परिवहन, बिजली, डिजिटल कनेक्टिविटी, रोजी रोजगार के साधन और अन्य मूलभूत सुविधाएं देखी जाती है। मिन्हाजुल कुरआन के जलसे को लेकर विरोध, कानपुर : डॉ. ताहिरुल कादरी की संस्था मिन्हाजुल कुरआन इंटरनेशनल की ओर से शुक्रवार को होने वाली गरीब नवाज कांफ्रेंस का बज्म-ए-कासमी बरकाती ने विरोध किया है। ईदगाह मैदान बेगमपुरवा में होने वाले जलसे में मारहरा शरीफ के सज्जादानशीन सय्यद अमीन मियां कादरी के शिरकत न करने की जानकारी दी है। बज्म-ए-कासमी बरकाती के सदस्य मास्टर मोहम्मद शाहिद बरकाती ने बताया कि मिन्हाजुल कुरआन इंटरनेशन की ओर से होने वाले जलसे से मारहरा शरीफ के सज्जादानशीन सय्यद अमीन मियां कादरी का कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि मिनहाजुल कुरआन डॉ. ताहिरुल कादरी की संस्था है। उन्होंने लोगों से भी जलसे में शिरकत न करने की अपील की है। उधर, मिन्हाजुल कुरआन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष अब्दुल हमीद खान ने बताया कि जलसे सय्यद मोहम्मद अशरफ, उबैदुल्लाह खां आजमी सहित देश के उलमा व बुद्धिजीवी शामिल होंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.