Panchayat Chunav Unnao : कुवैत में बच्चों को कारोबार सौंप प्रधानी लडऩे उन्नाव के इस गांव में आए कमलेश

गांव के उत्थान को लेकर काम करके देश-प्रदेश में नाम करना चाहते हैं

नवाबगंज क्षेत्र की ग्रामसभा जैतीपुर में वैसे तो प्रधान पद के 13 प्रत्याशी हैं। इन्हीं में से एक हैं कुवैत से चुनाव लडऩे के लिए आए 60 वर्षीय कमलेश विमल। वो कहते हैं कि ग्रामीणों की सेवा करने के लिए अब गांव में ही रहना चाहते हैं।

Akash DwivediSat, 17 Apr 2021 08:22 PM (IST)

उन्नाव, जेएनएन। गांव की सरकार चुनने के लिए हर कोई तत्पर है। विदेश में बसे लोग भी मैदान में उतरकर दो-दो हाथ कर रहे हैं। कुछ ऐसा ही नजारा ग्रामसभा जैतीपुर का है, जहां कई पीढिय़ों से विदेश में लांड्री का कारोबार करने वाले परिवार के एक सदस्य ने खुद को प्रधानी का दावेदार घोषित कर दिया है। उनका कहना है कि अब अपनी जन्मभूमि का विकास करेंगे। हालांकि, ये बात भी दीगर है कि चुनाव में किसी भी सोच से बड़ा जनता का निर्णय है। वही तय करती है कि कौन गांव का विकास करेगा और कौन खुद का। नवाबगंज क्षेत्र की ग्रामसभा जैतीपुर में वैसे तो प्रधान पद के 13 प्रत्याशी हैं। इन्हीं में से एक हैं कुवैत से चुनाव लडऩे के लिए आए 60 वर्षीय कमलेश विमल। वो कहते हैं कि ग्रामीणों की सेवा करने के लिए अब गांव में ही रहना चाहते हैं। यहीं रहकर गांव के उत्थान को लेकर काम करके देश-प्रदेश में नाम करना चाहते हैं।

40 साल पहले गए थे पिता के साथ : कमलेश बताते हैं कि वह 40 साल पहले अपने पिता नन्हा के साथ लांड्री व्यवसाय में हाथ बंटाने के लिए कुवैत गए थे। प्रत्येक दो साल में एक बार गांव जरूर आते थे। यहां कई दिन रहने के बाद लौटते थे।

गांव में रहती परिवार की महिलाएं : गांव में परिवार की महिलाएं रहती हैं और ज्यादातर पुरुष विदेश में लांड्री व्यवसाय से जुड़े हैं। सभी बारी बारी से गांव आते-जाते हैं। बताया कि गांव की बदतर हालत देखकर कुछ करने की इच्छा हुई तो इस बार वापस विदेश ही नहीं गए। तीन माह पहले आए थे, तब से यहीं हैं। पूरा व्यवसाय बच्चों के हवाले कर दिया है।

ये भी हैं प्रधान पद के प्रत्याशी : अजय कुमार, अनिल कुमार, महेश कुमार, पिंकी रावत, कमलेश कुमार, किरन कुमार, गंगा विशुन, उमेश कुमार, विनोद कुमार, सोनू कुमार, अजय प्रकाश, नरायन और ङ्क्षरकी।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.