काफी मशीन इस्तेमाल करते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां, यहां जानें- प्रयोग करने का सही तरीका

How to use coffee machine अलग-अलग साइज में आने वाली इन मशीनों की कीमत साढ़े सात हजार से लगभग 15 हजार रुपये तक होती है। हालांकि अपनी अलग क्वालिटी के कारण आटोकट काफी मशीन की कीमत दूसरे की अपेक्षा कुछ अधिक होती है।

Shaswat GuptaThu, 02 Dec 2021 09:49 PM (IST)
How to use coffee machine तांबे की टंकी वाली उच्चकोटि की काफी मशीन।

कानपुर, [शाश्वत गुप्ता]। How to use coffee machine हाल ही में मध्य प्रदेश के एक जिले से भयानक घटना सामने आई थी, जिसमें शादी समारोह के दौरान काफी मशीन फटने से एक बराती की मौत हो गई थी। प्राय: इस तरह की दर्दनाक घटनाएं सर्दियों में आम हो जाती हैं। दरअसल, सर्दियां शुरू होते ही हर जगह काफी की बिक्री तेज हो जाती है। सामान्यत: घर, आफिस, पार्टी या शादी इत्यादि स्थलों पर लोगों में काफी के प्रति गजब की दीवानगी देखने को मिलती है। भले ही इसे बनाने की प्रक्रिया बेहद आसान है मगर इसे बनाते समय अत्यंत सतर्कता की भी आवश्यकता होती है, जिससे कि इस प्रकार के हादसों से बचा जा सके।

तीन प्रकार की आती हैं काफी मशीन : हटिया के होटल एप्लायंसेस विक्रेता जतन गुप्ता बताते हैं कि सामान्यत: काफी मशीन तीन प्रकार की होती हैं। एक के अंदर तांबे की तो वहीं दूसरी में पीतल की टंकी होती है, जो कि भाप (स्टीम) बनाने में सहायक होती है। इनके अलावा एक आटोकट काफी मशीन भी आती है।

इन कीमतों पर उपलब्ध हैं मशीनें : अलग-अलग साइज में आने वाली इन मशीनों की कीमत साढ़े सात हजार से लगभग 15 हजार रुपये तक होती है। हालांकि अपनी अलग क्वालिटी के कारण आटोकट काफी मशीन की कीमत दूसरे की अपेक्षा कुछ अधिक होती है।  

क्यों फटती हैं काफी मशीन: विक्रेता के मुताबिक काफी मशीन प्रेशर कुकर की भांति ही काम करती है। काफी मशीन में लगे सेफ्टी वाल्व में आने वाली खराबी भाप के निकलने में रुकावट पैदा करती है जिसके कारण मशीन पर दबाव बढ़ता जाता है। हालांकि मशीन पर गैस के दबाव के स्तर की जांच करने के लिए उसमें एक मीटर भी हाेता है, लेकिन जब दबाव तय मानक से अधिक हो जाता है तब मशीन के फटने की या उसमें करंट उतरने की संभावना बढ़ जाती है।

मशीन में क्यों आती हैं दिक्कतें : काफी मशीन के अंदर लगी टंकी में कुछ एलीमेंट होते हैं जो कि पानी काे गर्म कर उसे सही तापमान देने का काम करते हैं। यदि उन तक पानी की सही और प्रचुर मात्रा न पहुंचे तो एलीमेंट खराब हो जाते हैं। गौरतलब है कि मशीन में लगे यही एलीमेंट काफी में झाग पैदा करते हैं। इसके अलावा मशीन के सेफ्टी वाल्व के खराब होने के कारण भी इसमें दिक्कतें आना शुरू हो जाती हैं।

वाल्व की होती है महत्वपूर्ण भूमिका : सेफ्टी वाल्व काफी मशीन का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है। यह मशीन के दबाव को रिलीज करने का काम करता है। इसके खराब हो जाने से मशीन पर अत्यधिक प्रेशर पड़ने लगता है। आमतौर पर इसी वाल्व के जरिए मशीन में खराबी आती है।

इस मशीन को माना जाता है सर्वाेत्तम: तीन प्रकार की आने वाली मशीनों में आटोकट मशीन को ग्राहक ज्यादा पसंद करते हैं। इसकी खासियत है कि इसमें काफी बनाते समय अपने निर्धारित तापमान तक पहुंचने के बाद यह स्वत: बंद हो जाती है। इससे न तो मशीन में ज्यादा भाप बनती है और न ही गैस का दबाव ज्यादा पड़ता है।

मशीन के प्रयोग के दौरान बरतें यह सावधानियां :

काफी मशीन में लगा सेफ्टी वाल्व अच्छी क्वालिटी का हो और इसकी समय-समय पर जांच करें  काफी बनाते समय गैस का प्रेशर चेक करते रहें

 मशीन का उपयाेग करते समय प्रेशर कम हाे

 ज्यादा से ज्यादा भाप न बनने दें  सेफ्टी वाल्व के गर्म होते ही स्विच को बंद कर दें  मशीन का उपयाेग उसकी क्षमता के आधार पर ही किया जाना चाहिए

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.