President Kanpur Visit: पहली बार अपने गांव आ रहे राष्ट्रपति, कानपुर में जनप्रतिनिधियों से जानेंगे शहर का विकास

विशेष ट्रेन से 25 जून की शाम कानपुर आने के बाद राष्ट्रपति सर्किट हाउस में ठहरेंगे और 26 जून को पूरे दिन वहीं रहेंगे। उनके आगमन को लेकर मंडलायुक्त ने अधिकारियों के साथ बैठक करके तैयारियों की रूपरेखा बनाई है।

Abhishek AgnihotriSun, 20 Jun 2021 07:59 AM (IST)
कानपुर में राष्ट्रपति के आगमन पर तैयारियां तेज हुईं।

कानपुर, जेएनएन। राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द शहर में सर्किट हाउस में रुककर जनप्रतिनिधियों से शहर के विकास के बारे में जानकारी लेंगे। उनके कार्यक्रम को लेकर मंडलायुक्त डा. राजशेखर ने अधिकारियों के साथ शनिवार को बैठक की। शहर में दो और कानपुर देहात में भी दो हेलीपैड बनाने का निर्णय लिया गया। वहीं कानपुर देहात में राष्ट्रपति पहली बार अपने गांव पहुंचेंगे, जिसे लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं।

शहर के विकास की लेंगे जानकारी

25 जून की शाम राष्ट्रपति शहर आ जाएंगे। वह रात में सर्किट हाउस में रुकेंगे। अगला दिन उनका कानपुर के लिए है और वह सर्किट हाउस में जनप्रतिनिधियों से मिलेंगे। औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना को बुलाकर वह पहले ही शहर के विकास कार्यों के बारे में जानकारी हासिल कर चुके हैं। अब वह शहर के बाकी जनप्रतिनिधियों से मिलेंगे। उन्होंने पहले जिन कार्यों के लिए कहा था, उन पर भी चर्चा हो सकती है। जनप्रतिनिधियों के अलावा वह शहर के औद्योगिक व व्यापारिक संगठनों के साथ ही अधिवक्ताओं के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात कर सकते हैं। अगले दिन 27 जून को वह कानपुर देहात स्थित अपने गांव परौंख जाएंगे। साथ ही पुखरायां में आयोजित कार्यक्रम में भी शामिल होंगे। उनका विस्तृत कार्यक्रम सोमवार तक आने की उम्मीद जताई जा रही है।

मंडलायुक्त ने की अफसरों संग बैठक

राष्ट्रपति के कार्यक्रम को लेकर मंडलायुक्त ने अधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें तय हुआ कि सेंट्रल स्टेशन से उन्हें सर्किट हाउस ले जाया जाएगा। जब तक राष्ट्रपति कानपुर से लौट नहीं जाएंगे, तब तक ड्यूटी पर मौजूद लोगों के अलावा सिर्फ वह ही अंदर जा सकेंगे, जिनके नाम राष्ट्रपति भवन से स्वीकृत होकर आएंगे। राष्ट्रपति के लिए कानपुर में दो हेलीपैड बनाए जाएंगे। इसमें एक हेलीपैड कैंट स्थित सिविल एयरपोर्ट पर बनेगा। यह जगह सर्किट हाउस से करीब है। दूसरा हेलीपैड एयरफोर्स स्टेशन पर बनाया जाएगा। कानपुर देहात में पुखरायां और परौंख दोनों ही स्थानों पर हेलीपैड बनेंगे। बैठक में पुलिस आयुक्त असीम अरुण, कानपुर के डीएम आलोक तिवारी, कानपुर देहात के डीएम जेपी ङ्क्षसह, एयर कमोडोर एन कार्तिकेयन के अलावा रेलवे, बिजली, पीडब्ल्यूडी के अधिकारी रहे।

गांव की गलियों में पुरानी यादें ताजा करेंगे राष्ट्रपति

पहली बार पैतृक गांव परौंख आ रहे राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द गांव की गलियों में घूमेंगे और बचपन की यादों को ताजा करेंगे। यहां उनकी मुलाकात स्वजन से तो होगी। पुराने मित्रों से भी मिलेंगे जिनके साथ उन्होंने अपना बचपन बिताया है। राष्ट्रपति के आगमन को लेकर गांव में तैयारियां तेजी से की जा रही हैं।

27 जून को हेलीकाप्टर से सुबह 9:20 बजे पैतृक गांव परौंख जाएंगे और फिर वहां से पुखरायां जाएंगे। राष्ट्रपति 9:25 बजे से लेकर 9:55 बजे तक गांव में भ्रमण करेंगे। पथरी देवी मंदिर में दर्शन करेंगे। महारानी झलकारी बाई इंटर कालेज भी जाएंगे, जिसकी स्थापना में राष्ट्रपति का बड़ा योगदान है।

मिलने को उत्साहित है स्वजन

राष्ट्रपति से मिलने को लेकर स्वजन खासे उत्साहित हैैं। उनके भाई प्यारे लाल कोविन्द कहते हैैं कि गांव आने पर पुरानी यादें ताजा हो सकेंगी, इसलिए उन्हें इस दिन का इंतजार है। वहीं उनकी भाभी विद्यावती बोलीं, उनके गांव आने पर सबसे पहले स्वास्थ्य की जानकारी लूंगी। वहीं झींझक में ही रहने वाले बड़े भाई प्यारेलाल कोविन्द व परिवार के अन्य सदस्य भी राष्ट्रपति से मिलने आएंगे। प्यारेलाल ने बताया कि भाई से मुलाकात होने पर हालचाल लेंगे व परिवार की कुशलक्षेम पूछेंगे। राष्ट्रपति स्वजन से मिलने के बाद आंबेडकर भवन और मिलन केंद्र भी जाएंगे, जहां कभी उनका पुस्तैनी घर हुआ करता था। यहां वह अपने बचपन की यादें ताजा करेंगे। पुखरायां में आयोजित कार्यक्रम में वे हिस्सा लेने के बाद अपने मित्र सतीश मिश्रा के घर जाकर उनसे मुलाकात कर सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.