Ind Nz Test Match: ग्रीनपार्क में मैच ड्रा होने पर कोच द्रविड़ ने कही ये बड़ी बात, क्यूरेटर को मैदान में बुलाया

कानपुर में भारत और न्यूजीलैंड के टेस्ट मैच से पहले ग्रीनपार्क की पिच को लेकर तरह-तरह की बातें और भविष्यवाणियां की जा रही थीं लेकिन पांच दिन मैच में रोमांच बना रहने से सारे मिथक टूट गए। मैच समाप्ति पर कोच द्रविड़ ने क्यूरेटर को मैदान में बुलाया।

Abhishek AgnihotriTue, 30 Nov 2021 09:38 AM (IST)
रोमांचक मुकाबला ड्रा होने के बाद इंडियन कोच ने किया सम्मानित।

कानपुर, जागरण संवाददाता। ग्रीनपार्क में भारत और न्यूजीलैंड टेस्ट मैच में टीम इंडिया भले ही जीत न दर्ज कर सकी हो लेकिन मैच से पूर्व पिच को लेकर मची खींचतान पर विराम लग गया। पांच दिन तक रोमांच बना रखने वाले मुकाबले में पिच ने खुद को साबित कर दिया। इतना ही नहीं पूर्व क्रिकटर और इंडियन टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने क्यूरेटर और ग्राउंड स्टाफ को इनाम दिया और बड़ी बात तक कह डाली। कोच राहुल द्रविड़ ने एक बार फिर अपनी दरियादिली का परिचय दिया और यह पहली बार है जब पिच की इतनी तारीफ हुई और स्टाफ को इनाम से नवाजा गया हो।

पांचवें दिन तक मैच में बना रहा रोमांच

कानपुर में भारत और न्यूजीलैंड के टेस्ट मैच से पहले ग्रीनपार्क की पिच को लेकर तरह-तरह की भविष्यवाणी की जा रही थी। कोई पिच को स्पिनर के मुफीद बता रहा था तो कोई मैच को तीन दिन में समाप्त होने की घोषणा कर रहा था। ग्रीनपार्क में जब भी कभी अंतरराष्ट्रीय मैच हुआ तो उससे पहले टीमों के प्रदर्शन से ज्यादा यहां की पिच को लेकर चर्चा होती है। इस बार भी भारत-न्यूजीलैंड टेस्ट मैच से पहले ऐसा कुछ ऐसा ही नजारा दिखा बन गया था। लेकिन रोमांचक मैच पांचवें दिन तक गया। ग्रीनपार्क की पिच ने भी सभी मिथक तोड़ दिए।

कॅरियर में पहली बार देखी ऐसी विकेट

मैच समाप्ति पर टेस्ट क्रिकेट के लिए ग्रीनपार्क के विकेट को बेहतर बताते हुए भारतीय टीम के नए कोच राहुल द्रविड़ ने खुश होकर पिच क्यूरेटर शिव कुमार और ग्राउंट स्टाफ को 35 हजार रुपये इनाम में दिए। द्रविड़ ने बीच मैदान में पिच क्यूरेटर शिवकुमार को बुलाया और पिच की तारीफ करते हुए कहा कि मैंने अपने कॅरियर में पहली बार ग्रीनपार्क की टेस्ट क्रिकेट में इतनी बेहतर विकेट देखी है। यह एक आदर्श टेस्ट विकेट है जो टेस्ट क्रिकेट के लिहाज बेहतर है। भारतीय कोच से सम्मान स्वरूप मिले 35 हजार रुपये को क्यूरेटर शिवकुमार ने अपने स्टाफ में वितरित किया।

हर बार देखने को मिला पिच का अलग रंग

वर्ष 1992 से लेकर अबतक अंतरराष्ट्रीय टेस्ट, 14 एकदिवसीय, एक टी-20 और चार आइपीएल मैच खेले जा चुके हैं। लगभग पांच वर्ष ग्रीनपार्क की पिच पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला खेला गया। जिसमें हर दिन पिच का अलग रंग देखने को मिला। पहले दिन कीवी टीम के तेज गेंदबाजों को मदद मिली। तो तीसरे दिन भारतीय स्पिनर छाए रहे। मैच के चौथे दिन एक बार फिर स्पिनरों की मददगार बताई जा रही पिच पर कीवी टीम के साउथी और जेमिसन ने बेहतर प्रदर्शन किया। पूर्व क्रिकेटरों के मुताबिक पिच से स्पिनर के साथ तेज गेंदबाजों को भी मदद मिल रही थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.