कानपुर के बड़े बाजारों के आगे पुलिस ने घुटने टेके, कोशिशों के बाद भी खाली नहीं हुआ फुटपाथ, जानिए कहां क्या स्थिति

सीसामऊ और गोविंदनगर में फुटपाथ खाली कराने में खाकी अभी तक नाकाम रही है। अशोक नगर कार बाजार में कार्रवाई हुई जिसके बाद दुकानदार सड़क से पीछे हटे मगर फुटपाथ खाली नहीं किया। यहीं हाल कई और बाजारों का है जहां अतिक्रमण परेशान किए है।

Abhishek AgnihotriFri, 03 Dec 2021 10:01 AM (IST)
बिरहाना रोड के फुटपाथ में हुए कब्जे के हटने के बाद निरीक्षण करते पुलिस अधिकारी।

कानपुर, जागरण संवाददाता। फुटपाथ खाली कराने के अभियान में पुलिस ने बड़े बाजारों के आगे घुटने टेक दिए हैं। तमाम कवायदों के बाद भी सीसामऊ बाजार और गोविंदनगर बाजार में पुरानी स्थिति ही बनी हुई है। यहां फुटपाथ तो दूर अफसर सड़क तक खाली कराने में कामयाब नहीं हो सके हैं। वहीं दूसरी ओर अशोक नगर मार्ग पर भी पुलिस व नगर निगम ने स्थानीय दुकानदारों के खिलाफ नाममात्र की कार्रवाई का दिखावा किया, नजीता यह रहा कि यहां दुकानदार कुछ पीछे तो हटे, लेकिन पूरी तरह से फुटपाथ खाली नहीं किया।

महानगर में बेहतर यातायात व्यवस्था की राह में सबसे बड़ा रोड़ा फुटपाथ पर अवैध कब्जे हैं। इसकी वजह से ही पैदल चलने वाले यात्रियों को भी सड़क पर चलना पड़ता है, जिससे सड़क पर लोड बढ़ता है और यही कारण जाम का सबसे बनता है। दैनिक जागरण ने पिछले कुछ समय से फुटपाथ खाली कराए जाने का अभियान चलाया हुआ है। पुलिस आयुक्त असीम अरुण भी स्पष्ट कर चुके हैं कि फुटपाथ पर अवैध कब्जे हर हाल में हटाए जाएंगे। इसकी शुरूआत भी हो चुकी है। जीटी रोड, बिरहाना रोड और गुमटी बाजार में पुुलिस और नगर निगम की संयुक्त टीम फुटपाथ खाली करा चुकी है। मगर, अभियान के दौरान जिन बड़े बाजारों का जिक्र किया गया, उनमें अभी कोई भी बदलाव नजर नहीं आ रहा है। विशेषकर सीसामऊ और गोविंदनगर का बाजार। सीसामऊ में तो दिन चढ़ते ही फुटपाथ तो दूर सड़क तक गायब हो जाती है। सीसीमऊ बाजार को खाली करने के लिए स्थानीय थाना पुलिस ने लाठी तक पटकी। वहीं गोविंदनगर में महापौर प्रमिला पांडेय ने जुर्माना लगाकर अंकुश लगाने की कोशिश की, लेकिन इसके बाद नगर निगम और पुलिस दोनों ठंडे होकर बैठ गए। असल में इस दोनों बड़े बाजारों से पुलिस और निगम को रोजाना लाखों की अवैध कमाई होती है। यही वजह है कि  एक तरफ जहां जीटीरोड, गुमटी और बिरहाना रोड पर कार्रवाई हुई, वहीं इन दोनों बाजारों का फुटपाथ खाली कराने के लिए पुलिस ने कुछ भी नहीं किया।

बिरहाना रोड पर चला कार्रवाई डंडा

ये फुटपाथ हमारा है अभियान के तहत कमिश्नरेट पुलिस ने गुरुवार को बिराहाना रोड पर पहली बार कार्रवाई का डंडा चलाया। यहां पर पिछले दिनों फुटपाथ खाली कराया गया था, लेकिन कई दुकानदारों ने दोबारा से फुटपाथ कब्जा लिया था। डीसीपी पूर्वी प्रमोद कुमार सिंह और एडिशनल डीसीपी पूर्वी शोमेंद्र मीणा ने गुरुवार की दोपहर बिराहाना रोड का निरीक्षण किया और वीडियोग्राफी कराई। बाद में शाम को बिरहाना रोड पर नगर निगम के साथ मिलकर कमिश्नरेट पुलिस ने अभियान चलाकर कार्रवाई की। एडीसीपी के मुताबिक अभियान के तहत सात दुकानदार फुटपाथ पर कब्जा किए हुए मिले। इन सभी का चालान किया गया। इनसे पांच सौ रुपये से लेकर दो हजार रुपये तक जुर्माना वसूला गया। इसके अलावा यलो लाइन से बाहर खड़े 45 वाहनों का चालान किया गया। एडीसीपी ने बताया कि बिरहाना रोड पर वन-वे लागू किया गया है। वन वे का उल्लंघन करने वाले वाहनों के लिए एक सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है। इसे सीधे यातायात पुलिस कंट्रोल रूम से जोड़ा गया है। जो भी वाहन गलत दिशा से आएगा, उसका नंबर सीसीटीवी कैमरे में होगा और तत्काल उनका चालान होगा।

सिविल लाइन में खाली कराया फुटपाथ

नगरनिगम के एक दस्ते ने गुरुवार को शहर के बीचों लाल इमली से लीलामणि अस्पताल होते हुए कचहरी जाने वाले रास्ते का फुटपाथ खाली कराया। पिछले दिनों महापौर ने यहां के फुटपाथ को खाली कराने का निर्देश जारी किया था। इस आदेश के तहत जोन 4 के संयुक्त प्रवर्तन दल द्वारा अतिक्रमण हटाने का प्रयास किया गया लेकिन विरोध के कारण उन्हें बैरंग लौटना पड़ा था। गुरुवार को महापौर के निर्देश पर प्रवर्तन अधिकारी कर्नल आलोक नारायण के नेतृत्व में नगर निगम प्रवर्तन दल, जोन 4 का दस्ता और संयुक्त प्रवर्तन दल की गाड़ी के साथ उक्त मार्ग पर व्यापक अतिक्रमण अभियान चला। सड़क के दोनों फुटपाथों को खाली कराया गया। सड़क को अवरूद्ध करके खड़ी गाडिय़ों की फोटो खींच कर चालान किया गया। निगम द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार इस अभियान में तकरीबन 18 दुकानें, गुमटियां, ठेले इत्यादि तोड़े और हटाए गए। सड़क किनारे वर्षों से खड़ी कबाड़ हो चुकी बिना नंबर की मारुति कार को भी जेसीबी की मदद से जब्त कर लिया गया।

बोले जिम्मदार: अभियान की समीक्षा की जाएगी। धीरे-धीरे एक-एक करके स्थानों को चिन्हित कर वहां व्यवस्थाएं बनाई जा रही हैं। जीटी रोड, बिरहाना रोड और गुमटी में राहत मिली है। जल्द ही अन्य स्थानों से भी फुटपाथ खाली कराए जाएंगे।-असीम अरुण, पुलिस आयुक्त

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.