top menutop menutop menu

IIT Professor Suicide : अंतरराष्ट्रीय प्रोजेक्ट पर काम कर रहे आइआइटी कानपुर के असिस्टेंट प्रोफेसर ने की खुदकुशी

कानपुर, जेएनएन। आइआइटी कानपुर में कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग के असिस्टेंट प्रो. प्रमोद सुब्रमण्यम ने टाइप-3 स्थित आवास में खुदकुशी कर ली। उनका शव बुधवार की दोपहर 2.30 बजे पंखे से लटका मिला। उनकी पत्नी प्रीति भी कंप्यूटर साइंस विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं। घर में तीन साल का बेटा है। संस्थान प्रशासन ने उनके स्वजन को घटना की जानकारी दे दी है। वह मूलरूप से बेंगलुरु के रहने वाले थे। उन्होंने दो साल पहले ही ज्वाइन किया था। उनके पास कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रोजेक्ट चल रहे थे।

साइबर सिक्योरिटी इनोवेशन हब में भी शामिल थे। आइआइटी के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने कहा कि वह काफी क्रिएटिव और मेहनती फैकल्टी थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना के पीछे पारिवारिक कारणों को मानते हुए जांच शुरू कर दी गई है। कल्याणपुर इंस्पेक्टर अजय सेठ बताया कि प्रोफेसर का शव आवासीय परिसर के कमरे में नायलॉन की रस्सी से पंखे के सहारे लटकता मिला है। सुसाइड के कारणों का पता लगाया जा रहा है 

संस्थान के अधिकारी, स्टाफ स्तब्ध

प्रोफेसर के सुसाइड करने की खबर पर संस्थान की फैकल्टी, छात्र और स्टाफ स्तब्ध हैं। कई सीनियर फैकल्टी का कहना है कि पहली बार किसी प्रोफेसर ने सुसाइड किया है। यह बेहद दुखद घटना है। प्रो. प्रमोद काफी प्रतिभावान फैकल्टी थे।

हेल्थ सेंटर में लगी भीड़

प्रोफेसर के खुदकुशी की खबर पता चलते ही फैकल्टी, स्टाफ संस्थान के हेल्थ सेंटर में पहुंच गए। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.