फर्रुखाबाद: किशाेरों की शिकायत लेकर पहुंचे किसान को पीट-पीटकर किया बेदम, मौत के बाद स्वजन का हंगामा

फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र के गांव बुढ़नामऊ निवासी 50 वर्षीय प्रदीप कटियार ने अपने खेत में घुइयां की फसल कर रखी है। रविवार दोपहर को दो किशोर उनके खेत से घुईयां के पत्ते तोड़ रहे थे। वहां पहुंचे प्रदीप ने पत्ते तोड़ रहे युवकों को ललकारा तो वह भाग खड़े हुए।

Shaswat GuptaSun, 01 Aug 2021 04:54 PM (IST)
फर्रुखाबाद में हुई मारपीट से संबंधित खबर की प्रतीकात्मक फोटो।

फर्रुखाबाद, जेएनएन। खेत में घुइया के पत्ते किसान की मौत का कारण बन गए। चोरी से घुइया के पत्ते तोड़ रहे युवक ने सरिया से हमला कर किसान की हत्या कर दी। स्वजन ने नामजद युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। एएसपी और सीओ सिटी ने मौके पर पहुंचकर जांच की।

 फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र के गांव बुढऩामऊ निवासी 50 वर्षीय प्रदीप कटियार ने अपने खेत में घुइया की फसल कर रखी है। रविवार दोपहर को गांव का युवक नीरज जाटव खेत से घुईया के पत्ते तोडऩे लगा। विरोध करने पर नीरज ने प्रदीप पर सरिया से हमला कर दिया। जिस पर प्रदीप घायल हो गए। स्वजन उन्हें फतेहगढ़ के एक नर्सिंग होम में ले गए। वहां पर चिकित्सक ने प्रदीप को मृत घोषित कर दिया। जब स्वजन को विश्वास नहीं हुआ तो वह प्रदीप को लेकर शहर के बढ़पुर स्थित नर्सिंग होम आए। यहां पर भी चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद स्वजन प्रदीप का शव कार से कोतवाली ले आए। यहां पर अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप, सीओ सिटी नितेश ङ्क्षसह ने स्वजन से घटना की जानकारी ली। इसके बाद सीओ सिटी मऊदरवाजा थाना प्रभारी अजय नरायण ङ्क्षसह और कार्यवाहक कोतवाली प्रभारी संतोष कुमार के साथ घटनास्थल पर गए। 

कोतवाली प्रभारी ने बताया कि प्रदीप के भाई सुधीर की तहरीर के आधार पर नीरज जाटव के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सीओ सिटी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

स्वजन में मचा कोहराम: प्रदीप कटियार की मौत पर पत्नी मीना कटियार, पुत्रियां दिव्या, दिव्यांशी, ²श्या का रो-रोकर बुरा हाल है। प्रदीप पांच भाई सुधीर, अजय, संजय और आदेश में दूसरे नंबर के थे। वह खेती कर परिवार का पालन कर रहे थे। 

कई बार बदले बयान: पहले पुलिस को बताया गया कि प्रदीप के खेत में दो किशोर घुइया के पत्ते तोड़ रहे थे। विरोध करने पर किशोर अपने घर चले गए। पीछे से प्रदीप उनके घर शिकायत करने गए तो वहां पर उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। बाद में सुधीर कटियार ने दर्ज कराई गई रिपोर्ट में कहा कि रविवार दोपहर 11 बजे भाई प्रदीप कटियार घुइया के खेत पर था। उसी समय नीरज पुत्र शिवराम खेत पर आया और बगैर पूछने पर वह घुइया के पत्ते तोडऩे लगा। भाई ने विरोध किया तो नीरज नाराज होकर बोला कि साले चार पत्ते क्या तोड़ लिए इससे तेरा खेत खराब हो जाएगा। हाथ में लिए लोहे की सरिया से प्रदीप पर हमलावर हो गया। सुधीर व उनका दूसरा भाई संजय दौड़कर मौके पर पहुंचे। नीरज को ललकारा तो वह मौके से भाग गया। वह चुटहिल भाई को लेकर केपी नर्सिंग होम ले गया। वहां पर भाई की हालत गंभीर बताई गई। इसके बाद वह भाई को डा. उदयराज ङ्क्षसह के यहां ले गए। वहां पर भाई को मृत घोषित कर दिया गया।

पंडित नगला में मिला था शव, ऊपर से पड़ी थी साइकिल: सीओ सिटी ने जब गांव में जाकर गहना से जांच की और कई लोगों से पूछताछ की। इस दौरान गांव के मंगल जाटव ने पुलिस को बताया कि उन्होंने प्रदीप को साइकिल से आते देखा। वह पंडित नगला स्थित सड़क किनारे साइकिल समेत गिर गए। उनके ऊपर साइकिल पड़ी थी। वहां पर हमला नहीं हुआ। जब कि रिपोर्ट में खेत पर ही पिटाई करने का जिक्र किया गया है।

सिर में आई चोट से हुई मौत: डा. नीरज और डा. सोमेश अग्निहोत्री ने पैनल से प्रदीप का पोस्टमार्टम किया। उनकी मौत सिर में आई चोट से होना बताया गया है। सीने और माथे पर चोट के निशान मिले हैं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.