श्रीराम की तपोभूमि पर हिंदू एकता महाकुंभ, संतों संग बालीवुड के अभिनेता को भी बुलावा

चित्रकूट में हिंदू एकता महाकुंभ के लिए करीब 20 एकड़ में संतों के लिए कुटिया बनाने के साथ अन्य तैयारियां की जा रही हैं। यहां पर संतों संग जुटेंगे पांच लाख धर्म योद्धा पहुंचेंगे। इसके लिए गांव कस्बा व नगर में लोगों को पत्रक व पीले चावल बांट रहे हैं।

Abhishek AgnihotriMon, 06 Dec 2021 10:00 AM (IST)
चित्रकूट में 20 एकड़ क्षेत्र में आयोजन की तैयारी चल रही है।

चित्रकूट, जागरण संवाददाता। प्रभु श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट में 15 दिसंबर को होने वाले 'हिंदू एकता महाकुंभ' की तैयारी युद्ध स्तर पर चल रही है। करीब 20 एकड़ जमीन को आयोजन के लिए संवारने व सजाने का काम चल रहा है। गांव, कस्बा व नगर में लोगों को महाकुंभ का पत्रक व पीला चावल देकर निमंत्रण दिया जा रहा है। आयोजन में करीब पांच लाख हिंदुओं के जुटने का दावा किया जा रहा हैं, जिनको धर्म योद्धा नाम दिया गया है। देशभर के साधु और संतों के सहित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पदाधिकारी भी शामिल होंगे।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि संघ प्रमुख मोहन भागवत होंगे जबकि अध्यक्षता पद्म विभूषण तुलसी पीठाधीश्वर जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य महाराज करेंगे। जगद्गुरु नेे देश भर से पांच लाख से ज्यादा ङ्क्षहदुओं को महाकुंभ में शामिल होने का आह्वान किया है। संयोजक आचार्य रामचंद्रदास ने बताया कि करीब 20 एकड़ के परिसर में महाकुंभ का आयोजन होगा।

मुख्य पंडाल 300 गुणा 600 फीट का बनाया जा रहा है। अलग-अलग संप्रदायों, अलग-अलग मठों के छोटे-छोटे पंडाल होंगे। संत-महंतों की कुटिया बनाई जाएगी। उनके अनुयायियों के रुकने की अलग व्यवस्था रहेगी। एक हाल भी तैयार किया जा रहा है कि जिसमें देश भर के संत महंत एक साथ बैठ कर चर्चा करेंगे। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी आएंगे। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ङ्क्षसह चौहान ने भी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सहमति दे दी है।

बालीवुड के अभिनेता भी होंगे शामिल

आचार्य रामचंद्र दास ने बताया कि महाकुंभ के साथ त्रिदिवसीय हनुमत महायज्ञ और रुद्राभिषेक का भी आयोजन होगा। श्रीराम के जन्म से राज्याभिषेक तक की लीला का मंचन भी किया जाएगा। कार्यक्रम में फिल्मी व लोक कलाकार भी शामिल होंगे। बालीवुड से जुड़े लोगों को बुलाने के पीछे उद्देश्य है कि अभी तक फिल्मों के जरिए ङ्क्षहदू धर्म को उपेक्षित किया जाता रहा है। अब ओटीटी प्लेटफार्म पर भी ङ्क्षहदू धर्म को लेकर गलत तथ्य परोसा जा रहा है। आश्रम जैसी फिल्म इसका उदाहरण है। यहां कलाकार बताएंगे कि आखिर यह समस्या क्यों है और इसका समाधान क्या है। लोक कलाकार मालिनी अवस्थी, कवि कुमार विश्वास, फिल्म अभिनेता आशुतोष राणा, अरुण गोविल, मनोज मुंतशिर और मनोज तिवारी ने आमंत्रण स्वीकार कर लिया है।

हटाई गई 33 हजार केवी लाइन

महाकुंभ स्थल के बगल में बिजली विभाग का उपकेंद्र बना है जिसमें गई 33 हजार केवी लाइन आयोजन स्थल के ऊपर से गई है। उसको हटाने का काम रविवार को उप खंड अधिकारी रमाशंकर गुप्ता और अवर अभियंता सौरभ अग्रहरि ने करवाया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.