Guru Purnima 2021: गुरु पूर्णिमा पर पर्यावरण संरक्षण और सरोकारों का दिया जाएगा संदेश, आनलाइन बहेंगी गुरुधारा

Guru Purnima 2021 जाजमऊ स्थित सिद्धनाथ मंदिर में 50 वर्षों से चली आ रही गुरु-शिष्य की परंपरा का पालन किया जाएगा। बालयोगी अरुण चैतन्यपुरी महाराज सीमित शिष्यों की उपस्थिति में गुरु दीक्षा का आयोजन करेंगे। जिसका आनलाइन प्रसारण कर देशभर के भक्तों को जोड़ा जाएगा।

Shaswat GuptaThu, 22 Jul 2021 11:30 AM (IST)
गुरु पूर्णिमा की खबर से संबंधित प्रतीकात्मक फोटो।

कानपुर, जेएनएन। Guru Purnima 2021 गुरु शिष्य के पावन रिश्तों का सबसे मंगलकारी दिवस गुरु पूर्णिमा इस बार 24 जुलाई को पड़ रहा है। जिसको लेकर गुरु आश्रमों में तैयारियों का दौर शुरू हो गया है। हालांकि आश्रमों में पहले जैसा उत्साह देखने को नहीं मिलेगा। कोविड नियमों का पालन करते हुए सीमित संख्या में गुरु पूर्णिमा का उत्सव मनाया जाएगा। ज्यादातर आश्रमों में पौधरोपण और सामाजिक सरोकारों का संदेश आनलाइन माध्यम से देने की तैयारी चल रही है।

प्रतिवर्ष गुरु शिष्य के महत्व को दर्शाने वाला मंगलकारी दिन गुरु पूर्णिमा शहर के आश्रम व मठ मंदिरों में उत्साहपूर्वक मनाया जाता रहा है। सैकड़ों की संख्या में शिष्य गुरु दीक्षा का कार्यक्रम और यज्ञ कर गुरु के महत्व से समाज को परिचित कराते रहे हैं।

शकुंतला शक्तिपीठ में होगा नारायणी महायज्ञ: विकास नगर स्थित धूनी ध्यान केंद्र शकुंतला शक्तिपीठ में नारायणी महायज्ञ किया जाएगा। शिष्यों की उपस्थिति में संस्थापक आचार्य अमरेश मिश्रा व सुनीता मिश्रा सद्गुरु महाराज का पूजन कर महायज्ञ में संक्रमण मुक्ति समाज के लिए आहुतियां अर्पित करेंगे। पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए आंवले का पौधे लगाकर समाज को प्रकृति के मोल समझने का संदेश दिया जाएगा।

महिलाएं करेंगी गुरु पूजा: हरबंश मोहाल स्थित महिला शिक्षा मंडल में गुरु पूर्णिमा के दिन महिलाओं द्वारा गुरु पूजा की जाएगी। संचालिका सीता देवी द्वारा महिलाओं को गुरु का महत्व समझाया जाएगा। मंडल से जुड़़ीं देशभर की महिलाएं आनलाइन गुरु पूजा करेगी। जिसका आनलाइन प्रसारण किया जाएगा।

आश्रम व मंदिरों में होगा गुरु दीक्षा का आयोजन: जाजमऊ स्थित सिद्धनाथ मंदिर में 50 वर्षों से चली आ रही गुरु-शिष्य की परंपरा का पालन किया जाएगा। बालयोगी अरुण चैतन्यपुरी महाराज सीमित शिष्यों की उपस्थिति में गुरु दीक्षा का आयोजन करेंगे। जिसका आनलाइन प्रसारण कर देशभर के भक्तों को जोड़ा जाएगा। वहीं, बिठूर स्थित सुधांशु जी आश्रम में दिल्ली से आनलाइन गुरु महाराज के कार्यक्रम का प्रसारण होगा। दंडी आश्रम में शिष्यों को सामाजिक सरोकारों की दीक्षा दी जाएगी। श्री पंचमुखी हनुमान मंदिर में बाबा रमाकांत महाराज का पूजन व अभिषेक महामंडलेश्वर श्रीकृष्णदास महाराज करेंगे। आनलाइन प्रसारण कर भक्तों को जोड़ा जाएगा।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.