दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

पुलिस ने की 38 अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई

पुलिस ने की 38 अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई

जेएनएन महाराजपुर महाराजपुर पुलिस ने रविवार को एनसीआर व मुकदमों में नामित 31 आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की।

JagranMon, 17 May 2021 01:54 AM (IST)

जेएनएन, महाराजपुर : महाराजपुर पुलिस ने रविवार को एनसीआर व मुकदमों में नामित 31 आरोपितों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई करते हुए सभी का चालान किया। इसके साथ ही सात आरोपितों के खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई की गई। थाना प्रभारी महाराजपुर राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि रविवार को कुल 38 आरोपितों के खिलाफ निरोधात्मक व शांति भंग की कार्रवाई की गई है। अधिकतर मामले जमीनी व नाली खडंजा आदि से जुड़े थे। हिस्ट्रीशीटर को भेजा जेल : महाराजपुर : महाराजपुर पुलिस ने वांछित चल रहे सरसौल नगरा निवासी हिस्ट्रीशीटर मोहित उर्फ गोलू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मोहित के खिलाफ महाराजपुर थाने में सात मुकदमे दर्ज हैं। थाना प्रभारी महाराजपुर राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि मोहित को रविवार को नर्वल मोड़ के पास से एक तमंचा व दो जिदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया है। पिकअप पलटा , चार घायल : महाराजपुर : महाराजपुर हाईवे पर बालाजी ट्रेडर्स के सामने पिकअप अनियंत्रित होकर पलटने से चार लोग घायल हो गए। घायलों को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया है। घायलों में सुनील दुबे, सुनील कुमार, पुष्पेन्द्र, राहुल पाल हैं। फाइनेंस कंपनी प्रबंधक व कर्मचारियों पर लूट का मुकदमा, कानपुर : किदवईनगर नयापुरवा निवासी एक ट्रक मालिक ने मैग्मा फिनकॉर्प फाइनेंस कंपनी के प्रबंधक व कर्मचारियों के खिलाफ कोर्ट के आदेश पर लूट का मुकदमा दर्ज कराया है। तहरीर के मुताबिक ट्रक मालिक दीपक कुमार गुप्ता ने शास्त्रीनगर स्थित फाइनेंस कंपनी से लोन लेकर ट्रक खरीदा और लगातार किस्तें जमा करते रहे। जब लोन की पूरी रकम का एकमुश्त भुगतान करने के लिए कंपनी के प्रबंधक सत्या तिवारी से बात की तो उन्होंने कहा कि कोरोना काल में तुम्हारी कुछ किस्तें बकाया हैं। अब ट्रक कब्जे में लेकर उसे नीलाम करके पैसा वसूल करेंगे। आरोप है कि दीपक ने जब उन्हें समझाने की कोशिश की तो आरोपित ने गालीगलौज की और ट्रक कंपनी में जमा करने के लिए दबाव बनाया। नौ फरवरी 2021 की सुबह सत्या तिवारी ने साथियों के साथ मिलकर घेर लिया और तमंचे के बल पर पांच हजार रुपये लूट लिए। भीड़ जुटने पर आरोपित फायरिग करके भाग निकले। फंदे पर लटका मिला ज्वैलरी कारोबारी के कुक का शव, कानपुर : स्वरूप नगर थानाक्षेत्र में कंपनी बाग के पास स्थित एमराल्ड गार्डन अपार्टमेंट निवासी ज्वैलरी कारोबारी के कुक (खानसामा) का शव रविवार दोपहर सर्वेंट क्वार्टर में फंदे से लटका मिला। घटना के वक्त उसकी पत्नी क्वार्टर के बाहर ही कपड़े धो रहीं थीं। काफी देर बाद जब वह कमरे में पहुंचीं तो उन्हें घटना की जानकारी हुई। पुलिस के मुताबिक कानपुर देहात के रसूलाबाद थानाक्षेत्र के तिश्ती मक्कापुरवा गांव निवासी 28 वर्षीय अनुज सिंह काशी ज्वैलर्स के मालिक के यहां करीब 12 वर्ष से खाना बना रहा था। उसके परिवार में मां मुन्नी देवी, पत्नी साधना और तीन बड़े भाई रिकू, झल्लू और अजय हैं। अनुज, पत्नी साधना के साथ सर्वेंट क्वार्टर में रहता था और बाकी परिवार गांव में रहता है। पत्नी साधना ने बताया कि एक वर्ष पूर्व उन्होंने अनुज से लव मैरिज की थी। शादी के बाद से अनुज शराब पीने लगे थे। आए दिन झगड़ा होता था। रविवार दोपहर भी पति कहीं से शराब पीकर आए और गाली गलौज करने लगे। इस पर साधना कपड़े धोने के लिए बाहर आ गईं। इसके बाद पति ने अंदर वाले स्टोर रूम नुमा कमरे में पंखे से दुपट्टे का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। काफी देर बाद वह पहुंचीं और आसपास के लोगों को बताया। जब तक अनुज को अस्पताल ले जाया गया, उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना पर काशी ज्वैलर्स के मालिक राजन कपूर भी मैनेजर सैयद मोहम्मद अतहर के साथ पहुंचे। स्वरूपनगर थाना प्रभारी अश्विनी कुमार पांडेय ने बताया कि मौके पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला, लेकिन पत्नी से पूछताछ में पता लगा है कि नशेबाजी में विवाद के बाद युवक ने आत्महत्या की है। वहीं, कानपुर देहात स्थित घर से आए अनुज के भाई अजय व अन्य स्वजन ने बताया कि शनिवार देर रात अनुज से फोन पर बात हुई थी, तब वह ठीक था। किसी तरह की कोई परेशानी नहीं बताई। ऐसा आभास नहीं हुआ कि भाई आत्मघाती कदम उठा लेगा। काशी ज्वैलर्स के मैनेजर सैयद मोहम्मद अतहर ने बताया कि अनुज को बचाने के लिए आसपास के लोग तुरंत अस्पताल ले गए, लेकिन जान नहीं बच सकी। स्वजन का आरोप- रिपोर्ट में पुलिस ने किया 'खेल', घाटमपुर : कोतवाली क्षेत्र के बिराहिनपुर गांव में हुए ऑनर किलिग के मामले में रविवार को किशोर के माता-पिता समेत कई स्वजन घाटमपुर थाने पहुंचे। उन्होंने दर्ज रिपोर्ट में आरोपियों के नाम बढ़वाने और किशोर के पिता को प्रत्यक्षदर्शी दिखाने की मांग की। सभी का कहना था कि पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने में खेल किया है। पुलिस के इस रवैये से किशोर के स्वजन समेत गांव वालों में आक्रोश है। किशोर के पिता ने बताया कि हत्याकांड के बाद पहुंची पुलिस उसे और उसके कुछ परिचितों को लेकर थाने आ गई थी। उसको थाने के अंदर ले जाया गया और अन्य को बाहर ही बैठा दिया गया। इसके बाद उससे पूछताछ की गई। पूछताछ में उसने साफ-साफ बताया था कि किशोरी के पिता और चाचाओं ने मिलकर उसके बेटे और अपनी बेटी की हत्या की है। ये भी बताया कि ये वारदात उसने, उसकी पत्नी और गांव के कुछ और लोगों की आंखों के सामने हुई है। इसके बाद पुलिस ने खुद रिपोर्ट लिखी और उसे पढ़कर सुनाया भी नहीं। अनपढ़ होने की वजह से वह रिपोर्ट पढ़ भी नहीं सके। पुलिस ने दबाव बनाकर उनका अंगूठा लगवा लिया। इसके बाद उसे और न तो उसके परिचितों को रिपोर्ट की कॉपी दी गई। सुबह अखबार में पढ़ने के बाद उन्हें पता चला कि पुलिस ने केवल किशोरी के पिता पर रिपोर्ट दर्ज की है। उसके चाचाओं को छोड़ दिया। इसके साथ ही रिपोर्ट में ये भी दिखाया कि किशोर के पिता ने वारदात होते नहीं देखी। उन्हें बस दोनों के शव पड़े मिले। बिराहिनपुर गांव में शनिवार सुबह नाबालिग किशोरी के पिता और चाचाओं ने उसकी और उसके नाबालिग प्रेमी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी। किशोरी का पिता ट्रक चालक है, वह बीते गुरुवार को पत्नी के साथ बांदा के बरुआ में साले की शादी में शामिल होने गए थे। घर पर किशोरी और दो बच्चे थे। शुक्रवार रात करीब 12 बजे उसका नाबालिग प्रेमी घर में आया था। इस दौरान किशोरी के चाचा ने दोनों को पकड़कर कमरे में बंद कर दिया था। इसके बाद किशोरी के पिता को सूचना दे दी थी। सुबह किशोरी का पिता घर आया था। इस दौरान किशोर के स्वजन भी उसके पकड़े जाने की खबर हो गई थी। वे भी किशोरी के घर पहुंच गए थे। किशोर के माता-पिता के कई बार गुहार लगाने के बावजूद किशोर के पिता और चाचाओं ने मिलकर उनके सामने ही दोनों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.