दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

जिलाधिकारी बोले - पहले ही कर लें बाढ़ से बचाव की तैयारी

जिलाधिकारी बोले - पहले ही कर लें बाढ़ से बचाव की तैयारी

जेएनएन कानपुर डीएम आलोक तिवारी ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बाढ़ स्टेरिग ग्रुप क

JagranWed, 19 May 2021 01:55 AM (IST)

जेएनएन, कानपुर: डीएम आलोक तिवारी ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बाढ़ स्टेरिग ग्रुप की बैठक की। इस दौरान उन्होंने बाढ़ के दौरान लोगों को सुविधाएं मुहैया कराने, उनके भोजन, पशुओं के चारे का प्रबंध अभी से ही कर लेने का आदेश दिया है।

डीएम को बताया गया कि जिले में गंगा, रिद, यमुना, पांडु व नून नदी में बाढ़ की समस्या आती है। इसके साथ ही कुछ छोटे नाले भी हैं, जिनसे बाढ़ की समस्या उत्पन्न होती है। गंगा में खतरे का निशान 114 मीटर और चेतावनी बिदु 113 मीटर है। तहसील सदर में गंगा से 30 गांव, रिद से 11, पांडु नदी से 13 गांव प्रभावित होते हैं। तहसील सदर में बाढ़ की निगरानी के लिए सात चौकियां, घाटमपुर तहसील में 16 चौकियां, बिल्हौर में नौ बाढ़ चौकियां व नर्वल में 3 चौकियां बनाई जाएंगी। डीएम ने कहा कि सभी बाढ़ प्रभावित गांवों में नाव, लाइव जैकेट व अन्य संसाधनों का इंतजाम कर लिया जाए। सभी 35 बाढ़ चौकियों में आवश्यकता की समस्त राहत सामग्री जैसे केरोसिन, माचिस, दवा आदि पर्याप्त मात्रा में व्यवस्थित करने के लिए कार्य योजना बनाकर जनसंख्या के अनुसार व्यवस्थित कर ली जाए। डीएम ने कहा कि सभी एसडीएम बाढ़ चौकियों का निरीक्षण कर लें और जहां कहीं कटान हो रहा हो उसे भी देख लें। बैठक में सीडीओ डॉ. महेंद्र कुमार, जिला कृषि अधिकारी मनीष सिंह, जिला आपूर्ति अधिकारी अखिलेश श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे। जिन श्रमिकों की कोरोना से मौत, उनको पहुंचाएं हितलाभ, कानपुर : जिन श्रमिकों की मौत कोरोना से हुई है, उन्हें हितलाभ दें। इसके अलावा परिषद की योजनाओं में ऑफलाइन आवेदन के साथ ही ऑनलाइन आवेदन के फॉर्म तैयार कराएं, जिससे अधिक से अधिक श्रमिकों को हितलाभ मिल सके। मंगलवार को सभी अफसरों संग वर्चुअल संवाद कर यह निर्देश श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला ने दिए। उन्होंने सभी से कहा, कि 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस पर चेतन चौहान क्रीड़ा प्रोत्साहन योजना के तहत हर जिले में कार्यक्रम होंगे, इनमें श्रमिकों के बच्चों की प्रतिभागिता सुनिश्चित कराएं। आगामी 15 दिनों में श्रमिकों के लिए यूनिक आइडेंटीफिकेशन नंबर जारी करने को लेकर भी खाका खींचने के लिए निर्देशित किया। बैठक में अपर श्रम कल्याण आयुक्त फैजल आफताब, अपर श्रमायुक्त डीके सिंह, उपश्रमायुक्त अमित मिश्रा समेत अन्य अफसर उपस्थित रहे।

मजदूरी संहिता 2019 की नियमावली हो रही तैयार: श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष ने अफसरों को बताया कि श्रम विभाग की ओर से मजदूरी संहिता 2019 की नियमावली तैयार हो रही है। इस नियमावली के तैयार होने और उसके क्रियान्वित होने के चलते श्रम कल्याण परिषद की आर्थिक स्थिति बेहतर हो जाएगी। बोले, नियमावली को लेकर परिषद की ओर से प्रस्ताव तैयार करा लें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.