उद्यमियों को कल दिखाया जाएगा ट्रांसगंगा सिटी का विकास

- यूपीसीडा के सीईओ कराएंगे मुआयना आवंटियों को दिलाया जाएगा कब्जा -1151 एकड़ भूमि पर

JagranThu, 17 Jun 2021 02:05 AM (IST)
उद्यमियों को कल दिखाया जाएगा ट्रांसगंगा सिटी का विकास

-जागरण संवाददाता, कानपुर : ट्रांसगंगा सिटी में औद्योगिक भूखंडों को आवंटित करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 18 जून को उप्र राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) के सीईओ मयूर माहेश्वरी इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, पीआइए व अन्य औद्योगिक संगठनों से जुड़े उद्यमियों को मौके का मुआयना कराएंगे। उन्हें वहां के विकास कार्य को दिखाया जाएगा और फिर भूखंडों के आवंटन के लिए आवेदन मांगे जाएंगे। अभी भूखंड लेने पर आवंटियों को किन शर्तों में छूट मिलेगी, ये भी बताया जाएगा।

गंगा बैराज के समीप उन्नाव के कटरी शंकरपुर सराय, कन्हवापुर गांवों की 1151 एकड़ भूमि पर बसाई जा रही ट्रांसगंगा सिटी में 270 औद्योगिक भूखंड हैं। इन भूखंडों का आवंटन जल्द से जल्द करने की तैयारी है। इसके साथ ही व्यावसायिक श्रेणी, मिश्रित श्रेणी और अस्पताल, शिक्षण संस्थानों की स्थापना के लिए भूखंडों का भी आरक्षण होना है। जिन आवंटियों को आवास निर्माण के लिए भूखंड दिए गए हैं उन्हें भी जल्द कब्जा दिया जाएगा। ऐसे में प्रबंधन वहां उद्यमियों को उन सुविधाओं की जानकारी देगा जो प्रस्तावित हैं। औद्योगिक क्षेत्र में मुख्य सड़कों के निर्माण के साथ ही पानी की टंकी, सीवर लाइन, पेयजल लाइन का कार्य हो गया है। पार्को का विकास भी किया जा चुका है। बिजली संबंधी कार्य चल रहे हैं। सीईओ मयूर माहेश्वरी वहां उद्यमियों के साथ बैठक भी करेंगे।

---------------

बोर्ड बैठक 22 को

प्राधिकरण बोर्ड की बैठक 22 जून को लखनऊ में होगी। इसमें विकास कार्यों पर चर्चा तो होगी ही, लखनऊ औद्योगिक विकास प्राधिकरण के जिन गांवों को यूपीसीडा में शामिल किया गया है वहां के विकास और मानचित्र शुल्क पर भी चर्चा की जाएगी। उद्यमियों के लिए कुछ नियमों में ढील देने की तैयारी भी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.