कानपुर नगर निगम सदन में आज अफसरों को घेरेंगे पार्षद, नाला सफाई होगा मुद्​दा

कानपुर नगर निगम सदन आज से शुरू हो रहा है। इसमें सबसे बड़ा मुद्​दा तीन सौ करोड़ खजाने में होने के बाद भी विकास कार्य नहीं होना होगा। वहीं बरसात से पहले न तो नाले साफ हो पाए और न ही सड़कों का पैचवर्क हुआ है।

Abhishek AgnihotriTue, 15 Jun 2021 07:55 AM (IST)
कानपुर नगर निगम में पार्षदों ने की तैयारी।

कानपुर, जेएनएन। नालों की सफाई न होने से नाराज पार्षदों ने मंगलवार को होने वाले नगर निगम सदन में अफसरों को घेरने की तैयारी की है। पार्षदों ने साफ कहा कि नाला सफाई के नाम पर खानापूरी हो रही है। नाले गंदगी से पटे पड़े हैं। बरसात में जलभराव होने पर जनता सीधे उनको घेरेगी। तीन सौ करोड़ खजाने में होने के बाद भी जनता समस्याओं से जूझ रही है। सड़कों का पैचवर्क भी नहीं हुआ है।

नगर निगम ने चालू वित्तीय वर्ष में पहला सदन मंगलवार को बुलाया है। दो माह हो गए हैं, लेकिन अभी तक चालू वित्तीय वर्ष का नगर निगम व जलकल का मूल बजट नहीं पास हो पाया, जिसका असर विकास कार्यों पर पड़ रहा है। चाचा नेहरू अस्पताल के जीर्णोद्धार के लिए 4.43 करोड़ के प्रस्ताव को स्वीकृति देने के लिए सदन के समक्ष रखा जाएगा। वहीं नाला सफाई में बरती जा रही लापरवाही को दैनिक जागरण लगातार उठा रहा है। नाला सफाई और सड़कों पर पैचवर्क न होने से नाराज पार्षद नवीन पंडित, अरङ्क्षवद यादव, मनोज पांडेय, अंजू कौशल मिश्रा, विजय गौतम, गिरीश चंद्रा, जेपी पाल आदि ने कहा कि नाले अभी तक साफ नहीं हुए हैं। बरसात के समय क्षेत्र कहीं तालाब न बन जाए। सबसे दुर्दशा नगर निगम के जोन छह की है।

यहां नाला सफाई के नाम पर खानापूर्ति हो रही है। कल्याणपुर, महाबलीपुरम, शास्त्री नगर, विजय नगर, गुजैनी, निराला नगर, केशवनगर, छपेड़ा पुलिया, श्याम नगर समेत कई जगह नाला सफाई के नाम पर ऊपर-ऊपर की सिल्ट निकाल दी गई, बाकी नाला भरा है। क्षेत्र की टूटी सड़कें, बंद गली पिट व नालियां, खोदी सड़कें, बंद लाइटें अभी तक नहीं ठीक की गई है। पार्षदों ने साफ कहा कि पहले समस्याओं का निस्तारण किया जाए। संबंधित अफसरों की जवाबदेही तय की जाए। ठेकेदारों पर कार्रवाई करने के साथ ही भुगतान न किया जाए, तभी बजट पास होने दिया जाएगा।

रखा जाएगा पुनरीक्षित व मूल बजट

नगर निगम

चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में पुनरीक्षित बजट - 10 अरब 52 करोड़ 3 लाख रुपये

आगामी वित्तीय वर्ष 2021-22 का मूल बजट - 10 अरब 56 करोड़ 62 लाख रुपये

जलकल

चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 का पुनरीक्षित बजट -2 अरब 11 करोड़ 54 लाख रुपये

वित्तीय वर्ष 2021-22 का मूल बजट - 2 अरब 66 करोड़ 81 लाख रुपये

ये रखे जाएंगे प्रस्ताव

-चालू वित्तीय वर्ष का गृहकर जुलाई तक जमा करने पर दस फीसद छूट

-पालिका स्टेडियम में स्मार्ट सिटी मिशन से इनडोर स्पोट्र्स कांप्लेक्स स्टेडियम का निर्माण

- चाचा नेहरू अस्पताल का जीर्णोद्धार और सुंदरीकरण कराया जाना

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.