Commercial Tax Department ने दिसंबर में Returns फाइल ना करने वाले 7,932 कारोबारियों को दिया नोटिस, अब होगी ये कार्रवाई

रिटर्न ना फाइल करने वाले कारोबारियों को नोटिस जारी की

कारोबारियों ने कई-कई माह के रिटर्न जमा नहीं किए। जब यह छूट की अवधि खत्म हो गई तब भी कारोबारी रिटर्न फाइल नहीं कर रहे थे। इसके चलते विभाग ने रिटर्न फाइल ना करने वाले कारोबारियों पर शिकंजा कसने के लिए नोटिस जारी करनी शुरू कीं।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 11:35 AM (IST) Author: Akash Dwivedi

कानपुर, जेएनएन। वाणिज्य कर विभाग ने दिसंबर में रिटर्न फाइल ना करने वाले 7,932 कारोबारियों को नोटिस जारी की है। इसमें 3,319 कारोबारियों के खिलाफ धारा 62 की कार्रवाई करते हुए वाणिज्य कर विभाग ने मांग जारी कर दी है, जिसमें 8.43 करोड़ रुपये का टैक्स भी विभाग ने जमा करा लिया है।

वर्तमान में कानपुर के वाणिज्य कर विभाग के जोन एक में 29,133 और जोन दो में 32,091 कारोबारी हैं। इन्हेंं हर माह रिटर्न फाइल करने हैं। कोरोना काल में कारोबारियों को रिटर्न फाइल करने में छूट दी गई थी। इसमें फरवरी से लेकर सितंबर 2020 तक के रिटर्न निर्धारित तारीख के बाद जमा करने की छूट दी गई थी। इसमें हर माह के हिसाब से उनकी तारीख तय कर दी गई थीं। रिटर्न फाइल करने में मिली छूट की वजह से कारोबारियों ने कई-कई माह के रिटर्न जमा नहीं किए। जब यह छूट की अवधि खत्म हो गई तब भी कारोबारी रिटर्न फाइल नहीं कर रहे थे। इसके चलते विभाग ने रिटर्न फाइल ना करने वाले कारोबारियों पर शिकंजा कसने के लिए नोटिस जारी करनी शुरू कीं। इसमें 7,932 रिटर्न ना फाइल करने वाले कारोबारियों को नोटिस जारी की गई।

इनका ये है कहना

जिन्होंने अभी तक रिटर्न फाइल नहीं किए  उन्हेंं नोटिस जारी कर मांग जारी की गई थी। उनमें से 3,319 कारोबारियों ने रिटर्न फाइल कर टैक्स जमा कर दिया। जिन कारोबारियों ने रिटर्न फाइल नहीं किया है, उनके बैंक खाते सीज किए जा सकते हैं। इसके अलावा उनके इलेक्ट्रानिक लेजर में जो आइटीसी होगी, वह उसे भी सीधे निकाली जा सकती है।

                                                    पीके सिंह, एडीशनल कमिश्नर ग्रेड वन, जोन वन, वाणिज्य कर विभाग

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.