शहर में शुरू हुआ सफाई अभियान

मेरठ में हुई थी 169 घंटे लगातार सफाई नगर निगम ने 170 घंटे का लक्ष्य रखा।

JagranSun, 26 Sep 2021 02:39 AM (IST)
शहर में शुरू हुआ सफाई अभियान

जागरण संवाददाता, कानपुर : नगर निगम मेरठ का 169 घंटे लगातार सफाई कराने का रिकार्ड तोड़ने के लिए शहर में शनिवार को सफाई अभियान शुरू किया गया। 170 घंटे लगातार सफाई करने का लक्ष्य रखा गया है। इसका शुभारम्भ महापौर प्रमिला पांडेय और नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने आनंदेश्वर मंदिर परमट से अभियान को झंडी दिखाकर रवाना किया और क्षेत्र में झाड़ू लगाई।

नगर निगम ने वर्ष 2018 में लगातार 111 घंटे सफाई अभियान चलाया था। इसी कड़ी में 25 सितंबर से 2 अक्टूबर तक लगातार सफाई अभियान पूरे शहर में चलाया जाएगा। इसमें सफाई के साथ ही फैला मलबा गंदगी उठाई जाएगी और नालियों की सफाई कराई जाएगी। इसके अलावा फागिग और सैनिटाइजेशन भी कराया जाएगा। संस्था निकुज एजुकेशन फाउंडेशन द्वारा अपने टीम के 30 सदस्यों को महात्मा गांधी बनाकर अखण्ड महा सफाई अभियान के उत्सव की शुरूआत की। नगर निगम के 25 सफाई कर्मचारी और दस संस्थाओं के कर्मचारियों ने परमट से सफाई शुरू की। यह अभियान उत्तर से दक्षिण क्षेत्र तक चलेगा। परमट, ग्रीन पार्क, बजरिया मोतीझील, छपेड़ा पुलिया, गोविदनगर समेत कई इलाकों में चलेगा। अपर नगर आयुक्त द्वितीय अरविद राय,अपर नगर आयुक्त तृतीय रोली गुप्ता, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. अजय कुमार और डा. अमित सिंह गौर सहायक नगर आयुक्त पूजा त्रिपाठी, रबिश डिपो प्रभारी रफजुल रहमान आदि रहे।

मकड़ीक्षेत्र में जलभराव से निजात को लगेगा पंप : महापौर और नगर आयुक्त ने मकड़ीखेड़ा क्षेत्र में स्थित सरस्वती विहार सोसाइटी में जलभराव का निरीक्षण किया। अवैध सोसाइटी होने के कारण जल निकासी की व्यवस्था नहीं होने और लो लैंड एरिया होने को कारण कई दिनों से जलभराव भरा हुआ है। जनता की दिक्कतों को देखते हुए महापौर ने पंप लगाकर पानी निकासी के साथ ही मलबा डलवाने को कहा ताकि लोगों को निकलने में दिक्कत न हो।इसके साथ इस पूरे क्षेत्र में (जो जलभराव से प्रभावित है), एंटी लार्वा, कीटनाशक दवाओं का छिड़काव एवं फागिग भी नियमित रूप से कराई जाए।

इसके बाद महापौर प्रमिला पांडेय और नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने बरसाइतपुर क्षेत्र में यूपीसीडा वाले मार्ग पर आगे की ओर बढ़ने पर मुख्य मार्ग पर बड़े-बड़े चट्टे संचालित होते पाये गये एवं मौके पर काफी संख्या में पशु भी बंधे मिले। महापौर ने नाराजगी जताई। ऐसे चट्टा संचालको के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने के साथ-साथ इनके सभी पशुओं को पकड़ने के आदेश दिए। नगर आयुक्त ने कैटल कैचिग दस्ते को आदेश दिए है कि 26 सितंबर को अभियान चलाकर पशु को पकड़ा जाए और जुर्माना लगाया जाए। मकड़ीखेड़ा में सीएनजी पेट्रोल पंप वाले मुख्य मार्ग पर बांयी ओर बने नाले पर अतिक्रमण मिला। इसको तुरंत हटाने के आदेश दिए ताकि जल निकासी हो सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.