छाजा का केंद्र बंद, सिंहपुर में मुट्ठीभर भी खरीद नहीं

छाजा का केंद्र बंद, सिंहपुर में मुट्ठीभर भी खरीद नहीं

गेहूं खरीद केंद्रों की स्थिति बहुत ही खराब है। निगरानी तंत्र बेहद जर्जर हो चुका है।

JagranFri, 23 Apr 2021 02:01 AM (IST)

जागरण संवाददाता, कानपुर: गेहूं खरीद केंद्रों की स्थिति बहुत ही खराब है। निगरानी तंत्र बेहतर न होने की वजह से ही किसान अपना गेहूं नहीं बेच पा रहे हैं क्योंकि क्रय केंद्र न तो समय से खुल रहे हैं और जो खुल रहे हैं वहां भी क्रय केंद्र प्रभारी नहीं पहुंच रहे हैं। दैनिक जागरण की पड़ताल में छाजा गांव का केंद्र बंद मिला तो उत्तरीपूरा मंडी के एक केंद्र पर प्रभारी ही नहीं पहुंचे। अब तक जिले में नौ हजार क्विटल गेहूं की खरीद हुई है। -----

स्थान : एक

सरसौल ब्लाक के साधन सहकारी समिति खोजऊपुर पर सुबह साढ़े दस बजे गेहूं लेकर पहुंचे अटवा निवासी किसान रामस्वरूप सिंह गेहूं लेकर घंटों बैठे रहे, लेकिन केंद्र प्रभारी के न होने से गेहूं की तौल नहीं हो सकी। लोगों ने बताया कि प्रभारी ओम प्रकाश महाराजपुर समिति किसी काम से गए हुए हैं। कोड़र गांव निवासी प्रदीप द्विवेदी भी केंद्र पर आए थे उन्होंने बताया कि प्रति क्विटल दो किलो गेहूं की कटौती की जा रही है और 20 रुपये भी प्रति क्विटल लिया जा रहा है। -----

स्थान: दो

उत्तरीपुरा मंडी परिसर स्थित मंडी समिति के गेहूं का क्रय केंद्र खुला मिला, लेकिन वहां प्रभारी मौजूद नहीं मिले। आसपास के लोगों ने बताया कि वह बोरे लेने कानपुर गए हैं। यहीं विपणन शाखा का केंद्र खुला हुआ था। अभी तक 507 क्विटल गेहूं की खरीद हुई है। -----

स्थान: तीन

उत्तरीपुरा जिला सहकारी संघ लिमिटेड का केंद्र खुला था और एवं प्रभारी आशीष कुमार मौजूद मिले। चार किसानों से 115 क्विटल गेहूं की खरीद केंद्र पर हुई है। अर्जुनपुर गांव निवासी एक किसान को गुरुवार को गेहूं बेचना था, लेकिन वे नहीं आए। उत्तरीपुरा के पीसीएफ के केंद्र पर भी कोई किसान नहीं आया था। प्रभारी मौजूद थे। -----

स्थान: चार

पतारा ब्लाक के छाजा गांव स्थित केंद्र पर ताला बंद मिला। ग्रामीणों ने बताया कि पीसीएफ का यह केंद्र कई दिनों से बंद है। किसान आते हैं और लौट जाते हैं। बीरसिंहपुर गांव के केंद्र पर प्रभारी मौजूद मिले और उन्होंने बताया कि 102 क्विटल गेहूं की खरीद अब तक हो चुकी है। -----

स्थान: पांच

शिवराजपुर के साधन सहकारी समिति में भी सन्नाटा दिखा। यहां के सचिव शिव सिंह ने बताया कि अब तक कुल 106 क्विटल गेहूं की खरीद हुई है।

शिवराजपुर के मंडी समिति केंद्र पर अब तक कुल 252 क्विटल गेहूं खरीदा गया है। गुरुवार को किसान गेहूं लेकर नहीं पहुंचे। यहां मौजूद कुछ अमरजीत, सुमिरन ने बताया कि रजिस्ट्रेशन में दिक्कत आ रही है। स्थान: छह

साधन सहकारी समिति सिंहपुर में केंद्र प्रभारी सियाराम गुप्ता मौजूद थे। गोदाम में खाद भरी हुई और गरीबों का खाद्यान्न रखा हुआ है ऐसे में गेहूं रखने की जगह नहीं है। केंद्र प्रभारी ने अभी तक गेहूं नहीं खरीदा है । प्रभारी सियाराम का कहना है कि अगर गेहूं खरीद लेंगे तो उसे रखेंगे कहां। सोसाइटी के कमरों में पानी भर जाएगा और फिर गेहूं भीग जाएगा। --------------------

गेहूं खरीद का कार्य चल रहा है। अब तक नौ हजार क्विटल गेहूं खरीदा गया है। केंद्रों की जांच की जाएगी अगर कोई केंद्र नहीं खुल रहा है या प्रभारी नहीं पहुंच रहे हैं तो कार्रवाई की जाएगी।

- संतोष कुमार यादव, जिला खाद्य विपणन अधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.