कानपुर: बूथ गठन व विधानसभा संचालन समितियों में भाजपा आगे, कांग्रेस ने अभी तय नहीं की कमेटियां

भाजपा बूथ कमेटियों का सत्यापन अगस्त में कर चुकी है। अब मतदाता सूची के हिसाब से जो बूथ बढ़े हैं उन्हें भी पार्टी ने गठित कर दिया है। दूसरी ओर कांग्रेस अभी बूथ अध्यक्ष ही घोषित कर पाई है उसकी कमेटियां नहीं बनी हैं।

Abhishek AgnihotriPublish:Mon, 22 Nov 2021 08:26 AM (IST) Updated:Mon, 22 Nov 2021 09:49 AM (IST)
कानपुर: बूथ गठन व विधानसभा संचालन समितियों में भाजपा आगे, कांग्रेस ने अभी तय नहीं की कमेटियां
कानपुर: बूथ गठन व विधानसभा संचालन समितियों में भाजपा आगे, कांग्रेस ने अभी तय नहीं की कमेटियां

कानपुर, जागरण संवाददाता। विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे करीब आ रहा है, जिला इकाई की जगह बूथ और विधानसभा कमेटियों की महत्ता बढ़ती जा रही है। बात चाहे मतदाता संवर्धन की हो, मतदान के दिन बस्ते लगाने, बूथ एजेंट बनाने या घरों से मतदाता को निकालने की, हर स्तर पर बूथ कमेटी ही याद आती है। ऐसे में सभी दल बूथ मजबूत करना चाहते हैं लेकिन भाजपा बूथ गठन के मामले में दूसरे दलों से कहीं आगे हैं। अब बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन में खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा आ रहे हैं। 

भाजपा बूथ कमेटियों का सत्यापन अगस्त में कर चुकी है। अब मतदाता सूची के हिसाब से जो बूथ बढ़े हैं, उन्हें भी पार्टी ने गठित कर दिया है। दूसरी ओर कांग्रेस अभी बूथ अध्यक्ष ही घोषित कर पाई है, उसकी कमेटियां नहीं बनी हैं। विधानसभा संचालन समितियों की बात करें तो भाजपा में हर विधानसभा क्षेत्र में 17-17 सदस्यों की कमेटियां बननी हैं। इनमें 16-16 सदस्य हर कमेटी में बना दिए गए हैं। अब सिर्फ प्रत्याशी को जोड़ना रह गया है। हालांकि बिना प्रत्याशी ही संचालन समिति बैठकें शुरू कर चुकी हैं। 

कांग्रेस में बूथ अध्यक्ष बने, लेकिन कमेटियां नहीं: कांग्रेस ने वार्ड अध्यक्ष और बूथ अध्यक्ष बना दिए हैं लेकिन बूथ कमेटियां बनाने का काम अभी चल रहा है। बूथ में दस की कमेटी बननी है। चुनाव संचालन समिति अभी नहीं बनी है। यह प्रत्याशी घोषित होने के बाद बनेगी।

बसपा ने गठित कीं बूथ कमेटियां: बसपा ने सभी बूथों पर कमेटियों का गठन कर लिया है। बूथों के गठन में सोशल इंजीनियरिंग को ध्यान में रखा गया है। बसपा जिलाध्यक्ष रामशंकर कुरील का कहना है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को मतदाता बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

सपा ने बनाईं बूथ कमेटियां: सपा ने सभी बूथ और वार्ड कमेटियां गठित कर दी हैं। साथ ही क्षेत्रवार और मोहल्ला कमेटियां बनाई गई हैं। विधानसभा को 25-25 सेक्टर में बांटा जा रहा है। नगर अध्यक्ष डा. इमरान के मुताबिक पूर्व पदाधिकारियों को पोलिंग स्टेशन पर लगाया जाएगा।