फतेहपुर में बड़ी वारदात : ITI के गार्ड को पीटकर कमरे में बांधा, फिर लूटा लाखों का माल

ट्रांसफार्मर के पीछे हलचल समझ आने पर उसने एक पत्थर उसी दिशा में फेंका। कुछ देर बाद ही पांच लोग ट्रांसफार्मर के पीछे से निकले और गार्ड को पीटना शुरू कर दिया। गार्ड को बंधाकर एक कमरे में डाल दिया। संस्थान की चाभी छीनकर बदमाश कमरों में दाखिल हुए।

Akash DwivediSat, 12 Jun 2021 03:07 PM (IST)
खासमऊ की आइटीआइ मे लूट मामले की जांच करती पुलिस

कानपुर, जेएनएन। पुलिस कितना रात में सक्रिय रहती है इसका ताजा उदाहरण फतेहपुर में देखने को मिला। जहां पर राजकीय औद्योगिक संस्थान (आइटीआइ) में शुक्रवार और शनिवार की रात के बीच पांच बदमाशों ने कुर्सी पर बैठकर पहरा दे रहे गार्ड को पहले जमकर पीटा और फिर बंधक बनाकर एक कमरे डाल दिया। इसके बाद लाखों रुपये का सामान समेटकर ले गए। जानकारी के काफी देर बात पुलिस पहुंची और जांच का आश्वासन देकर अपनी जिम्मेदारी पूरी कर ली। मामले की अभी पीडि़त की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई।

कुत्ते के भौंकने पर गार्ड ने झाड़ी में फेंका पत्थर : हाईवे किनारे स्थित आइटीआइ में रात्रि ड्यूटी में पीआरडी गार्ड मातादीन तैनात था। मुख्य गेट पर वह कुर्सी डाले बैठा था। रात एक बजे करीब पालतू कुत्ता अचानक भौंकने लगा तो उसने इधर-उधर टार्च लगाकर देखा। ट्रांसफार्मर के पीछे हलचल समझ आने पर उसने एक पत्थर उसी दिशा में फेंका। कुछ देर बाद ही पांच लोग ट्रांसफार्मर के पीछे से निकले और गार्ड को पीटना शुरू कर दिया। गार्ड को बंधाकर एक कमरे में डाल दिया। संस्थान की चाभी छीनकर बदमाश कमरों में दाखिल हुए। यहां से डीवीआर, एलसीडी टीवी, इनवर्टर, दो बैटरी, एक फ्रिज, एक फोटो कापी मशीन और अन्य उपकरण लेकर फरार हो गए।

चार पहिया से आए थे वारदात को अंजाम देने : लुटेरे अपने साथ चार पहिया लोडर गाड़ी लेकर आए थे। घंटों का समय बिताने के बाद लुटेरे भोर पहर तीन बजे निकल गए। बनियान से गार्ड को बांधकर लुटेरे चले गए थे। गार्ड की आवाज सुनकर बगल में स्थित दीनदयाल उपाध्याय आवासीय विद्यालय से गार्ड बाहर निकले तो मामले का पता चला। यूपी 112 को घटना की सूचना मिली तो पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा। महिचा चैकी इंचार्ज विवेक सिंह व कोतवाली से पुलिस फोर्स घटनास्थल पर पहुंचा। कोतवाली प्रभारी का कहना था ट्रांसफार्मर तेल चोरी की नीयत से बदमाश दाखिल हुए थे। गार्ड के टोकने पर उसे बंधक बनाकर निकल गए। तहरीर का इंतजार किया जा रहा है। मुकदमा दर्ज कर घटना का खुलासा किया जाएगा।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.