BJP के जनाधार से बौखलाए विरोधी दल इसलिए कर रहे राम मंदिर का विरोध: सांसद सुब्रत पाठक

Ayodhya Ram Mandir Land Dispute भाजपा के प्रदेश महामंत्री व कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक बुधवार दोपहर को वह पार्टी कार्यालय में वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के बढ़ते जनाधार को देखते हुए विरोधी दल डरे हुए हैं।

Shaswat GuptaWed, 16 Jun 2021 09:10 PM (IST)
फर्रुखाबाद में वार्ता करते हुए कन्नौज सांसद सुब्रत पाठक।

फर्रुखाबाद, जेएनएन। Ayodhya Ram Mandir Land Dispute अयोध्या में बन रहे श्रीराम मंदिर को लेकर इन दिनों एक नया घमासान मचा हुआ है। जहां एक ओर विपक्षी पार्टियां सरकार और मंदिर ट्रस्ट पर प्रश्न उठा रही हैं वहीं, भाजपा नेता और तमाम मंत्रीगण भी जवाबा देने में पीछे नहीं है। इस आरोप-प्रत्यारोप के बीच सीएम योगी आदित्यनाथ भी राहुल गांधी के ट्वीट पर उन्हें भ्रम न फैलाने की हिदायत दे चुके हैं। वहीं अब विपक्ष को जवाब दिए जाने की कड़ी में दूसरा नाम जुड़ गया है कन्नौज सांसद सुब्रत पाठक का। जिन्होंने विपक्ष पर माहौल खराब करने का आरोप लगाया।    

भाजपा के काम से डरे विरोधी: भाजपा के प्रदेश महामंत्री व कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक बुधवार दोपहर को वह पार्टी कार्यालय में वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के बढ़ते जनाधार को देखते हुए विरोधी दल डरे हुए हैं। इसीलिए माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। प्रदेश सरकार ने कोरोना काल में जो काम किए, वह काबिल-ए-तारीफ हैं। इस बात को जनता भी भलीभांति समझती है। यही वजह है कि विरोधी बौखलाए हैं।

राशन वितरण पर बोले भाजपा महामंत्री: राशन वितरण की बात को रेखांकित करते हुए सुब्रत पाठक ने कहा कि घोटाले व महंगाई पर सुब्रत पाठक ने कहा कि पिछली सरकारों में राशन बंटता ही नहीं था। भाजपा की सरकार में गरीबों तक राशन पहुंच रहा है। हो सकता है कि कुछ कोटेदार गड़बड़ी कर रहे हैं, जिनकी भी जांच करवाई जाएगी। सदर विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी ने कहा कि जिन दागी कोटेदारों की शिकायतें मिल रही हैं, उन्हें निलंबित किया जा रहा है। 

याद दिलाया सपा का शासनकाल: अयोध्या विवाद पर अपनी बात रखते हुए कन्नौज सांसद बोले कि समाजवादी पार्टी हमेशा से राम मंदिर निर्माण की विरोधी रही है। योगी सरकार द्वारा जनहित में किए जा रहे कार्यों से समाजवादी पार्टी बौखला गई है और ऐसे संवेदनशील मुद्दे उठाकर जनता का ध्यान भटकाना चाहती है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मंदिर निर्माण निरंतर जारी है। मंदिर निर्माण के कार्य में आम जनमानस द्वारा दिए गए चंदे पर समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी ने सवाल उठाकर घृणित कार्य किया है, लेकिन उसके इस कृत्य को जनता माफ नहीं करेगी। जनता को याद है कि सपा सरकार में ही रामभक्तों पर गोलियां चलवाई गई थीं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.