पूर्व सीएम अखिलेश यादव का तंज, कहा- महोबा के लोग भाग्यशाली हैं जो यहां का नाम नहीं बदला

UP Assembly Election 2022 समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि यह नाम बदलने वाली सरकार है अभी नाम बदलने वाले महोबा आए थे भाग्य शाली हो कि यहां का नाम नहीं बदला जब वोट पड़ेगा तो जनता सरकार बदल देगी।

Shaswat GuptaWed, 01 Dec 2021 05:26 PM (IST)
UP Assembly Election 2022 महोबा पहुंचे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव।

महोबा, जागरण संवाददाता। UP Assembly Election 2022  सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को बुंदेलों को साधा। कहा, भाजपा की डबल इंजन वाली सरकार बुंदेलखंड आते-आते फेल हो गई। साढ़े चार वर्ष में कुछ नहीं किया। यहां के 32 लाख लोग गरीब हैं। सरकार ने जनता पर बुलडोजर चलाया है। अब जनता अपना बुलडोजर चलाकर इनका सफाया करेगी। समाजवादी सरकार बनने पर बुंदेलों के लिए तीन गुणा खजाना बढ़ाएंगे। उनके निशाने पर भाजपा, प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी रहे। 

राजकीय इंटर कालेज मैदान में समाजवादी विजय यात्रा के दौरान जनसभा में कहा, हम परिवार वाले हैं, परिवार का दर्द जानते हैं। जिनका कोई परिवार नहीं है, वह आपका दर्द क्या जानेंगे। बीएड, शिक्षामित्रों, टीईटी अभ्यर्थियों को छला गया। पेपर लीक कराए, जिससे नौकरी न देनी पड़े। यह लीक करने वाली सरकार है। समाजवादी रोजगार और नौकरी देंगे। साढ़े चार साल में सरकार के जुमले ही नहीं, विज्ञापन भी झूठे हैं। इन्होंने वादा किया था कि हवाई चप्पल पहनने वाले को हवाई यात्रा कराएंगे, लेकिन किसानों को खाद तक नहीं मिल रही। बेसहारा मवेशी वैसे ही खेतों को साफ कर रहे हैं। किसान रात-रात जागकर फसलें बचाने में जुटे हैं। बुल सड़कों पर घूम रहे हैं। कहा, सरकार बनेगी तो मुफ्त ङ्क्षसचाई के इंतजाम करेंगे। साढ़े चार साल में केवल बर्बादी हुई है। अगर विकास होता तो किसान खुशहाल होते। आने वाला चुनाव समाजवादियों का तो है ही, आपके भविष्य का भी चुनाव है। अपना भविष्य बनाने के लिए साइकिल की मदद करनी है। बोले-बाबा लैपटाप व स्मार्ट फोन चलाना नहीं जानते तो युवाओं को क्या बांटेंगे। यह नाम बदलने वाली सरकार है। जनता उन्हें बदल देगी। यूपी-100 की जगह यूपी-112 करके पुलिस को बर्बाद कर दिया। बांदा के अमन हत्याकांड में दोषियों को सत्ताधारी बचा रहे हैं। सामने मौजूद भारी भीड़ ने भी उनके साथ हुंकार भरी। इसके बाद वह विजय यात्रा लेकर अशोक लाट चौराहा होकर महोबा के लिए निकले। महोबा में उन्होंने कहा, समाजवादियों ने चरखारी में तालाब खोदे थे और जहां पर बुलडोजर चलना चाहिए, वहां चलाया था। लखनऊ में बैठे लोगों को पता लग गया होगा कि आल्हा-ऊदल की धरती से कौन सी आवाजें आ रहीं हैं। सुना है वे महोबा आए थे और कह रहे थे कि तालाब नहीं खोदे गए हैं। हमने बुंदेलखंड के गरीबों को घी, सरसों का तेल, अनाज व समाजवादी पैकेट में खाना भरकर दिया था। इनके पैकेट में वो नहीं था। समाजवादी लोग फिर वही पैकेट देंगे। बुंदेलखंड की योजनाएं सपा सरकार ने दीं, ये लोग उन्हीं का शिलान्यास व उद्घाटन कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री रात्रि विश्राम महोबा में करेंगे। गुरुवार सुबह हेलीकाप्टर से ललितपुर जाएंगे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.